ये दूरी है गैरजरूरी, जानिये कौन आगे नहीं आ रहा इंजेक्शन लगवाने, इनके बॉस लगवा चुके टीका

हेल्थ-फ्रंटलाइन वर्कर्स की कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति उदासीनता अब स्वास्थ्य विभाग के लिए सिरदर्द बनने लगी है। शनिवार को छह केंद्रों में नौ सत्र के टीकाकरण में मात्र 184 ने ही टीका लगवाया। छह सौ को मैसेज दिया था। दूसरा टीका लगवाने वाले 60 हेल्थ वर्कर्स भी इनमें शामिल हैं।

Umesh KdhyaniPublish: Sun, 21 Feb 2021 12:38 PM (IST)Updated: Sun, 21 Feb 2021 12:38 PM (IST)
ये दूरी है गैरजरूरी, जानिये कौन आगे नहीं आ रहा इंजेक्शन लगवाने, इनके बॉस लगवा चुके टीका

पानीपत, जेएनएन। पानीपत में कोरोना वैक्‍सीनेशन को लेकर विभागीय कर्मचारी उत्‍साह नहीं दिखा रहे। ये हालात तो तब हैं, जब इनके बॉस इंजेक्शन लगवा चुके हैं। यानी खुद नगर निगम के कमिश्‍नर से लेकर डीसी तक इंजेक्शन लगवा चुके हैं। निगम के कर्मी ही अब तक टीका लगवाने के लिए आगे नहीं आ रहे।

हेल्थ-फ्रंटलाइन वर्कर्स की कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति उदासीनता अब स्वास्थ्य विभाग के लिए सिरदर्द बनने लगी है। शनिवार को छह केंद्रों में नौ सत्र के टीकाकरण में मात्र 184 ने ही टीका लगवाया। छह सौ लोगों को मैसेज दिया गया था। दूसरा टीका लगवाने वाले 60 हेल्थ वर्कर्स भी इनमें शामिल हैं। बता दें कि पहले टीका के लिए 11 हजार 237 ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इनमें से मात्र 57.80 फीसद ने ही टीका लगवाया है।

वैक्सीनेशन के जिला नोडल अधिकारी डा. मनीष पासी ने बताया कि 16 जनवरी से 20 फरवरी तक 22 दिन वैक्सीनेशन हुआ है। अब तक 6499 हेल्थ-फ्रंटलाइन वर्कर्स पहला टीका लगवा चुके हैं। दूसरा टीका लगवाने वालों की संख्या मात्र 329 है। डा. पासी के मुताबिक नगर निगम और पंचायती राज के कर्मचारियों-अधिकारियों ने रजिस्ट्रेशन तो करा लिया है। मैसेज भेजे जाने के बावजूद एक भी लाभार्थी टीका लगवाने नहीं पहुंचा है। विभागों के जिला प्रभारियों से सहयोग की अपील की गई है।

यह भी जानिये

62 फीसद हेल्थ वर्कर्स ने पहला टीका लगवाया

65 फीसद पुलिसकर्मी पहला टीका लगवाया

45 फीसद सीआइएसएफ के जवान ने टीका लगवाया

65 फीसद होमगार्ड्स ने पहला टीका लगवा लिया है

20 फीसद ने आंगनबाड़ी वर्कर्स ने ही वैक्सीनेशन कराया

विभाग का नाम लाभार्थियों की संख्या

हेल्थ वर्कर्स             6500

पुलिस             2264

सीआइएसएफ             717

होमगार्ड्स             492

राजस्व विभाग             258

जेल कर्मचारी             158

नगर निगम             630

पंचायती राज             218

Edited By Umesh Kdhyani

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept