किसान सम्मान निधि: हिमाचल में 12528 अपात्र किसानों से करोड़ाें की वसूली, सरकारी कर्मचारी भी शामिल

PM Kisan Samman Nidhi Fraud हिमाचल प्रदेश में अब तक 12528 अपात्र किसानों से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के 8.52 करोड़ की वसूली की गई है। इनमें आठ हजार आयकरदाता हैं जबकि 4528 ऐसे हैं जो सरकारी पेंशनधारक या कर्मचारी हैं।

Rajesh Kumar SharmaPublish: Mon, 17 Jan 2022 09:06 AM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 12:25 PM (IST)
किसान सम्मान निधि: हिमाचल में 12528 अपात्र किसानों से करोड़ाें की वसूली, सरकारी कर्मचारी भी शामिल

शिमला, यादवेन्द्र शर्मा। PM Kisan Samman Nidhi Fraud, हिमाचल प्रदेश में अब तक 12,528 अपात्र किसानों से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के 8.52 करोड़ की वसूली की गई है। इनमें आठ हजार आयकरदाता हैं, जबकि 4528 ऐसे हैं जो सरकारी पेंशनधारक या कर्मचारी हैं। इन्हें वेतन या पेंशन से मासिक दस हजार रुपये से अधिक मिलते हैं। प्रदेश में 11,388 आयकरदाता किसानों की पहचान की गई है, जिनसे 11.95 करोड़ रुपये की रिकवरी होनी हैं। अभी तीन हजार से तीन करोड़ रुपये से अधिक की रिकवरी होनी है। इन लोगों को उपायुक्तों ने जिलास्तर पर नोटिस दिए हैं, जिससे वे बैंक खाते में आ चुकी निधि लौटा सकें। इनसे वर्ष 2020 से उपायुक्त रिकवरी कर रहे हैं। योजना के तहत इनके बैंक खाते में 59761 किश्त में यह राशि आई है। राजस्व विभाग ने नवंबर 2020 में सभी उपायुक्तों को निर्देश जारी किए थे कि समयबद्ध रिकवरी की जाए। अभी भी रिकवरी की प्रक्रिया चल रही है।

जांचा जा रहा 30 हजार से अधिक का डाटा

प्रदेश से 9,93,726 लोगों ने किसान सम्मान निधि के लिए पंजीकरण करवाया है। इनमें से 30 हजार से अधिक का डाटा जांचा जा रहा है।

किसान निधि के अपात्र

  • सभी संस्थागत भूमि धारक।
  • किसान परिवार जिसमें इसके एक या अधिक सदस्य, संवैधानिक पदों के पूर्व और वर्तमान धारक, पूर्व और वर्तमान मंत्री, राज्य मंत्री और पूर्व व वर्तमान सदस्य लोकसभा, राज्यसभा, राज्य विधानसभा, राज्य विधानमंडल परिषद, नगर निगमों के पूर्व और वर्तमान महापौर, जिला पंचायतों के वर्तमान व पूर्व अध्यक्ष।
  • केंद्र व राज्य सरकार के सभी सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी, मंत्रालयों, कार्यालयों, विभागों और उनकी क्षेत्रीय इकाइयों, केंद्रीय या राज्य सार्वजनिक उपक्रमों और सरकार के अधीन संलग्न कार्यालय स्वायत्त संस्थाएं तथा नियमित
  • स्थानीय निकायों के कर्मचारी।
  • जिनकी मासिक पेंशन 10,000 रुपये है या अधिक है।
  • पिछले निर्धारण वर्ष में आयकर का भुगतान करने वाले सभी व्यक्ति।
  • पेशेवर जैसे डाक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट व आर्किटेक्ट।

आयकरदाता किसानों से हुई रिकवरी (राशि लाखों में)

  • जिला,अयोग्य किसान,प्राप्त किश्तें,कुल राशि प्राप्त
  • बिलासपुर,1012,5206,104.12
  • चंबा,391,2042,40.84
  • हमीरपुर,915,4720,94.40
  • कांगड़ा,2409,12640,252.80
  • किन्नौर,51,274,5.48
  • कुल्लू,753,4157,83.14
  • लाहुल स्पीति,33,169,3.38
  • मंडी,1889,9850,197.00
  • शिमला,672,3563,71.26
  • सिरमौर,522,2643,52.86
  • सोलन,1498,8015,160.3
  • ऊना,1243,6482,129.64
  • कुल,11388,59761,1195.22

क्‍या कहते हैं निदेशक

भूराजस्व हिमाचल प्रदेश के निदेशक हंसराज चौहान का कहना है अभी तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए 12528 अपात्र किसानों से 8.52 करोड़ की रिकवरी की गई है। इसमें आयकरदाता किसानों के अलावा अन्य सरकारी कर्मचारी व पैंशनधारक भी हैं। जिलास्तर पर रिकवरी की जा रही है।

Edited By Rajesh Kumar Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept