जम्मू : सीआइएसएफ, बीएसएफ में भर्ती के लिए युवाओं का प्रदर्शन, कहा-नब्बे प्रतिशत अंक लेने के बाद भी भर्ती नहीं किया

प्रदर्शनी मैदान के बाहर एकत्रित हुए युवाओं ने नारेबाजी की। युवाओं का कहना था कि अगर इतने अंक लेने के बाद भी उन्हें भर्ती का मौका नहीं मिल रहा है तो खुद ही अंदाजा लगा लें कि इस देश में युवाओं की हालत क्या होगी। बेरोजगारी बढ़ती जा रही है।

Publish: Tue, 18 Jan 2022 06:51 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 06:58 AM (IST)
जम्मू : सीआइएसएफ, बीएसएफ में भर्ती के लिए युवाओं का प्रदर्शन, कहा-नब्बे प्रतिशत अंक लेने के बाद भी भर्ती नहीं किया

जागरण संवाददाता, जम्मू : बीएसएफ व सीआइएसफ की परीक्षा में बेहतर करने के बाद भी भर्ती न हो पाने वाले युवाओं ने सोमवार को प्रेस क्लब के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे युवाओं को कहना था कि उन्होंने लिखित परीक्षा में नब्बे प्रतिशत से भी अधिक अंक लिए हैं। इसके बावजूद उन्हें भर्ती नहीं किया गया। वे अपनी मांग को लेकर भाजपा के समक्ष भी कई बार गुहार लगा चुके हैं, लेकिन खुद को युवाओं का हितैषी बताने वाली भाजपा ने भी उनके साथ धोखा किया है।

प्रदर्शनी मैदान के बाहर एकत्रित हुए इन युवाओं ने नारेबाजी की। युवाओं का कहना था कि अगर इतने अंक लेने के बाद भी उन्हें भर्ती का मौका नहीं मिल रहा है तो खुद ही अंदाजा लगा लें कि इस देश में युवाओं की हालत क्या होगी। बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। पढ़ने-लिखने के बाद भी युवाओं के लिए नौकरियां नहीं हैं। नौकरी की मांग करने पर उन्हें डंडे मिल रहे हैं। उनका कहना था कि वे भाजपा कार्यालय के बाहर भी कई दिनों तक धरना देकर बैठे रहे, लेकिन कभी उनकी वहां सुनवाई नहीं हुई। युवाओं का कहना था कि भाजपा केंद्र के साथ बात कर हमारी समस्या का समाधान करवाए और भर्ती संख्या बढ़ाकर उन्हें भी नौकरी में शामिल किया जाए।

युवाओं का कहना है कि उनकी मांगों को मानते हुए उन्हें राहत दी जाए। युवा काफी समय से भर्ती के लिए आस लगाए हुए हैं। अधिकारी उनकी समस्या को लेकर सौहा‌र्द्रपूर्ण तरीके से निर्णय करें, ताकि काफी संख्या में इंतजार में बैठे युवाओं का भला हो सके।

एसएसआरबी की परीक्षा जारी रहेगी : जम्मू-कश्मीर सेवा भर्ती बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि 22 जनवरी तक पहले से अधिसूचित परीक्षाएं जारी रहेंगी। बोर्ड के चेयरमैन खालिद जहांगीर ने कहा कि अभी परीक्षाएं स्थ्ज्ञगित करने की कोई भी योजना नहीं है। हमने सभी परीक्षाएं अभी तक समय पर की हैं। अगली परीक्षा भी कोविड प्रोटोकाल के तहत आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर प्रशासन या फिर आपदा प्रबंधन की ओर से कोई नए दिशा निर्देश आते हैं तो परीक्षा स्थगित करने को लेकर फिर से समीक्षा की जा सकती है। उन्ळोंने यह भी कहा कि 12 हजार के करीब पद जल्दी ही अधिसूचित किए जाएंगे।

एमबीबीएस की परीक्षा स्थगित: जम्मू विश्वविद्यालय ने 22 जनवरी से शुरू हो रही एमबीबीएस प्रथम वर्ष की परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। विश्वविद्यालय की ओर से कहा गया है कि परीक्षाओं की तिथि बाद में फिर से घोषित की जाएगी।

Edited By

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept