जम्मू को नशे के कारोबार की बड़ी मंडी बनाने की साजिश रच रहा पाकिस्तान

नशा तस्कर इस साजिश के तहत जम्मू शहर में अपना नेटवर्क मजबूत करने में जुटे हुए हैं। पुलिस की तरफ से हालांकि इसके खिलाफ सख्ती की जा रही है लेकिन नशा तस्करी के इस धंधे से जुड़े अब तक कोई बड़ा तस्कर नहीं पकड़ा गया है।

Rahul SharmaPublish: Sat, 11 Dec 2021 07:18 AM (IST)Updated: Sat, 11 Dec 2021 07:18 AM (IST)
जम्मू को नशे के कारोबार की बड़ी मंडी बनाने की साजिश रच रहा पाकिस्तान

जम्मू, दिनेश महाजन : जम्मू शहर में जिस तरह से आए दिन नशा तस्करी के मामले सामने आ रहे हैं, उससे साफ है कि तस्कर यहां नशे का जाल फैलाने की साजिश रच रहे हैं। इसके लिए वे जम्मू के युवाओं को अपने निशाने पर ले रहे हैं। अब तक पकड़े गए लोगों में ज्यादातर ऐसे युवा हैं, जिनसे बहुत कम हेराइन की मात्रा बरामद हुई है।

नशा तस्कर इस साजिश के तहत जम्मू शहर में अपना नेटवर्क मजबूत करने में जुटे हुए हैं। पुलिस की तरफ से हालांकि इसके खिलाफ सख्ती की जा रही है, लेकिन नशा तस्करी के इस धंधे से जुड़े अब तक कोई बड़ा तस्कर नहीं पकड़ा गया है। जम्मू में नशे की सप्लाई कश्मीर से हो रही है। जाहिर है इसमें पाकिस्तान के हाथ होने से इन्कार नहीं किया जा सकता है। सीमा पर मुंह की खाने के बाद अब वह देश में नशे का जाल फैला रहा है।

कश्मीर के युवाओं को पहले पाकिस्तान आसानी से बरगला कर आतंकी राह पर ले जाता था, लेकिन अब वहां के युवा भी जागरूक हो रहे हैं। ऐसे में वह वहां नशे का जाल मजबूत कर रहा है। इसके साथ ही कश्मीर से जम्मू में भी नशे की खेप भेजी जा रही है, ताकि यहां के युवाओं को नशे का आदी बनाया जा सके। पाकिस्तान जम्मू को नशे के कारोबार की बड़ी मंडी बनाने की साजिश रच रहा है। इसलिए पुलिस को भी इसी के मुताबिक तैयारी करनी होगी।

पंजाब व हिमाचल से जम्मू पहुंचाई जा रही नशीली दवाइयां : पंजाब व हिमाचल में सक्रिय मादक पदार्थों के तस्कर भी जम्मू में नशीली दवाइयां सप्लाई कर रहे हैं। आलम यह हो चुका है कि अब शहर के गली मुहल्लों में नशा करने वाले युवाओं की संख्या बढ़ती जा रही है। कई युवा इस जहर की चपेट में आने से अपनी जान भी गंवा चुके हैं। यही कारण है कि जम्मू पुलिस ने मादक तस्करी के विरुद्ध जंग छेडऩे का ऐलान कर दिया है। बीते एक माह में जम्मू पुलिस ने भारी मात्रा में नशीले पदार्थों को बरामद कर मादक तस्करी में सक्रिय 44 लोगों को गिरफ्तार कर। विभिन्न पुलिस थानों में 70 मामले एनडीपीएस एक्ट के तहत दर्ज किए है।

छोटे-छोटे पैकेज में हो रही हेरोइन की सप्लाई : शहर में सिर्फ नशीली दवाइयां ही नहीं बल्कि हेरोइन का धंधा भी फल फूल रहा है। नशे की गर्त में फंस चुके युवा हेरोइन के लिए कोई भी कीमत देने को तैयार हैं और फिर इसका सेवन कर धीरे धीरे मौत के मुंह में जा रहे हैं। वहीं, मादक तस्करी पुलिस की सख्ती से बचने के लिए कम संख्या में छोटे-छोटे पैकेटों में मादक पदार्थों की सप्लाई कर रहे हैं।

  • नशे का धंधा करने वालों के खिलाफ पुलिस ने अपनी मुहिम तेज करते हुए कइयों को सलाखों के पीछे पहुंचाया है। पुलिस ने तस्करी के धंधे की कमर तोड़ दी है और आने वाले दिनों में और तस्कर सलाखों के पीछे होंगे। उन्होंने अभिभावकों से भी अपने बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखने की अपील की है। -चंदन कोहली, एसएसपी जम्मू

इस माह अब तक जम्मू में बरामद किए गए मादक पदार्थ

  • 9 दिसंबर : नरवाल और बस स्टैंड से हेरोइन, सतवारी से नशीली दवाइयां और चरस बरामद।
  • 9 दिसंबर: झज्जर कोटली में 20 किलो भुक्की बरामद।
  • 8 दिसंबर : भङ्क्षठडी से हेरोइन बरामद।
  • 8 दिसंबर : नरवाल से गांजा बरामद।
  • 6 दिसंबर : छन्नी हिम्मत से हेरोइन बरामद।
  • 5 दिसंबर : बस स्टैंड से हेरोइन बरामद।
  • 3 दिसंबर : जानीपुर में हेरोइन बरामद।
  • 3 दिसंबर : मनवाल में भुक्की बरामद।
  • 2 दिसंबर : छन्नी में हेरोइन बरामद।
  • 1 दिसंबर : बिश्नाह में हेरोइन व तेजधार हथियार बरामद। 

Edited By Rahul Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम