शादी समारोह में नहीं हो रहा शारीरिक दूरी का पालन...जिला प्रशासन की नहीं दिख रही कोई भूमिका

बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार कई नियमों को लागू किया है। इस नियम शादी समारोह के दौरान शारीरिक दूरी व मास्क सहित समारोह में 100 लोगों तक रहने का आदेश जारी किया है।शादी समारोह के दौरान काफी संख्या में लोगों का आवागमन है।

Atul SinghPublish: Sat, 29 Jan 2022 04:02 PM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 04:02 PM (IST)
शादी समारोह में नहीं हो रहा शारीरिक दूरी का पालन...जिला प्रशासन की नहीं दिख रही कोई भूमिका

संवाद सहयोगी, झरिया : बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार कई नियमों को लागू किया है। इस नियम शादी समारोह के दौरान शारीरिक दूरी व मास्क सहित समारोह में 100 लोगों तक रहने का आदेश जारी किया है। इसके बावजूद झरिया के धर्मशाला सहित होटलों में शादी समारोह के दौरान काफी संख्या में लोगों का आवागमन है। समारोह में ना ही शारीरिक दूरी का पालन होता है और ना ही मास्क का प्रयोग किया जा रहा है। झरिया के विवाह भवनों में आसानी से ऐसा नजारा देखा जा सकता है।

यूं तो इन भवनों के आस-पास ही झरिया थाना की गश्ती दल नियमित रूप से गश्ती किया करती है। पर ना ही उनकी नजर विवाह भवन पर पड़ी और ना ही रास्ते में चल रहे बारात पर, प्रशासन की सुस्ती पन का फायदा उठाकर लोग राज्य सरकार के नियमों का उल्लंघन करते जा रही है। ऐसा ही नजारा झरिया में शुक्रवार की रात को देखने को मिला शादी समारोह के दौरान वर पक्ष की ओर से निकली बारात को देखकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है। दरअसल झरिया में निकल रहे बरात में लोगों की संख्या काफी रहती है। फैशन के चक्कर में लोगों ने शारीरिक दूरी व मस्क का भी प्रयोग नहीं किया जा रहा है। इससे कोरोना संक्रमण बढ़ने के खतरा और बढ़ रहा है। यू तो झरिया के दुकानदारों ने राज्य सरकार द्वारा जारी आदेश का पालन करते हुए समय सीमा पर अपने प्रतिष्ठानों को बंद जरूर कर देते है। पर लोगो के मन में इन बारात को देख एक कसक जरूर रहती है। इनका कहना है कि बीच सड़क पर इन बारातियो को पुलिस क्यो नही रोकती। धनबाद जिला में यह नजारा असानी से देखने को मिल रहा है।

नियमों की उड़ रही धज्जियां

झारखंड सरकार के निर्देशों का धज्जियां उड़ता हुआ आसानी से लोग देख सकते है। इसके बावजूद शादी समारोह में सभी नियमों को तार-तार करते जा रहे है। पर इन्हें रोकने के लिए जिला प्रशासन ने कोई अहम भूमिका अभी तक नहीं निभाई है। जिसका फायदा उठाकर विवाह मंडप के कर्मी व वहां पर मौजूद लोग ना ही कोई नियम पालन कर रही है। जिससे लोगों में कोरोना का भय बना हुआ है। विवाह स्थल पर मास्क, शारीरिक दूरी का पालन व हाथ को सेनेटाइज करते रहने का निर्देश है।

Edited By Atul Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept