विधायक प्राथमिकता बैठक: डीपीआर न बनने पर कांग्रेस विधायकों ने घेरी सरकार, अनिल शर्मा ने भी दिखाए तेवर

MLA Priority Meeting विधायक प्राथमिकता बैठक में कांग्रेस विधायकों ने सरकार को खूब घेरा है। नेता प्रतिपक्ष एवं हरोली से विधायक मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कांग्रेस विधायकों ने प्राथमिकताएं दी हैं मगर उनकी डीपीआर नहीं नहीं बन रही। यह गंभीर विषय है इस बारे में सरकार को विचार करना चाहिए।

Rajesh Kumar SharmaPublish: Tue, 18 Jan 2022 08:51 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 08:51 AM (IST)
विधायक प्राथमिकता बैठक: डीपीआर न बनने पर कांग्रेस विधायकों ने घेरी सरकार, अनिल शर्मा ने भी दिखाए तेवर

शिमला, जागरण टीम। MLA Priority Meeting, विधायक प्राथमिकता बैठक में कांग्रेस विधायकों ने सरकार को खूब घेरा है। नेता प्रतिपक्ष एवं हरोली से विधायक मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कांग्रेस विधायकों ने प्राथमिकताएं दी हैं, मगर उनकी डीपीआर नहीं नहीं बन रही। यह गंभीर विषय है, इस बारे में सरकार को विचार करना चाहिए। हरोली क्षेत्र में बड़े पैमाने अवैध खनन रोकने के लिए चिंतपूर्णी व हरोली विधानसभा क्षेत्रों के बीच में पुल बनाया जाना चाहिए। तभी अवैध खनन पर रोक लग सकती है।

सरकारी कार्यक्रमों में विपक्ष के विधायक भी बुलाए जाएं

ऊना से कांग्रेस विधायक सतपाल रायजादा ने कहा उद्घाटनों व शिलान्यासों जैसे सरकारी कार्यक्रमों में विपक्ष के विधायकों को बुलाया जाना चाहिए। हमें जनता ने चुनकर भेजा है और ऐसे में विकास कार्यों से जुड़े सार्वजनिक कार्यक्रमों में जनप्रतिनिधि का सम्मान होना चाहिए। स्थानीय विधायकों को ऐसे मौकों पर बुलाया जाना चाहिए। विधायक प्राथमिकता के कार्यों में तेजी लाई जानी चाहिए।

वीरभद्र ने दिए थे 16 करोड़, जयराम भी कर सकते थे ऐसा : अनिल शर्मा

शिमला। मंडी से भाजपा विधायक अनिल शर्मा के सब्र का बांध पीटरहाफ में टूटा और निशाने पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और जल शक्ति मंत्री रहे। विधायक प्राथमिकता बैठक से बाहर आकर पत्रकारों से कहा कि वीरभद्र सिंह ने मुख्यमंत्री रहते हुए मंडी शहर के लिए अलग मद से 16 करोड़ उपलब्ध करवाए थे। यदि वर्तमान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर चाहते तो वह भी ऐसा कर सकते थे। जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह से नाराजगी जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि मुझे कल्याण बोर्ड की बैठक में आने को कहा था, लेकिन मकान आवंटन में भेदभाव किया गया। मुझे पंचायत प्रधान की तरह चार मकान दिए गए। मेरी आठ-आठ सड़कें अब भी नाबार्ड की स्वीकृति मिलने का इंतजार कर रही है। इसी तरह पीएमजीएसवाई में उनके विधानसभा क्षेत्र के साथ अनदेखी हो रही है। मंडी की जनता में जन संपर्क अभियान के दौरान उनके प्रति उत्साह दिखा है, जनता ने इस दौरान कहा कि हमें अनिल शर्मा चाहिए पार्टी नहीं। जिस दिन चुनाव हार जाऊंगा, राजनीति में अंतिम दिन होगा।

Edited By Rajesh Kumar Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept