हादसों को दावत दे रही ढलियारा से डाडासीबा सड़क

डाडासीबा से ढलियारा मार्ग बडलठोर डाडासीबा सड़क पर जगह-जगह गड्ढे बने हुए हैं। लोक निर्माण विभाग ने इन गड्ढों को भरने के लिए तारकोल नहीं मिट्टी का प्रयोग किया है। जिस कारण बारिश के कारण यहां वाहन चालक दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं।

Richa RanaPublish: Fri, 28 Jan 2022 12:02 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 12:02 PM (IST)
हादसों को दावत दे रही ढलियारा से डाडासीबा सड़क

डाडासीबा, संवाद सूत्र। डाडासीबा से ढलियारा मार्ग बडलठोर डाडासीबा सड़क पर जगह-जगह गड्ढे बने हुए हैं। लोक निर्माण विभाग ने इन गड्ढों को भरने के लिए तारकोल नहीं मिट्टी का प्रयोग किया है। जिस कारण बारिश के कारण यहां वाहन चालक दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। वहीं विभाग की ओर से मिट्टी डाले जाने की वीडियो भी खूब वायरल हो रही है। ऐसे में स्थानीय लोगों ने लोक निर्माण विभाग की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए हैं।

ढलियारा से चनौर सडक की यहां चनौर, बढल ठोर, बीहन रोडी़ कोडी़, नंगल चौक सडक पर जगह जगह गहरे गड्ढे बने हैं। विभाग की ओर से सड़क की कोई सुध न लेने से यह सड़क पूरी तरह से बदहाल हो चुकी है।

न केवल वाहन चालकों को परेशानी हो रही है बल्कि पैदल चलने वाले लोगों को भी परेशानी से दो चार होना पड़ रहा है। लेकिन समस्या का समाधान अभी तक नहीं हो सका है। जिस कारण लोगों में रोष व्याप्त है। डाडासीबा से लेकर ढलियारा तक शायद ही कोई ऐसा हिस्सा होगा जहां पर सड़क खराब न हो। ऐसे में स्थिति काफी समय से दयनीय बनी हुई है। ग्रामीणों का कहना है कि सरकार व प्रशासन भी यहां पर किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है। सड़क ऐसी बनानी चाहिए जो कम से कम चार साल तक मेंटिनेंस नहीं मांगे।

लोगों ने लोक निर्माण विभाग से मांग की है कि सड़क को जदल्द से जल्द दुरुस्त किया जाए ताकि लोगों को परेशानी से जूझना न पड़े। वहीं, लोनिवि सहायक अभियंता नवदीप सिंह डाडासीबा ने बताया मौसम ठीक होते ही डाडा सीबा से ढलियारा मार्ग जहां तक हमारा कार्य क्षेत्र आता है वहां पर कोलतार डाली जाएगी ताकि वाहन चालकों को परेशानी का सामना न करना पड़े

यह बोले अधिशाषी अभियंता

अधिशाषी अभियंता दिनेश धीमान देहरा ने बताया आजकल सर्दियों का मौसम है मौसम ठीक होते ही सड़क पर कोलतार डाली जाएगी ताकि वाहन चालक व राहगीरों को परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

Edited By Richa Rana

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept