थोड़ी सी व्यवस्था बिगड़ी तो जाम के झाम में उलझ सकता है शहर

शहर के पूर्व और पश्चिमी भाग को जोड़ने वाले गोहाना रोड आरओबी निर्माण कार्य के चलते 15 दिन तक बंद हो चुका है।

JagranPublish: Sun, 16 Jan 2022 06:52 PM (IST)Updated: Sun, 16 Jan 2022 06:52 PM (IST)
थोड़ी सी व्यवस्था बिगड़ी तो जाम के झाम में उलझ सकता है शहर

जागरण संवाददाता, सोनीपत : शहर के पूर्व और पश्चिमी भाग को जोड़ने वाले गोहाना रोड आरओबी निर्माण कार्य के चलते 15 दिन तक बंद हो चुका है। गोहाना रोड फ्लाईओवर की मरम्मत के चलते शहर के कई मार्ग बंद हो गए है जबकि कई मार्ग डायवर्ट किए गए हैं। ऐसे में लोगों को लंबा घूमकर अपने गंतव्य तक पहुंचना पड़ा। पुलिस को भी ट्रैफिक कंट्रोल करने में दिक्कत उठानी पड़ी। रविवार को अपेक्षाकृत कम वाहन सड़कों पर निकलते है। सोमवार को वर्किंग डे शहर के लिए आफत लेकर आ सकता है। शहर के ज्यादातर कार्यालय लाइन पार क्षेत्र में है। ऐसे में शहर वाहन चालक जाम के झाम में फंस सकते हैं। यह स्थिति शहर में 15 दिन रह सकती है। हालांकि अधिकारी जल्द से जल्द मरम्मत कार्य कर यातायात व्यवस्था को सुचारु करने की बात कह रहे हैं।

गोहाना रोड फ्लाईओवर का निर्माण कार्य छह साल पहले पीडब्ल्यूडी द्वारा करीब 24 करोड़ रुपये की लागत से किया था। करीब 20 दिन पहले फ्लाईओवर की रिटेनिग वाल के पास सड़क धंस गई थी। शुरुआती चरण में इस पर ध्यान नहीं दिया, जिसके बाद कई दिन बारिश हो गई। बारिश का पानी अंदर चले जाने के कारण मिट्टी का ज्यादा कटाव हो गया। हादसे की आशंका के बाद आसपास के लोगों ने अधिकारियों को इसकी सूचना दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए उपायुक्त ललित सिवाच ने खुद मौके का निरीक्षण कर अधिकारियों की आपातकालीन बैठक बुलाई थी, जिसमें पीडब्ल्यूडी, एनएचएआइ और नगर निगम के अधिकारियों की कमेटी गठित कर मरम्मत करवाने के निर्देश दिए थे। एक्सपर्ट इंजीनियर की टीम ने मौका देखकर कमेटी को सुझाव दिया था। इसके बाद अब इसकी मरम्मत शुरू हुई है। रेलवे लाइन के आर-पार जाने के लिए शहर के अंदर रोहतक रोड आरओबी, गोहाना रोड आरओबी व शनि मंदिर अंडरपास ही प्रमुख है। रोहतक रोड आरओबी जलभराव से गड्ढे बने हैं और फिलहाल कच्चा मैटेरियल डालकर काम चलाया है। ये रूट किए गए हैं तय :

बस स्टैंड को केंद्र बिदु मानकर शहर रूट डायवर्ट किए गए है। बस स्टैंड से गोहाना की ओर जाने वाले गीता भवन चौक से रेलवे स्टेशन के आगे से निकल कर सारंग रोड होते हुए शनि मंदिर अंडरब्रिज के नीचे से अपने गंतव्य की ओर जा सकते है। मिशन चौक और मंडी क्षेत्र की ओर जाने वाले आरओबी के ऊपर से उस ओर उतर सकते हैं। रोहतक रोड की ओर जाने वाले वाहन सेक्टर-14 से महाराणा प्रताप चौक से आइटीआइ चौक होकर रोहतक रोड आरओबी पर चढ़ सकते हैं। सेक्टर-14 रोड को वन-वे किया गया है। रेलवे स्टेशन से गीता भवन रोड पर नो एंट्री :

रेलवे स्टेशन और सारंग रोड की ओर से घूमकर आने वाले वाहनों को गीता भवन रोड पर नहीं जाने दिया जाएगा। उनको सुभाष चौक से घूमकर ओल्ड डीसी रोड या एटलस रोड से आइटीआइ चौक की ओर निकलना होगा। ये रास्ते हो सकते हैं गोहाना रोड आरओबी के विकल्प :

- गोहाना की ओर से एनएच-44 पर मुरथल ओर जाने वाले वाले वाहन चालक शहर में आने के बजाय गोहाना रोड बाइपास का प्रयोग कर सकते हैं।

- शहर में गोहाना रोड, महलाना रोड क्षेत्र की कालोनियों के वासी नागरिक अस्पताल और बस अड्डा की ओर जाने के लिए शनि मंदिर अंडरब्रिज का विकल्प तलाश सकते हैं। यहां जाम बढ़ता है तो गोहाना रोड चौक से इंडियन कालोनी साउथ प्वाइंट के पास आरोबी वाया जटवाड़ा, सब्जी मंडी होते हुए मुरथल रोड पर या जटवाड़ा से पुरखास अड्डा होते हुए गीता भवन चौक पहुंच सकते हैं।

-काठ मंडी, वेस्ट रामनगर, सूरी पंप वाली सड़क, ककरोई रोड, सेक्टर 23 वासी रोहतक रोड आरओबी से बाजार की तरफ आ सकते हैं।

-शहर से लघुसचिवालय की तरफ जाने के लिए मुरथल अड्डा, सब्जी मंडी, जटवाड़ा के रास्ते निकला जा सकता है।

ठेकेदार को जल्द से जल्द काम पूरा करने को कहा गया है। काम करने की समय अवधि भी बढ़ाई गई है। उम्मीद है अगले 10 दिन में आरओबी का काम पूरा कर लिया जाएगा।

-आदित्य देशवाल, एक्सईएन पीडब्ल्यूडी सोनीपत। फ्लाईओवर की मरम्मत के चलते रूट डायवर्ट किए गए हैं। सोमवार को वर्किंग डे होने के चलते थोड़ी दिक्कत हो सकती है। यदि लोग व्यवस्था बनाए रखे तो इससे बचा जा सकता है। तय रूट के हिसाब से ही चलें ताकि परेशानी का सामना न करना पड़े। लोगों से अपील है कि बड़े वाहनों का कम प्रयोग करें, ताकि जाम की स्थिति से बचा जा सके।

अरुण कुमार, ट्रैफिक प्रभारी, शहर

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept