DRM साहब! धनबाद-सिंदरी पैसेंजर चला दीजिए प्लीज, कॉलेज जाना है...Dhanbad के डीआरएम से फर‍ियाद

धनबाद डीआरएम आशीष बंसल के ट्विटर पर अब ऐसी फरियादें आने लगी हैं। डीआरएम ने ट्वीट करने वालों को निराश नहीं किया है। सिंदरी पैसेंजर चलाने के मामले में उन्होंने आश्वस्त किया है कि मामला नोट कर लिया गया है।

Atul SinghPublish: Fri, 26 Feb 2021 02:43 PM (IST)Updated: Fri, 26 Feb 2021 02:43 PM (IST)
DRM साहब! धनबाद-सिंदरी पैसेंजर चला दीजिए प्लीज, कॉलेज जाना है...Dhanbad के डीआरएम से फर‍ियाद

धनबाद, जेएनएन : डीआरएम साहब! धनबाद -सिंदरी पैसेंजर चलाने की कृपा की जाए। कॉलेज जाने में बहुत दिक्कत हो रही है...। सर...रांची-पटना जनशताब्दी एक्सप्रेस का ठहराव पहाड़पुर में दिया जाए, बहुत पुरानी मांग है...।

धनबाद डीआरएम आशीष बंसल के ट्विटर पर अब ऐसी फरियादें आने लगी हैं। डीआरएम ने ट्वीट करने वालों को निराश नहीं किया है। सिंदरी पैसेंजर चलाने के मामले में उन्होंने आश्वस्त किया है कि मामला नोट कर लिया गया है। इसके साथ ही पहाड़पुर में जनशताब्दी एक्सप्रेस के ठहराव की डिमांड को डीआरएम दानापुर को फॉरवर्ड भी कर दिया।

https://twitter.com/praveen35551786/status/1365141743579013125?s=20" rel="nofollow

कोरोना काल से पहले धनबाद-सिंदरी के बीच दिनभर सिंदरी पैसेंजर कई फेरा लगाती थी। सुबह से रात तक सिंदरी से धनबाद और धनबाद से सिंदरी तक हजारों यात्रियों की आवाजाही होती थी। इनमें ज्यादातर दैनिक मजदूर, नौकरी पेशा और कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र छात्राएं थे जो सिंदरी के साथ-साथ प्रधानखंता,निचितपुर जैसे ग्रामीण क्षेत्र के साथ पाथरडीह और सिंदरी क्षेत्र से आते जाते थे।

पिछले साल 22 मार्च से रेलबंदी के बाद अब तक लगभग एक साल होने को है पर सिंदरी पैसेंजर का एक भी फेरा शुरू नहीं हुआ। मार्च से कॉलेजों में ऑफलाइन पढ़ाई शुरू होनेवाली है। धनबाद के पीके राय कॉलेज, एसएसएलएनटी महला कॉलेज और लॉ कॉलेज में सिंदरी क्षेत्र के छात्रों की संख्या काफी है। अब तक तो ऑनलाइन पढ़ाई होने से उन्हें कभी-कभाी ही आना पड़ता था। पर अब क्लास करने नियमित तौर पर आना होगा। इसलिए उन्होंने धनबाद-सिंदरी पैसेंजर को चलाने के लिए जोर लगाना शुरू कर दिया है। धनबाद में पढ़ने वाले प्रवीण महतो ने डीआरएम को ट्वीट कर सिंदरी पैसेंजर चलाने की गुजारिश की है।

Edited By Atul Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept