This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

झपटमार गिरोह का सरदार गिरफ्तार, कई राज्यों में की वारदात

आशीष अंतरराज्यीय झपटमार गिरोह का सरगना है। उसके खिलाफ दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब में झपटमारी व नशीले पदार्थो की तस्करी के 13 मामले दर्ज हैं।

Ankit KumarTue, 09 May 2017 12:40 PM (IST)
झपटमार गिरोह का सरदार गिरफ्तार, कई राज्यों में की वारदात

जेएनएन, पानीपत।17 दिन पहले सेक्टर 11 में उद्यमी की पत्नी से 1.09 लाख रुपये झपटने के आरोपी उत्तर प्रदेश के जिला मुरादाबाद की आदर्श कालोनी के आशीष उर्फ होल्लू उर्फ भदौरिया को तमंचे व जिंदा कारतूस सहित गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को सोशल मीडिया की मदद से काबू किया गया है। अदालत में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर लिया है।

आशीष अंतरराज्यीय झपटमार गिरोह का सरगना है। उसके खिलाफ दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब में झपटमारी व नशीले पदार्थो की तस्करी के 13 मामले दर्ज हैं। वह करनाल व कुरुक्षेत्र में झपटमारी के मामले में भगोड़ा है। पुलिस दो और झपटमारों की तलाश में जुटी है।

यह भी पढ़ें: दरिंदगी: नशे में धुत पड़ोसी ने सवा साल की बच्ची से किया दुष्कर्म

सीआइए-2 प्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि सेक्टर 11 हाउसिंग बोर्ड कालोनी की रेनू पत्नी अनिल मित्तल ने सब्जी मंडी स्थित पीएनबी से एक लाख रुपये निकलवाए थे। आशीष ने बैंक रेकी की और बाहर उसके गुर्गे सोनू और सुशील खड़े थे। तीनों ने बाइक से रेनू का पीछा किया। सेक्टर 11 के बतरा डेंटल क्लीनिक के पास आशीष ने रेनू के हाथ से बैग झपटा और अपने गुर्गे सोनू के साथ बाइक पर बैठकर फरार हो गया।

आरोपी की सीसीटीवी से तस्वीर मिली। इस तस्वीर को सोशल रेनू ने मीडिया पर डाल दिया। शनिवार शाम उन्हें सूचना मिली कि जिस झपटमार की तस्वीर वाट्सएप पर वायरल है, वह जलालपुर मोड़ पर वारदात की फिराक में है। तभी आशीष को तमंचा व जिंदा कारतूस सहित गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने सैलून में पकड़ा सेक्स रैकेट, पांच युवतियों सहित सात काबू

एक महीना पहले चंडीगढ़ से खरीदी थी बाइक

आशीष तीन बच्चों का पिता है। उसके गुर्गे सोनू ने एक महीना पहले चंडीगढ़ के डीलर से पंजाब के रोपड़ के नंबर की पल्सर खरीदी थी। उसके खिलाफ कैथल में आठ, हरिद्वार, पंजाब के रूपनगर, कुरुक्षेत्र के पिहोवा व करनाल में झपटमारी के एक-एक मामले दर्ज हैं। आशीष पिछले 11 साल से झपटमारी कर रहा है। अगर वह किसी जिले में पुलिस की गिरफ्त में आ जाता है तो वह जमानत पर छूटने पर उस जिले में वारदात कई महीने बाद करता था।

में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!