महिला ने सहेली के साथ मिलकर बिछाया हनीट्रैप, अश्‍लील वीडियो बना वसूले 1.13 लाख

पानीपत में हनीट्रैप का मामला सामने आया। मामला कच्चा कैंप का है। साजिश के तहत तहसील कैंप के एक युवक से महिला ने संंबंध बनाए फिर सहेली से संबंध बनावाकर वीडियो बना ली। पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया।

Anurag ShuklaPublish: Tue, 17 May 2022 06:47 PM (IST)Updated: Tue, 17 May 2022 06:47 PM (IST)
महिला ने सहेली के साथ मिलकर बिछाया हनीट्रैप, अश्‍लील वीडियो बना वसूले 1.13 लाख

पानीपत, जागरण संवाददाता। तहसील कैंप के एक युवक को हनीट्रैप में फंसाकर दो दंपती व एक युवती ने 1.13 लाख रुपये वसूल लिए। आरोपितों ने पीड़ित की वीडियो वायरल कर व दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर चार लाख रुपये की मांग की। पीड़ित ने रुपये देकर पुलिस को शिकायत कर दी।

क्राइम इनवेस्टिगेशन एजेंसी (सीआइए-थ्री) पुलिस आरोपित तीन महिलाओं व दो पुरुषों को गिरफ्तार कर 25 हजार रुपये बरामद किए। पुलिस ने पांचों आरोपितों अदालत में पेश किया, जहां से महिलाओं को जेल भेज दिया गया। जबकि आरोपित दो पुरुषों को दो दिन की रिमांड पर लिया गया है। रिमांड के दौरान पुलिस आरोपितों से पूछताछ करेगी उन्होंने और कितने लोगों से हनी ट्रैप में फंसाकर रुपये वसूले हैं।

सहेली से संबंध बनवाकर वीडियो बना ली

तहसील कैंप के युवक ने 14 मई को माडल टाउन थाना पुलिस को शिकायत दी कि तीन साल से उसकी शहर की एक महिला के साथ जान पहचान थी। दोनों ने रजामंदी से दो बार संबंध बनाए। महिला ने उससे 65 हजार रुपए ऐंठ लिए। कुछ समय पहले महिला ने उसका मोबाइल नंबर अपनी सहेली को दे दिया। सहेली पिछले एक माह से उसके साथ फोन पर बातचीत करने के साथ ही वाट्सएप पर चैट कर रही थी। उसी महिला ने 13 मई को कच्चा कैंप में उसको अपने घर पर बुला लिया और संबंध बनाए।

पहले वाली महिला इस दौरान अपने पति व अपनी एक अन्य सहेली व सहेली के पति को साथ लेकर मौके पर आई और मारपीट कर उसकी आपत्तिजनक हालत में वीडियो बना ली। आरोपियों ने उससे मौके पर चार डेबिट कार्ड, गाड़ी की आरसी, आधार कार्ड व 20 हजार रुपए छीन लिए और झूठे केस में फंसाने की धमकी देते हुए 14 मई को 4 लाख रुपए देने की मांग की। महिला के पति ने पीड़ित के खाते से 93 हजार रुपये ट्रांसफर किए।

पीड़ित ने बताया कि पहले वाली महिला के पति ने क्यूआर कोड के जरिए उसके फोन से 93 हजार रुपए ट्रांसफर कर लिए। आरोपितों कि खिलाफ थाना माडल टाउन पुलिस ने मामला दर्ज किया।

आरोपितों की पार्क में हुई पहचान, वहीं पर रची साजिश

पुलिस ने आरोपितों से पूछताछ की तो वारदात की परतें खुलती चली गई। आरोपितों महिला ने बताया कि उसकी तीन साल पहले अंकित नामक युवक से शादी हुई थी। शादी के कुछ महीने बाद अंकित को पता चल गया था कि उसकी तहसील कैंप के एक युवक के साथ फोन पर बात होती है। करीब दो महीने पहले वह पति अंकित के साथ सावन पार्क में घूमने गई थी। वहां पर उनकी मुलाकात एक महिला व उसके पति इमरान और एक अन्य युवती (अविवाहित) से हुई थी। बाद में सभी दोस्त बन गए।

पांचों ने मिलकर तहसील कैंप के युवक को ब्लैकमेल करके शार्ट तरीके से लाखों रुपये कमाने की साजिश रची। साजिश के तहत ही अंकित की पत्नी ने तहसील कैंप के युवक का फोन नंबर सहेली को दे दिया। सहेली ने उक्त नंबर पर बातचीत कर युवक को दोस्त बना लिया। 13 मई को युवती ने तहसील कैंप निवासी युवक को इमरान के घर बुलाया और संबंध बनाए। तभी आरोपितों ने युवक की वीडियो बना ली और ब्लैकमेल करने लगे।

Edited By Anurag Shukla

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept