Omicron: ओमिक्रोन की दस्‍तक, हरियाणा में स्‍कूल खुले रहेंगे या होंगे बंद, पढ़ें ये खबर

देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के केस मिले हैं। कोरोना संक्रमण की वजह शिक्षा मंत्री जल्‍द कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने कहा कि स्‍कूलों को सतर्कता बरतने के लिए दिशा निर्देश दिए जा रहे हैं।

Anurag ShuklaPublish: Thu, 02 Dec 2021 06:43 PM (IST)Updated: Thu, 02 Dec 2021 06:43 PM (IST)
Omicron: ओमिक्रोन की दस्‍तक, हरियाणा में स्‍कूल खुले रहेंगे या होंगे बंद, पढ़ें ये खबर

कुरुक्षेत्र, जागरण संवाददाता। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन की दस्तक के बाद स्कूल खुलने को लेकर शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने स्थिति स्पष्ट कर दी है। उन्‍होंने कहा, नए वैरिएंट को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरती जाएगी। कोरोना महामारी की दूसरी के बाद स्‍कूल खुलने के दौरान दिशा निर्देश दिए गए थे। साथ ही सख्‍ती से पालन करने को कहा गया था। अब नए वैरिएंट की दस्‍तक के बाद जल्‍द ही फैसला लिया जाएगा। 

शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने यह बात वीरवार को अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 के लिए ब्रह्मसरोपर पर मीडिया सेंटर का उद्घाटन करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होंने कहा कि कोरोना लगभग खत्म होने को है। प्रदेश व देश में स्थिति नियंत्रण में है। प्रदेश सरकार ने एक दिसंबर से सभी स्कूल पूरी कैपेसिटी और पूरे समय के लिए खोलने की रणनीति बनाई थी।

इस बीच कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रोन कई देशों में आ गया। इस खतरे को चौकस होते हुए सरकार ने अभी आधी कैपेसिटी और पूर्व की तरह स्कूल चलते रहने का फैसला लिया गया था। अभी दस दिन तक नए वैरिएंट को देखा जाएगा। प्रदेश व देश में इसकी स्थिति नियंत्रण में रहने के बाद स्कूलों को लेकर आगामी फैसले लिए जाएंगे। तब तक पहले ही तरह कक्षाएं लगाई जाएंगी।

अभिभावक और विद्यार्थी भी चिंतित थे

कोरोना के चलते मार्च 2020 से स्कूल और कालेज बंद हैं। विद्यार्थियों की आनलाइन पढ़ाई की जा रही है। सरकारी व प्राइवेट स्कूलों को पूरी कैपेसिटी के साथ पूरा समय खोलने का फैसला लिया था। शिक्षा विभाग ने इसके लिए सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र भी जारी कर दिया था। विद्यार्थियों ने स्कूल में आफलाइन पढ़ाई करने की तैयारी शुरू कर दी थी। इसी बीच सरकार ने स्कूल खोलने को लेकर अपना फैसला वापस ले लिया है। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में भी स्नातक और स्नातकोत्तर की प्रथम सेमेस्टर की आफलाइन कक्षाएं शुरू कर दी थी। होस्टल के एक कमरे में एक ही विद्यार्थी को रहने की परमिशन दी गई है।

Edited By Anurag Shukla

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept