This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

ओमिक्रोन को लेकर स्वास्‍थ्‍य विभाग ने शुरू की तैयारी, जगाधरी सिविल अस्‍पताल का आक्‍सीजन प्‍लांट तैयार

Covid Variant Omicron Update ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए हरियाणा स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने तैयारियां तेज कर दी हैं। जगाधरी सिविल अस्पताल का आक्सीजन प्लांट तैयार हो गया है। कैबिनेट मंत्री कंवर पाल गुर्जर जल्‍द ही इसका उद्घाटन करेंगे।

Anurag ShuklaThu, 02 Dec 2021 10:27 AM (IST)
ओमिक्रोन को लेकर स्वास्‍थ्‍य विभाग ने शुरू की तैयारी, जगाधरी सिविल अस्‍पताल का आक्‍सीजन प्‍लांट तैयार

यमुनानगर, जागरण संवाददाता। कोरोना एक बार फिर से सक्रिय होने लगा है। अब कोरोना के नए वैरियंट ओमिक्रोन का खतरा मंडरा रहा है। जिले में इस समय सात सक्रिय मरीज हैं। रोजाना एक या दो मरीज भी मिल रहे हैं। इसे देखते हुए ही स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियों में लगा है। इसके तहत ही जगाधरी सिविल अस्पताल में एचडीएफसी का आक्सीजन प्लांट लगाया गया। 500 लीटर प्रति मिनट क्षमता के इस प्लांट का शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर उद्घााटन करेंगे। इससे पहले ईएसआइ कोविड अस्पताल में एक हजार लीटर प्रति मिनट क्षमता का प्लांट चालू हो चुका है।

कोरोना पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। अब दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का नया वैरियंट ओमिक्रोन मिल चुका है। जिससे दोबारा से सक्रिय होने का खतरा बना हुआ है। इसे देखते हुए ही स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां तेज कर दी है। लोगों को कोविड नियमों का पालन करने की हिदायतें दी जा रही है। इसके साथ ही प्रस्तावित आक्सीजन प्लांटों को जल्द से जल्द चालू कराने की प्रक्रिया शुरू की गई है। जिससे किसी भी संभावित खतरे से निपटने के लिए तैयारी पूरी रहे। सिविल सर्जन डा. विजय दहिया ने बताया कि अब सभी प्लांट चालू हो चुके हैं। इसके बाद जिले में आक्सीजन की किल्लत नहीं रहेगी।

आक्सीजन की बनी थी किल्लत

कोरोना की दूसरी लहर में बेड व आक्सीजन को लेकर मरीजों की समस्या हुई थी। इसके बाद ही जिले में आक्सीजन प्लांट लगाने पर जोर दिया गया। जिले में चार आक्सीजन प्लांट प्रस्तावित किए गए थे। इसमें से दो प्लांट पीएम केयर फंड व दो प्लांट सीएसआर प्रोजेक्ट के तहत लगाने की योजना बनाई गई थी। बेडों की कमी को भी स्वास्थ्य विभाग ने पूरा कर लिया है।

यह है प्लांटों की क्षमता

सिविल अस्पताल यमुनानगर

यहां पर पीएम केयर फंड से एक हजार लीटर प्रति मिनट क्षमता का प्लांट लगाया गया है। करीब दो माह पहले यह चालू किया जा चुका है।

सरस्वतीनगर सीएचसी

यहां पर पीएम केयर फंड से 500 लीटर प्रति मिनट क्षमता का प्लांट लगाया गया है। यह पूरी तरह से तैयार है, लेकिन अभी इसका उद्घााटन नहीं हुआ है।

ईएसआइ कोविड अस्पताल

यहां पर इस्जैक कंपनी की ओर से एक हजार लीटर प्रति मिनट क्षमता का प्लांट लगाया गया है। यह तैयार हो चुका है। शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर इसका उद्घााटन कर चुके हैं।

जगाधरी सिविल अस्पताल

यहां पर एचडीएफसी बैंक की ओर से 500 लीटर प्रति मिनट क्षमता का प्लांट लगाया गया है। यह तैयार हो चुका है। अब इसका भी उद्घााटन किया जाएगा।

Edited By: Anurag Shukla

पानीपत में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!