नड्डी और मैक्लोडगंज बर्फ से गुलजार, पर्यटकों की बढ़ी आमद; पर्यटन कारोबार पर दिखेगा खासा असर

धौलाधार की तलहटी में बसी तिब्बतियों के धार्मिक गुरु दलाईलामा की मैक्लोडगंज में मंगलवार को बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है।

Rajesh SharmaPublish: Wed, 22 Jan 2020 09:00 AM (IST)Updated: Wed, 22 Jan 2020 12:18 PM (IST)
नड्डी और मैक्लोडगंज बर्फ से गुलजार, पर्यटकों की बढ़ी आमद; पर्यटन कारोबार पर दिखेगा खासा असर

धर्मशाला, मोहिंद्र सिंह। धौलाधार की तलहटी में बसी तिब्बतियों के धार्मिक गुरु दलाईलामा की मैक्लोडगंज में मंगलवार को बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है। नड्डी, भागसूनाग व धर्मकोट में बर्फबारी से होटल व्यवसायियों के चेहरे खिल गए हैं। अब उन्हें पर्यटकों का इंतजार है। पर्यटन सीजन न होने के कारण होटल व रेस्टोरेंट समेत ऊपरी क्षेत्र के कारोबारी मंदी के दौर से गुजर थे, लेकिन मौजूदा हिमपात उनके लिए संजीवनी साबित होगा।

अब उन्हें यहां पर्यटकों की संख्या में इजाफा होने की उम्मीद बढ़ी है। इससे होटल कारोबार ही नहीं बल्कि ऊपरी क्षेत्र यानी बर्फ से लगते क्षेत्रों में पर्यटन कारोबार बढऩे की उम्मीद बढ़ी है। हालांकि मंगलवार सुबह मैक्लोडगंज में बर्फबारी की सूचना से कांगड़ा जिला समेत अन्य क्षेत्रों से पर्यटकों ने मैक्लोडगंज का रुख कर लिया। उन्होंने बर्फ पर जमकर अठखेलियां की। मंगलवार को धर्मशाला शहर का अधिकतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। अधिकतम तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है। वहीं न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आई है।

क्‍या कहते हैं पर्यटक और पर्यटन कारोबारी

  • बर्फबारी से शीतलहर लौट आई है। फिर पर्यटकों के मैक्लोडगंज पहुंचने की उम्मीदें भी जगी है। अकसर बर्फबारी को देखने के लिए पर्यटक मैक्लोडगंज पहुंचते है और स्थानीय व्यापारियों और होटल व्यवसायियों को आमदनी होती है। -नरेंद्र शर्मा, दुकानदार डल लेक।
  • अच्छी बर्फबारी पर्यटन सीजन को बढ़ावा देती है। गर्मियों में लोगों की पानी किल्लत से निजात दिलाती है। बर्फबारी मैक्लोडगंज की खूबसूरती को और बढ़ा देती है। इससे पर्यटक यहां का रुख करते हैं और व्यापारियों को लाभ होता है। -नरेश कुमार, धर्मशाला।
  • मैक्लोडगंज सहित नड्डी और धर्मकोट में अधिक बर्फबारी होने के चलते स्थानीय लोगों को दिक्कतों को सामना करना पड़ता है। लोगों को पानी और बिजली समस्या से जूझना पड़ता है। पानी की पाइपें जम जाती है और कई दिनों के बिजली बाधित रहती है। -अजय कुमार।
  • बर्फबारी में मैक्लोडगंज के नड्डी की खूबसूरती और बढ़ जाती है। पहले भी यहां आएं पर इस बार बर्फबारी कैसे होती है वो देखकर बहुत खुशी है। यहां की बर्फबारी पर्यटकों को आकर्षित करती है। -राजू जडेजा, पर्यटक गुजरात।
  • जीवन में पहली बार बर्फ गिरते  देखना एक अलग अनुभव है। मैक्लोडगंज में बर्फबारी की इन यादों को फोटो और वीडियो के माध्यम से अपने दोस्तों को स्वजनों के साथ सोशल मीडिया के माध्यम से अपने आप को रोक नही पाया हूं। -कीर्ति कुमार, पर्यटक गुजरात।
  • बर्फबारी देखना अच्छा लगा है। बर्फ की चांदी जैसी सफेद चादर पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। वहीं बर्फबार के कारण यहां के व्यापार को भी बढ़ावा मिलता है और स्थानीय दुकानदार और व्यापारी मंदी के सीजन में भी पैसे कमाते हैं। -अभी चौधरी, कांगड़ा।

Edited By Rajesh Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम