डाक्टर बनकर समाजसेवा करेगी आशिमा, हांगकांग में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही मनाली विंटर क्वीन

Manali Winter Queen Ashima विंटर क्वीन बनी शिमला जिले के रोहड़ू की बेटी आशिमा चौहान डाक्टर बनकर समाजसेवा करेगी। वह हांगकांग में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही है। बागवान पिता बलवंत व माता पुरुषोत्तम की बेटी आशिमा चौहान मौका मिलने पर सौंदर्य प्रतियोगिताओं में भाग लेती रहेगी।

Virender KumarPublish: Fri, 07 Jan 2022 05:20 PM (IST)Updated: Fri, 07 Jan 2022 05:20 PM (IST)
डाक्टर बनकर समाजसेवा करेगी आशिमा, हांगकांग में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही मनाली विंटर क्वीन

मनाली, जागरण संवाददाता। Manali Winter Queen Ashima, विंटर क्वीन बनी शिमला जिले के रोहड़ू की बेटी आशिमा चौहान डाक्टर बनकर समाजसेवा करेगी। वह हांगकांग में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही है। बागवान पिता बलवंत व माता पुरुषोत्तम की बेटी आशिमा चौहान मौका मिलने पर सौंदर्य प्रतियोगिताओं में भाग लेती रहेगी। इनसे मिलने वाली राशि को वह गरीब बच्चों की पढ़ाई पर खर्च करेंगी। उन्हें वीरवार को मेडिकल से संबंधित परीक्षा देनी थी। साथ ही सौंदर्य प्रतियोगिता का फाइनल राउंड भी था।

बकौल आशिमा चौहान, दोपहर को आनलाइन परीक्षा दी और शाम को सौंदर्य प्रतियोगिता में भाग लेकर एक दिन में दो बाधाओं को पार किया। आशिमा ने कहा कि उन्हें यकीन नहीं हो रहा कि वह मनाली क्वीन बनी है। उन्होंने भावुक होते हुए बताया कि जब माता-पिता को पता चलेगा कि वह विंटर क्वीन चुनी गई है तो वे बहुत खुश होंगे। वह माता-पिता को फोन कर इस बारे में बताना चाहती है, लेकिन सिग्नल न होने से उनसे बात नहीं हो रही। आसिमा ने कहा कि वह माता-पिता को अपना आदर्श मानती हैं। माता के हाथ का बना खाना बहुत पसंद है। डाक्टर बनने के बाद गरीब लोगों की सेवा करना प्राथमिकता है। मौका मिलने पर वह राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय सौंदर्य प्रतियोगिता में भाग लेकर हिमाचल का नाम रोशन करना चाहती हैं। आशिमा ने कहा कि वह मदर टैरसा के पदचिन्हों पर चलना चाहती है। उन्होंने कहा कि बिना कारण घर से न निकलें और कोविड नियमों का पालन करें।

मिस यूनिवर्स बनना चाहती हैं फस्र्ट व सेकंड रनरअप

विंटर क्वीन 2022 की फस्र्ट रनरअप रही मध्य प्रदेश की तपती ठाकुर व सेकंड रनरअप रही डलहौजी की इप्शिता कश्यप का सपना मिस यूनिवर्स बनकर देश का नाम दुनिया में रोशन करना है। दोनों माता-पिता को आदर्श मानती हैं। तपती ठाकुर ने बताया कि मनाली में मिले तोहफे को वह कभी भुला नहीं सकती।

किसान सूरज ठाकुर व गीता ठाकुर के घर जन्मी तपती ठाकुर ने कहा कि वह सौंदर्य प्रतियोगिता में ही भविष्य बनाना चाहती है। इप्शिता कश्यप ने बताया कि उसने 2018 में पहली बार मिस हिमाचल प्रतियोगिता में भाग लिया और टाप 10 में जगह बनाई। सुमन देव कश्यप व इंदिरा कश्यप के घर जन्मी इप्शिता ने बताया कि 2019 में वह मिस चंबा रह चुकी है। उसका सपना मिस यूनिवर्स बनना है।

Edited By Virender Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept