This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

पहाड़ में विस्फोट से New Delhi-Ranchi Rajdhani Express हुई थी दुर्घटनाग्रस्त, रेलवे ने एनएचएआइ को किया सचेत

New Delhi-Ranchi Rajdhani Express धनबाद के एडीआरएम इंफ्रा आशीष झा की अनुवाई में रेलवे अफसरों ने टीम ने घटनास्थल का जायजा लिया। इस दौरान एनएचएआइ के अधिकारियों के साथ रेलवे की बातचीत भी हुई। इस दाैरान यह बात सामने आई कि पत्थरों के लिए पहाड़ में विस्फोट किया गया था।

MritunjaySat, 26 Jun 2021 05:37 PM (IST)
पहाड़ में विस्फोट से New Delhi-Ranchi Rajdhani Express हुई थी दुर्घटनाग्रस्त, रेलवे ने एनएचएआइ को किया सचेत

धनबाद, जेएनएन। पूर्व मध्य रेलवे के धनबाद रेल मंडल के पिपराडीह-बरही रेल मार्ग पर रेलवे ट्रैक पर गिरे पहाड़ों के चट्टान की जांच में बड़ा खुलासा हुआ है। 19 जून की सुबह नई दिल्ली से रांची जा रही राजधानी एक्सप्रेस के सामने पटरी पर पहाड़ों से टूटकर चट्टान गिरे थे। इससे राजधानी एक्सप्रेस दुर्घटना का शिकार होते-होते बची। पहले माना जा रहा था कि बारिश की वजह से पटरी पर चट्टान गिरे हैं। लेकिन जांच में बड़ा खुलासा हुआ है। चट्टान गिरने के कारण विस्फोट बताया जा रहा है। जांच रिपोर्ट आने के बाद धनबाद रेल मंडल प्रबंधन ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ( NHAI) को सचेत किया है। साथ ही भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं।

एडीआरएम की जांच में पता चला कारण 

शुक्रवार को धनबाद रेल मंडल के एडीआरएम इंफ्रा आशीष झा की अनुवाई में रेलवे अफसरों ने टीम ने घटनास्थल का जायजा लिया। इस दौरान एनएचएआइ के अधिकारियों के साथ रेलवे की बातचीत भी हुई। जांच के दाैरान पता चला कि एनएचएआइ की तरफ से फोर लेन रोड का निर्माण किया जा रहा है। इस दाैरान पहाड़ को तोड़ने के लिए विस्फोट किया गया था। इसके बाद एक बड़ा चट्टान पटरी पर गिरा।

सुरक्षा के किए गए उपाय

शुक्रवार को रेलवे और एनएचएआइ के अधिकारियों ने सुरक्षा के मद्देनजर कदम उठाए। भविष्य में रेलवे ट्रैक पर चट्टान न आ जाएं इसके लिए ट्रैक के दोनों किनारे पर रेलवे ने गड्ढे भी खुदवा दिए। रेलवे की तरफ से एनएचएआइ से कहा गया कि भविष्य में विस्फोट न कराया जाए बल्कि पोकलेन से पत्थरों को तोड़कर हटाया जाए। पिछले 19 जून की सुबह इस रेलखंड पर पहाड़ों से खिसक कर चट्टान गिर गए थे जिससे रेल परिचालन बुरी तरह ठप हो गया था। सुबह में ट्रैक पर पत्‍थर गिर जाने से ट्रेन को नुकसान पहुंचा। इस दौरान करीब चार घंटे तक इस ट्रैक पर ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा।

चालक की सावधानी से टला बड़ा हादसा

राजधानी एक्सप्रेस के घाट सेक्शन से गुजरने के दौरान पोल संख्या 415 के पास रांची राजधानी एक्सप्रेस के इंजन पर लैंडस्लाइड के कारण चट्टान का बड़ा टुकड़ा गिर पड़ा। ट्रेन की रफ्तार तेज होने के कारण इंजन चट्टान से टकराते हुए आगे निकल गई। हालांकि आगे बढ़ने के साथ ही चालक ने ट्रेन को सेकंड टनल के पास रोक दिया। हादसे की खबर मिलते ही आनन-फानन में उस ट्रैक पर पीछे से आ रही ट्रेनों को रोकना पड़ा।

 

Edited By Mritunjay

धनबाद में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!