Indian Railways: वेल्‍लोर जाने वाले यात्रियों को झटका देगी रेलवे, अलेप्पी एक्सप्रेस में घटेंगे जनरल-स्लीपर कोच

सीएमसीएच वेल्लोर जानेवाले सामान्‍य यात्रियों को रेलवे झटका देने वाली है। ट्रेन में स्‍लीपर और जनरल कोच की संख्‍या कम की जाएगी। पुराने पारंपरिक रैक हटाकर ट्रेन को नए चमचमाते एलएचबी रैक से चलाने की तैयारी रेलवे कर रही है लेकिन इससे यात्रियों की जेब पर बोझ बढ़ जाएगा।

Deepak Kumar PandeyPublish: Tue, 05 Jul 2022 09:21 AM (IST)Updated: Tue, 05 Jul 2022 09:21 AM (IST)
Indian Railways: वेल्‍लोर जाने वाले यात्रियों को झटका देगी रेलवे, अलेप्पी एक्सप्रेस में घटेंगे जनरल-स्लीपर कोच

जागरण संवाददाता, धनबाद: धनबाद समेत राज्य के बड़े हिस्से से इलाज कराने के लिए सीएमसीएच वेल्लोर जानेवाले सामान्‍य यात्रियों को रेलवे झटका देने वाली है। ट्रेन में स्‍लीपर और जनरल कोच की संख्‍या कम की जाएगी। वहीं दूसरी ओर पुराने पारंपरिक रैक हटाकर ट्रेन को नए चमचमाते एलएचबी रैक से चलाने की तैयारी रेलवे कर रही है, लेकिन इससे यात्रियों की जेब पर बोझ ढाई गुणा तक अधिक बढ़ जाएगा।

धनबाद कोचिंग डिपो के कर्मचारियों ने अलेप्पी एक्सप्रेस के लिए एलएचबी के तीन रैक तैयार कर लिए हैं। अन्य तीन तीन रैक के लिए जैसे-जैसे कोच मिल रहे हैं, उन्हें भी तैयार किया जा रहा है। एलएचबी रैक से चलने वाली अलेप्पी एक्सप्रेस धनबाद की पहली ऐसी ट्रेन होगी, जिसमें थर्ड एसी इकोनाॅमिक क्लास के कोच भी जुड़ेंगे। इस ट्रेन के यात्री अब थर्ड एसी, सेकेंड एसी और फर्स्ट एसी के साथ-साथ थर्ड एसी इकोनाॅमिक क्लास में भी यात्रा कर सकेंगे। इस क्लास में यात्रा स्लीपर की तुलना में महंगा होगा। स्लीपर के मूल किराए से थर्ड एसी इकोनाॅमिक क्लास का मूल किराया 2.4 गुना ज्यादा चुकाना होगा। वहीं थर्ड एसी की तुलना में लगभग सौ रुपये कम चुकाने होंगे।

एसी के यात्रियों को राहत के साथ ही जनरल और स्लीपर के यात्रियों की परेशानी बढ़ेगी, क्योंकि अलेप्पी एक्सप्रेस एलएचबी रैक के साथ चलते ही रेलवे बोर्ड के नए मानक का पालन करना होगा। जनरल कोच में 50 प्रतिशत कटौती कर दो कोच जोड़े जाएंगे। स्लीपर में वर्तमान में आठ कोच जुड़ रहे हैं। उन्हें भी घटाकर दो कर दिया जाएगा। रेलवे अगर चाहे तो कोच की संख्या में फेरबदल सकती है, लेकिन इसके लिए रेलवे बोर्ड की इजाजत लेनी होगी।

अभी नहीं आए स्लीपर के एलएचबी कोच

अलेप्पी एक्सप्रेस के लिए स्लीपर के एलएचबी कोच अब तक नहीं आए हैं। रेलवे ने रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला से स्लीपर कोच उपलब्ध कराने को पत्राचार किया है। अलेप्पी के छह रैक के लिए 12 स्लीपर कोच की मांग की गई है। स्लीपर कोच आने के बाद ही ट्रेन को एलएचबी रैक से चलाने की तिथि की घोषणा की जाएगी।

थर्ड एसी और थर्ड एसी इकोनाॅमिक कोच में किराए का अंतर

धनबाद से काटपाडी तक का किराया

थर्ड एसी

मूल किराया - 1817 रु

आरक्षण शुल्क - 40 रु

जीएसटी - 93

कुल किराया - 1950 रुपये

थर्ड एसी इकोनाॅमिक कोच

मूल किराया - 1714 रु

आरक्षण शुल्क - 40 रु

जीएसटी - 88

कुल किराया - 1842 रुपये

अभी इतने कोच हैं उपलब्‍ध

जनरल - 4

स्लीपर - 8

थर्ड एसी - 5

सेकेंड एसी - 2

फर्स्ट एसी - 1

पैंट्री कार - 1

एसएलआर - 2

यह होगी नई व्‍यवस्‍था

जनरल - 2

स्लीपर - 2

थर्ड एसी/थर्ड एसी इकोनाॅमिक क्लास - 10

सेकेंड एसी - 4

फर्स्ट एसी या फर्स्ट कम सेकेंड एसी - 1

पैंट्री कार - 1

एलएसएलआरडी - 1

ईओजी - 1

Edited By Deepak Kumar Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept