शहीदों की अनुग्रह राशि 20 से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की गई : देवेंद्र सिंह बबली

हरियाणा के विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि राष्ट्रीय ध्वज को फहराते हुए जिला प्रदेश और देशवासियों को 73वें गणतंत्र दिवस की बधाई दी।

JagranPublish: Thu, 27 Jan 2022 05:34 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 05:34 PM (IST)
शहीदों की अनुग्रह राशि 20 से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की गई : देवेंद्र सिंह बबली

जागरण संवाददाता, सोनीपत :

हरियाणा के विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि राष्ट्रीय ध्वज को फहराते हुए जिला, प्रदेश और देशवासियों को 73वें गणतंत्र दिवस की बधाई दी। पुलिस लाइन में आयोजित जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने से पहले मंत्री ने शहीद स्मारक पर जाकर पुष्पचक्र अर्पित करते श्रद्धांजलि दी। इसके उपरांत उन्होंने पुलिस लाइन में तिरंगा फहराते हुए शुभ संदेश दिया।

मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने कहा कि गणतंत्र दिवस के साथ हमारे देशभक्तों के त्याग और बलिदान की एक लंबी गौरवगाथा जुड़ी हुई है। आजादी की लड़ाई में प्रदेश का भी अहम योगदान रहा है। आज भी हरियाणा के नौजवान सेना में भर्ती होना अपनी शान समझते हैं। यही कारण है कि आज भारतीय सेना का हर दसवां जवान हरियाणा से है। हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों के कठोर संघर्ष से हमें आजादी मिली तो वहीं दिन-रात मुस्तैदी से देश की सीमाओं की निगहबानी करने वाले वीर सैनिकों के कारण हमारी यह आजादी सुरक्षित है। आज पूरा देश उनका ऋणी है। उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए हमने युद्ध के दौरान शहीद हुए हरियाणा के सैनिकों और अर्ध-सैनिक बलों के जवानों की अनुग्रह राशि 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की है। युद्ध या आतंकवादियों से मुठभेड़ या किसी अन्य घटना के दौरान घायल हुए सैनिकों और अर्ध-सैनिक बलों के जवानों की अनुग्रह राशि निश्शक्ता के आधार पर बढ़ाकर 35 लाख रुपये, 25 लाख रुपये और 15 लाख रुपये की गई है। सरकार ने सैनिकों के कल्याण के लिए आठ जिलों में एकीकृत सैनिक सदन बनाने का निर्णय लिया है। इन पर करीब 100 करोड़ रुपये की लागत आएगी। पंचायत मंत्री ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के सशक्तिकरण के लिए ग्राम विकास विभाग की सभी योजनाएं जिला परिषदों को हस्तांतरित की हैं। पंचायत को गांव में शराब का ठेका खोलने या न खोलने की शक्तियां भी दी हैं। जिला परिषद के अध्यक्ष को डीआरडीए का चेयरमैन बनाया है। मतदाताओं को 'राइट टू रिकाल' दिया है। हमने पंचायतीराज संस्थाओं के प्रतिनिधियों को पेंशन देकर उनका सम्मान बढ़ाया है। इसी प्रकार सभी नगर निकायों को शक्तियों के विकेंद्रीकरण के लिए कई कदम उठाए हैं। इस पूर्व उन्होंने पुलिस लाइन परिसर में पौधारोपण किया और पक्षी विहार में पक्षियों को दाना देते हुए मानवता का संदेश दिया।

उपायुक्त ललित सिवाच ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया। समारोह में विभिन्न विभागों की बेहतरीन झांकियां भी निकाली गई। सबसे पहले हरियाणा रोडवेज की झांकी निकाली गई, जिसमें विभिन्न प्रकार की दी जाने वाली सुविधाओं को दिखाया गया। इनके पीछे शुगर मिल सोनीपत, महिला एवं बाल विकास विभाग के तहत वन स्टाप सेंटर, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, जिला परिषद, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की झांकी, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग हरेड़ा, उद्यान विभाग, वन विभाग, आयुष विभाग, स्वास्थ्य विभाग और पशुपालन एवं डेयरी विभाग की झांकियां निकाली गई। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पंचायत मंत्री की पत्नी सुनीता बबली, विधायक मोहनलाल बड़ौली, निर्मल चौधरी, पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुभाष मेहला, अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश संजीव आर्य, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सौरभ गुप्ता, पूर्व विधायक पदम सिंह दहिया, चेयरमैन पवन खरखौदा, एएसपी उपासना, एएसपी निकिता खट्टर, नगराधीश द्विजा आदि मौजूद थे।

विकास एवं पंचायत मंत्री ने ली परेड की सलामी

विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने परेड का निरीक्षण करने उपरांत परेड की सलामी ली। परेड कमांडर के रूप में एएसपी दीप्ति गर्ग परेड की कमान संभाल रही थी, जिनके पीछे पुलिस के जवानों की टुकड़ी सीना तान कर कदमताल कर रही थी। पुलिस की टुकड़ी का नेतृत्व पीएसआइ राहुल कुमार कर रहे थे। इनके पीछे पीएसआइ अंजलि के नेतृत्व में महिला पुलिस की टुकड़ी और एसआइ बलराज सिंह के नेतृत्व में होमगार्ड के जवान कदमताल कर रहे थे। इनके पीछे सीनियर अंडर आफिसर हिमानी कादयान के नेतृत्व में एनसीसी सीनियर विग तथा कैडेट रोहित के नेतृत्व में एनसीसी सीनियर डिवीजन की टुकड़ियों ने कदम से कदम मिलाये।

देशभक्ति के रंगों से सराबोर हुआ समारोह

मार्च पास्ट के बाद देशभक्ति से ओतप्रोत एवं भारतीय संस्कृति-सभ्यता समेटे सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी गई। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अंतर्गत मुरथल अड्डा स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं ने हरियाणवी समूह नृत्य, जैन विद्या मंदिर के छात्र-छात्राओं ने देशभक्ति की भावनाओं को समूह नृत्य, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अकबरपुर बारोटा की छात्राओं ने हिदी व पंजाबी की मिश्रित प्रस्तुति दी, शिवा शिक्षा सदन की छात्राओं ने गुजरात को समर्पित प्रस्तुति में डांडिया का समावेश करते हुए पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों का समापन राष्ट्रगान के साथ किया गया।

स्वतंत्रता सेनानियों और युद्ध वीरांगनाओं को घर जाकर किया सम्मानित

कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से गणतंत्र दिवस पर युद्ध वीरांगनाओ, स्वतंत्रता सेनानियों व उनकी वीरांगनाओं को उनके घर पर ही जाकर सम्मानित किया गया। उपायुक्त ललित सिवाच ने बताया कि युद्ध वीरांगनाओं को सम्मानित करने का कार्य सैनिक एवं अर्धसैनिक कल्याण बोर्ड के नियुक्त कल्याण अधिकारी बीएस बधवार की देखरेख में किया गया। इसी प्रकार स्वतंत्रता सेनानियों और उनकी वीरांगनाओं को जिला प्रशासन की टीम ने घर-घर जाकर सम्मानित किया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम