राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित गोविंद शर्मा ने Fit India School Movement में जम्मू-कश्मीर को दिलाई अलग पहचान

जम्मू के कई स्कूलों में अपनी सेवाएं दे चुके गोविंद शर्मा को वर्ष 2018 में फिट इंडिया स्कूल का जम्मू संभाग का संयोजक बनाया गया था। उन्होंने ऐसी गंभीरता से काम किया कि हर कोई उनका दीवाना हो गया। स्कूलों का फिट इंडिया अभियान के साथ पंजीकरण करना शुरू किया।

Vikas AbrolPublish: Sun, 05 Sep 2021 11:18 AM (IST)Updated: Sun, 05 Sep 2021 11:18 AM (IST)
राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित गोविंद शर्मा ने Fit India School Movement में जम्मू-कश्मीर को दिलाई अलग पहचान

जम्मू, रोहित जंडियाल । अच्छा शिक्षक वहीं है जिसे जो भूमिका सौंपी जाए, उसके साथ वे न्याय कर अपने शिष्यों का सही मार्ग पर चलने के योग्य बनाए। शिक्षक गोविंद शर्मा ऐसी ही शख्सियत हैं। आतंकवाद ग्रस्त क्षेत्रों के बच्चों को पढ़ाने से लेकर एनसीसी तक में अपनी मेहनत से उन्होंने हर भूमिका में अपनी अलग छाप छोड़ी। सरकार ने उन्हें राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से भी सम्मानित किया। अब तीन वर्ष से वे फिट इंडिया स्कूल अभियान से जुड़े हैं और इसमें भी उन्होंने न सिर्फ जम्मू-कश्मीर को देश में पहले नंबर पर ला दिया बल्कि कोविड के समय में बच्चों को विभिन्न प्रकार की खेल गतिविधियों में शामिल करवा कर कोविड के समय में स्वस्थ बनाया।

जम्मू के कई स्कूलों में अपनी सेवाएं दे चुके गोविंद शर्मा को वर्ष 2018 में फिट इंडिया स्कूल का जम्मू संभाग का संयोजक बनाया गया था। उन्होंने इसमें ऐसी गंभीरता से काम किया कि हर कोई उनका दीवाना हो गया। स्कूलों का फिट इंडिया अभियान के साथ पंजीकरण करना शुरू किया। उस समय कोविड की पहली लहर भी दस्तक देने लगी, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। 14,262 स्कूलों का पंजीकरण करवा दिया। लेकिन कोविड के समय में स्कूलों में गतिविधियां आयोजित करना आसान नहीं था। आनलाइन गतिविधियां आयोजित करना शुरू की। लेकिन दूरदराज के क्षेत्रों में यह गतिविधियां आयोजित करना आसान नहीं था। धीरे-धीरे कोविड संक्रमण कम हुआ तो उन्होंने इन स्कूलों के शिक्षकों और बच्चों को मानसिक रूप से विभिन्न प्रकार की खेल गतिविधियों में शामिल करना शुरू कर दिया। नतीजा यह हुआ कि इन स्कूलों के बच्चों ने योग करना शुरू कर दिया। पारंपरिक खेल भी आयोजित होने लगे। गोविंद शर्मा के प्रयासों से साल 2020 में 3,50,524 बच्चों ने विभिन्न प्रकार की खेल गतिविधियों में भाग लिया।

फिट इंडिया स्कूल सप्ताह में 2020 में जम्मू-कश्मीर पहले स्थान पर आया। जम्मू-कश्मीर में सबसे अधिक योगदान जम्मू संभाग के स्कूलों का रहा। जम्मू-कश्मीर के इस प्रदर्शन पर केंद्र सरकार, खेल और युवा मामलों, खेल प्राधिकरण, नेशनल फिट इंडिया टीम और जम्मू-कश्मीर सरकार ने गोविद शर्मा की प्रशंसा की। गोविंद शर्माका कहना है कि इस समय भी भारतीय योग संस्थान तथा आयूष के साथ विद्यार्थियों के लिए योग प्रतियोगिताएं आयोजित करवाई जा रही हैं। योग शिविर आयोजित किए गए। अमृत महोत्सव के तहत विद्यार्थियों को स्वस्थ रखने के लिए कई प्रकार की खेल गतिविधियां लगातार आयोजित की जा रही हैं। विद्यार्थी आनलाइन और आफलाइन दोनों ही मोड पर इनमें भाग ले रहे हैं। इनमें इस समय 13,800 स्कूलों के बच्चे भाग ले रहे हैं। बच्चों के अलावा शिक्षक, उनके परिजन भी भाग लेते हैं। यही नहीं बच्चों व शिक्षकों के लिए गोविंद शर्मा ने अब तक 87 वेबीनार और सेमिनार भी आयोजित किए हैं।

गोविंद शर्मा का कहना है कि कोविड के समय में यह गतिविधियां और अहम हो जाती हैं। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए उनके स्वास्थ्य पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है। इसमें शिक्षा निदेशक डा. रवि शंकर शर्मा और स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव बीके सिंह भी पूरा सहयोग दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर को फिर इंडिया मूवमेंट में लगातार नंबर एक पर बनाए रखना ही उनका उद्देश्य है। गोविंद शर्मा को कुछ वर्ष पहले शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान देने के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से राष्ट्रपति ने सम्मानित किया था। उन्हें शिक्षा श्री का सम्मान भी मिला है।

Edited By Vikas Abrol

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept