सुखमणी साहिब पाठ के आयोजन को लेकर हुई चर्चा

पंजाबी समाज (रजि.) की तरफ से निर्माणाधीन पंजाबी भवन में 28 नवंबर को सुबह साढ़े नौ बजे सुखमणी साहिब पाठ भजन कीर्तन और लंगर प्रसाद का आयोजन किया जाएगा।

JagranPublish: Thu, 25 Nov 2021 06:59 PM (IST)Updated: Thu, 25 Nov 2021 06:59 PM (IST)
सुखमणी साहिब पाठ के आयोजन को लेकर हुई चर्चा

जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: पंजाबी समाज (रजि.) की तरफ से निर्माणाधीन पंजाबी भवन में 28 नवंबर को सुबह साढ़े नौ बजे सुखमणी साहिब पाठ, भजन कीर्तन और लंगर प्रसाद का आयोजन किया जाएगा। इसको लेकर पंजाबी समाज के सदस्यों की तरफ से पंजाबी भवन में बृहस्पतिवार को बैठक की गई। इसमें पंजाबी भवन में चल रही विभिन्न सामाजिक गतिविधियों के बारे में विस्तार से चर्चा हुई।

समाज के प्रधान एडवोकेट सचिन मलिक ने कहा कि सामाजिक सौहार्द बढ़ाने के लिए पाठ का आयोजन किया गया जा रहा है, जिसमें समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों को आमंत्रित किया जाएगा। इस आयोजन के संदर्भ में पदाधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी गई। समाज के प्रेस प्रवक्ता डा. नवीन अदलखा ने बताया कि पंजाबी समाज रेवाड़ी द्वारा संचालित वैवाहिक सेवा में पिछले एक वर्ष में 1200 बच्चों के नाम शादियों के लिए रजिस्टर्ड हुए हैं और बहुत से बच्चों की शादियां इस माध्यम से हुई है। उन्होंने समाज के सभी लोगों से इस निश्शुल्क सेवा का लाभ उठाने का आह्वान किया। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि इसी भवन में एक निशुल्क बैंक भी चलाया जा रहा है, जिसमें किसी भी बिरादरी के बच्चे किताबें ले सकते हैं। इस सेवा का 150 से अधिक बच्चों ने लाभ उठाया है। इस बैठक में चरनजीत चावला, पीयूष अरोड़ा, नरेंद्र गुगनानी, देवेंद्र अरोड़ा, लक्की परनामी, प्रिस ग्रोवर, सतीश शर्मा, संजीव दुवा, श्याम चुग, शकन चांदना, धीरज मदान, संजय गेरा, एमएल तनेजा, दीपक वधावन, भीम गुलाटी, ओमप्रकाश खुराना, बीडी मलिक, कसूरी लाल गुलाटी, भीम मखीजा, सुरेंद्र अरोड़ा, सुनील ठकराल, रवि ठकराल, नरेश कालरा, हरीश मलिक, मोंटी अरोड़ा, दौलतराम चुग, डा. एससी गेरा, विशाल चक्रवर्ती, नरेंद्र मेहंदीरत्ता, वीना धींगड़ा, नरेंद्र बतरा आदि मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept