जम्मू-कश्मीर: हरि सिंह हाई स्ट्रीट में ग्रेनेड हमले करने वाला एक आतंकी दबोचा, पूछताछ जारी

हरि सिंह हाई स्ट्रीट इलाके में आतंकियों ने पुलिस के वाहन को निशाना बनाते हुए ग्रेनेड से हमला किया। गनीमत यह रही है कि ग्रेनेड पुलिस के वाहन से पहले ही कुछ दूरी पर गिरकर फट गया।इससे वहां से गुजर रहे छह राहगीरों सहित एक पुलिस इंस्पेक्टर घायल हो गए।

Vikas AbrolPublish: Tue, 25 Jan 2022 03:56 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 08:29 PM (IST)
जम्मू-कश्मीर: हरि सिंह हाई स्ट्रीट में ग्रेनेड हमले करने वाला एक आतंकी दबोचा, पूछताछ जारी

श्रीनगर, राज्य ब्यूरो । गणतंत्र दिवस से एक दिन पूर्व मंगलवार को आतंकियों ने ग्रीष्मकालीन राजधानी में किए गए कड़े सुरक्षा प्रबंधों की धज्जियां उड़ाते हुए हरि सिंह हाई स्ट्रीट में ग्रेनेड हमला किया। हमले में एक पुलिस इंस्पेक्टर व दो महिलाओं समेत चार लोग जख्मी हुए। हमले में एक पुलिस वाहन समेत चार वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। हमले के फौरन बाद संबंधित सुरक्षा एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों ने हालात की समीक्षा कर ,सुरक्षा चक्र को और मजबूत बनाया।

इस ग्रेनेड हमले में शामिल एक आतंकी को पुलिस और सुरक्षाबलों ने पकड़ने में सफलता हासिल की है। पकड़े गए आतंकी का नाम एजाज वानी है। वह डाउन-टाउन में फतेहकदल का रहने वाला है और श्रीनगर के कुख्यात पत्थरबाजों में गिना जाता रहा है। वह कुछ समय पहले ही आतंकी बना था। फिलहाल, उससे पूछताछ जारी है।

दोनों प्रमुख गणतंत्र दिवस समारोह स्थलों को सुरक्षा एजेंसियों ने पूरी तरह सील कर दिया है। समारोह स्थल और उसके साथ सटे इलाकों में एंटी ड्रोन प्रणाली भी स्थापित की गई है। जम्मू कश्मीर में गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह शरदकालीन राजधानी जम्मू स्थित मौलाना आजाद स्टेडियम में होगा, जहां उपराज्यपाल मनोज सिन्हा परेड की सलामी लेंगे। ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के शेरे कश्मीर स्टेडियम में होने वाले समारोह में उपराज्यपाल के सलाहकार आरआर भटनागर परेड की सलामी लेंगे।

अपने सभी प्रमुख कमांडरों के मारे जाने से हताश आतंकी गणतंत्र दिवस के दौरान हालात बिगाड़ने के लिए किसी विध्वंसकारी गतिविधि को अंजाम देने का मौका तलाश रहे हैं। इस आशय का एक एलर्ट खुफिया एजेंसियों ने पहले ही जारी कर रखा है। पुलिस ने सभी सुरक्षा एजेंसियों के साथ समन्वय में पूरे प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर रखी है। आज दोपहर बाद करीब सवा तीन बजे आतंकियों ने लाल चौक के साथ सटे हरि सिंह हाई स्ट्रीट में से गुजर रहे एक पुलिस वाहन को निशाना बनाते हुए ग्रेनेड से हमला किया। ग्रेनेड पुलिस वाहन से टकराते हुए सड़क पर गिरा और एक जोरदार धमाके के साथ फट गया। धमाका होते ही वहां चीखो पुकार मच गई। लोग जान बचाने के लिए सुरक्षित स्थानों की तरफ भागे। वहां मौजूद सुरक्षाबलों ने तुरंत पूरे इलाके को घेर लिया। कुछ ही देर में सड़क पूरी तरह खाली हो गई और वहां चार लोग जख्मी पड़े थे। इनकी पहचान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में तैनात पुलिस इंस्पेक्टर तनवीर अहमद, चरार ए शरीफ की रहने वाली अस्मत जान और छत्ताबल श्रीनगर की तनवीरा व उसका पति मोहम्मद शफी बट के रुप में हुई है। सभी घायलों को उपचार के लिए एसएमएचएस अस्पताल में भर्ती कराया गया है,जहां उनकी हालत स्थिर बताई जाती है।

ग्रेनेड से हुए धमाके में तीन दुकानों की खिड़कियों के शीशे चटख कर टूट गए। इसके अलावा एक पुलिस वाहन समेत चार वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। पुलिस और सीआरपीएफ ने हमले के फौरन बाद पूरे इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया,लेकिन आतंकियों का कोई सुराग नहीं मिला। श्रीनगर मेंं हुए हमले के बाद पुलिस व अन्य संबधित सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने सुरक्षा प्रबंधों की समीक्षा कर उन्हें और बेहतर बनाया। इस बीच, प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। जम्मू और श्रीनगर में ही नहीं प्रदेश के अन्य सभी प्रमुख शहरों व कस्बों में भी सुरक्षाबलों को पूरी तरह एलर्ट पर रखा गया है। हाइवे, सीमांत इलाकों से आने वाली सड़कों पर विशेष नाके लगाए गए हैं।इस ग्रेनेड हमले में शामिल एक आतंकी को पुलिस और सुरक्षाबलों ने पकड़ने में सफलता हासिल की है। फिलहाल उससे पूछताछ जारी है।

अंतरराष्ट्रीय सीमा और एलओसी पर गश्त बढ़ा दी गई है। सभी चिन्हित स्थानों में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए क्यूआरटी व क्यूएटी तैनात कर दी गई है। सभी होटलो, हाउसबोटों की तलाशी ली जा रही है। सभी सरकारी और सुरक्षा प्रतिष्ठानों की सुरक्ष को भी बढ़ा दिया गया है। सभी अल्पसंख्य बस्तियों में तैनात सुरक्षाबलों को विशेष एहतियात बरतने की हिदायत दी गई है। सिर्फ जम्मू और श्रीनगर में ही नहीं जिला मुख्यालयों में भी गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह स्थल को सुरक्षाबलों ने पूरी तरह सील कर दिए हैं। इन्हें आम जनता के लिए बुधवार की सुबह खोला जाएगा। सीसीटीवी कैमरे भी पूरी तरह सक्रिय बनाए गए हैं। इसके अलावा सादी वर्दी में पुलिस के जवान व अधिकारी विभिन्न इलाकों में तैनात किए गए हैं। उन्होंने बताया कि गणतंत्र दिवस को पूरी तरह सुरक्षित बनाने के लिए विभिन्न इलाकों में ड्रोन भी आस्मां में उड़ाए जा रहे हैं। इसके अलावा एंटी ड्रोन प्रणाली भी दोनों राजधानी शहरों में प्रमुख समारोह स्थलों पर स्थापित रहेगी।

Edited By Vikas Abrol

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept