Kangra Corona Update: धर्मशाला जेल के 40 कैदियों समेत जिला में 594 लोग कोरोना संक्रमित

कांगड़ा जिले में मंगलवार को धर्मशाला जेल के 40 कैदियों व पांच जेल कर्मियों समेत 594 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। साथ ही 394 लोगों ने वैश्विक महामारी को मात दी है। जिले में सक्रिय मामलों की संख्या 2262 हो गई है।

Publish: Wed, 19 Jan 2022 04:46 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 09:55 AM (IST)
Kangra Corona Update: धर्मशाला जेल के 40 कैदियों समेत जिला में 594 लोग कोरोना संक्रमित

धर्मशाला, जागरण संवाददाता। कांगड़ा जिले में मंगलवार को धर्मशाला जेल के 40 कैदियों व पांच जेल कर्मियों समेत 594 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। साथ ही 394 लोगों ने वैश्विक महामारी को मात दी है। जिले में सक्रिय मामलों की संख्या 2262 हो गई है। मंगलवार को विभिन्न अस्पतालों व स्वास्थ्य केंद्रों में 25 कर्मी और डाक्टर राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज एवं अस्पताल टांडा के रवि हास्टल की 11 प्रशिक्षु डाक्टर कोरोना संक्रमित पाई गई हैं।

इसके अलावा 29 तिब्बती समुदाय के लोग, एसएसबी सपड़ी के दो जवान, सीएचसी फतेहपुर में चार कर्मी, सिहाल के पांच लोग, पंजाब के सात लोग, मैक्लोडंगज कैंट के सात जवान, आयुर्वेदिक अस्पताल में चार लोग, पीटीसी डरोह के दो जवान, पुलिस थाना नूरपुर के दो जवान, सीएसआइआर पालमपुर में एक, योल कैंट के सात, धर्मशाला अस्पताल का एक स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस लाइन सकोह का एक जवान, दलाई लामा मंदिर का एक कर्मी, एसपी आफिस का एक जवान, सीएमओ रेंजीडेंट का एक व्यक्ति, सीएचसी बैजनाथ का एक कर्मी, सीएचसी धीरा के तीन कर्मी, भवारना थाना का एक जवान व पीएचसी सेराथाना का एक व्यक्ति संक्रमित हुआ है। उधर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कांगड़ा डा. गुरदर्शन गुप्ता ने बताया कि जिले में अब तक कोरोना संक्रमण के 56510 मामले सामने आ चुके हैं और इनमें से 53510 ने वायरस से जंग जीत ली है।

1186 संक्रमितों की कोरोना के कारण मौत हो गई है। टोंगलेन सराह में सोमवार को संक्रमण के एक साथ सात मामले आने के बाद क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बना दिया है। एसडीएम धर्मशाला शिल्पी बेक्टा ने बताया कि कंटेनमेंट जोन में प्रवेश और निकास बिंदु चिह्नित किए गए हैं। कंटनेमेंट जोन से कोई भी व्यक्ति या वाहन आवाजाही नहीं कर सकेगा। चिकित्सा आपात स्थिति और आवश्यक सेवाओं को बनाए रखने के लिए किसी एक मार्ग से आवाजाही की अनुमति दी जाएगी।

आपातकालीन सेवाओं के लिए कंटेनमेंट जोन की परिधि से बाहर जाने वाले सभी व्यक्तियों के नाम, पते और मोबाइल नंबर का विवरण दर्ज किया जाएगा। सभी प्रवेश व निकासी द्वारों पर थर्मल स्कैनिंग की जाएगी तथा परिधि नियंत्रण से बाहर जाने वाले सभी वाहनों को सोडियम हाइपोक्लोराइट से सैनिटाइज किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में कार्यालय और होटल नहीं खोले जाएंगे और न ही कोई निर्माण कार्य हो पाएगा। इस क्षेत्र में 24 जनवरी मध्य रात्रि तक यह व्यवस्था लागू रहेगी।

Edited By

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept