This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Udhampur: आफत बनकर बरसी बारिश, सामान्य जनजीवन प्रभावित; जम्मू-श्रीनगर हाईवे फिलहाल बंद

सतैनी इलाके में तीन-चार फीट पानी लोगों के घरों के बाहर जमा हो गया है। जिससे लोगों का नुकसान हुआ है। बारिश का पानी भरने से मक्का और धान की फसलों को भी नुकासन हुआ है। डीसी ऊधमपुर खुद स्थिति का जायजा लेने के लिए सतैनी इलाके में पहुंची।

Rahul SharmaTue, 20 Jul 2021 01:18 PM (IST)
Udhampur: आफत बनकर बरसी बारिश, सामान्य जनजीवन प्रभावित; जम्मू-श्रीनगर हाईवे फिलहाल बंद

ऊधमपुर, जागरण संवाददादा: मॉनसून में पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश का दौर मंगलवार तड़के भी जारी रहा। लगातार ही रही बारिश के बीच तड़के से सुबह तक बरसी बरसात ने हर तरफ जलथल कर सामान्य जनजीवन को प्रभावित किया। वहीं जम्मू श्रीनगर हाईवे पर भी बारिश के मद्देनजर ट्रैफिक को नहीं छोड़ा गया है। रामबन जिला में विभिन्न स्थानों पर पहाड़ों से पत्थर गिरने की वजह से हाईवे पर वाहनों की आवाजाही बाधित हुई है। बारिश रुकने के बाद हाईवे पर गिरे पत्थरों को साफ करने का काम जारी है।

सतैनी इलाके में तीन से चार फीट पानी लोगों के घरों के बाहर जमा हो गया है। जिससे लोगों का नुकसान हुआ है। बारिश का पानी भरने से मक्का और धान की फसलों को भी नुकासन हुआ है। डीसी ऊधमपुर खुद स्थिति का जायजा लेने के लिए सतैनी इलाके में पहुंची। विभिन्न विभागों के अधिकारी भी सतैनी में पहुंची है।

डीसी ऊधमपुर ने खुद सतैनी में पहुंच कर पानी निकालने के काम और स्थिति का जायजा लिया। मौजूद तहसीलदार ऊधमपुर बताया कि सतैनी लो लाईन एरिया है, जब भी बारिश होती है, यहां पर ऐसी समस्या हो जाती है। निकास की उचित व्यवस्था न होने के कारण ऐसा है।

बारिश के मद्देजनर बाढ़ नियंत्रण विभाग को पंप लगाने के निर्देश दिए थे और जिला प्रशासन की ओर से रेलवे प्रशासन को भी लिखा जा चुका है। सतैनी में पानी को निकालने के लिए तीन पंप लगा गए हैं। हैं। और ज्यादा स्थिति खराब होती है तो स्तैनी हाई स्कूल खुलवा दिया है, किसी आपत स्थिति में लोगों को वहां पर शिफ्ट किया जा सके। एसडीआरएफ और सिविल डिफेंस भी स्थिति पर नजर रखे है और पूरी तरह से तैयार है।

वहीं सुभाष स्टेडियम के आसपास के इलाके सहित कुछ इलाकों में जलभराव से पानी लोगों के घरों में घुसने से नुकसान की खबरे हैं।

इसके साथ ही नगर परिषद द्वारा शहर के नालों की सफाई कराने के सभी दावों की बोल भी बरसात ने खोल कर रख दी है। एमएच, सैला ताबाल, कल्लर, सहित शहर के हर हिस्से में पानी सड़कों और गलियों में बहता हुआ नजर आया। जाम नालों में निकास की व्यवस्था न होने की वजह से ऐसी स्थिति बनी।

जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर तैनात ट्रैफिक पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि हाईवे पर गिरे मलवे को हटाने का काम जारी है। यदि मौसम साफ रहा तो दोपहर तक मलवा हटाने का काम पूरा कर दिया जाएगा और फंसे हुए वाहनों को छोड़ दिया जाएगा। आपको बता दें कि जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर जारी मरम्मत कार्य को पूरा करने के लिए प्रशासन ने बुधवार को जम्मू-श्रीनगर हाईवे को पूरी तरह बंद रखने की पहले से ही घोषणा कर रखी है।

Edited By: Rahul Sharma

जम्मू में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!