सुरक्षा तंत्र को मजबूत व सुदृढ़ करने के लिए मार्डन बन रही पुलिस

अमन राणा चतरा राज्य गठन के बाद जिले का जिस तेजी से विकास हो रहा है। इसके साथ ही अपर

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 11:24 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 11:24 PM (IST)
सुरक्षा तंत्र को मजबूत व सुदृढ़ करने के लिए मार्डन बन रही पुलिस

अमन राणा, चतरा : राज्य गठन के बाद जिले का जिस तेजी से विकास हो रहा है। इसके साथ ही अपराध का ग्राफ भी बढ़ा है। हालांकि सुरक्षा तंत्र को मजबूत किया जा रहा है। पहले की अपेक्षा सुरक्षा तंत्र मजबूत हुआ है। वर्तमान में पुलिस बलों की संख्या आबादी के अनुपात है। शहर के विभिन्न दिशाओं में 24 घंटे पीसीआर वैन गश्त करती है। कम्युनिकेशन नेटवर्क बेहतर स्थिति में है। इसे और मजबूत करने के लिए पुलिस अधीक्षक प्रयासरत है।

पुलिस अधीक्षक के मुताबिक सुरक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए माडर्न बनाया जा रहा है। राज्य गठन से पूर्व चतरा में नक्सलियों का बोलबाला था। यहां अधिकारी आने से भी कतराते थे। नक्सली घटना होने के दो तीन दिन बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंचती थी। लेकिन तंत्र में बदलाव करते हुए प्रतिबंधित नक्सली टीएसपीसी, भाकपा माओवादी, पीएलएफआइ आदि जैसे संगठनों के बड़े-बड़े इनामी नक्सलियों को पकड़कर सलाखों में डालने का कार्य किया है। महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला थाना खोला गया। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक हाइटेक सुरक्षा मजबूत के लिए कई कार्य किए जा रहे है। मेगा पुलिसिग के तहत कम्युनिकेशन नेटवर्क को बेहतर बनाया जा रहा है और पुलिस उपकरणों के आधुनीकीकरण के साथ थानों में शिफ्ट के आधार पर काम चल रहा है। मेगा पुलिसिग से पुलिसकर्मियों पर दवाब, अत्याधुनिक हथियारों की उपलब्धता के साथ कई अन्य कई ऐसी सुविधाएं मिल रही है। जिससे आम लोगों को राहत मिली है। वर्तमान में चतरा पुलिस के लिए वाहन चोरी, लूट सहित घरों में चोरी की बड़ी समस्या बनी हुई है।

:::::::::::::

एएचटीयू का गठन

राज्य स्थापना से पूर्व यहां महिला थाना नही था। जिसके कारण महिलाएं अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए सदर थाना पर निर्भर रहना पड़ता था। महिला थाना गठन होने से महिलाओं को काफी सहूलियत मिल रही है। वही मानव तस्करी, बाल श्रम, जबरन देह व्यापार रोकने के लिए एंटी ह्यूमन ट्रैफिक यूनिट (एएचटीयू) बनाया गया है। जिसमें महिला पदाधिकारी व स्वयंसेवी संस्था के महिला को रखा गया है।

:::::::::::::::::

कंट्रोल रूम में आधुनिक सुविधाएं

सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बेहतर कंट्रोल रूम बनाया गया है। यहां से पुलिस चौक-चौराहों के साथ-साथ महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों पर पैनी नजर रखती है। इसके अलावा शहर में आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए जगह-जगल सीसीटीवी लगाए हुए है। हालांकि पिछले कई महीनों से बेकार पड़े हुए हैं।

:::::::::::::

कोट

जिलेवासियों की सुरक्षा के लिए पुलिस हरसंभव प्रयासरत है। पहले की अपेक्षा चतरा जिला पुलिस और मजबूत हुई है। आमजनों की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए मॉर्डन बन रही है।

राकेश रंजन, एसपी, चतरा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम