दिल्ली कूच कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पानी की बौछार कर रोका

यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन कुंडू और समालखा विधायक धर्म सिंह छौक्कर बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली की ओर बढ़े तो पुलिस ने पानी की बौछार कर उन्हें रोक दिया। नेताओं सहित 20 से ज्यादा को हिरासत में लिया गया।

JagranPublish: Thu, 24 Sep 2020 08:54 AM (IST)Updated: Thu, 24 Sep 2020 08:54 AM (IST)
दिल्ली कूच कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पानी की बौछार कर रोका

जागरण संवाददाता, पानीपत/समालखा : कृषि से जुड़े विधेयकों के विरोध में हरियाणा युवा कांग्रेस ने बुधवार को आक्रोश रैली का आयोजन किया। नई अनाज मंडी पानीपत से करीब 350 ट्रैक्टरों पर सवार 500 से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली की ओर कूच किया। जीटी रोड, समालखा अनाज मंडी के सामने पुलिस ने बैरिकेड्स लगाकर रैली को रोकने का प्रयास किया। यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन कुंडू और समालखा विधायक धर्म सिंह छौक्कर बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली की ओर बढ़े तो पुलिस ने पानी की बौछार कर उन्हें रोक दिया। नेताओं सहित 20 से ज्यादा को हिरासत में लिया गया।

पानीपत की नई अनाज मंडी में सुबह 10 बजे से ही किसान और कांग्रेस कार्यकर्ता एकत्र होना शुरू हो गए थे। यूथ कांग्रेस की ओर से प्रदेश अध्यक्ष सचिन कुंडू ने मुख्य वक्ता एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी और राष्ट्रीय प्रभारी कृष्णा अल्लावारू को पगड़ी पहनाकर व हल भेंट कर स्वागत किया। कृषि से जुड़े विधेयकों के विरोध में मंच से काले रंग के गुब्बारे हवा में छोड़े गए। दोपहर 12.30 बजे ट्रैक्टर रैली दिल्ली की ओर बढ़ी। लगभग 1.30 बजे समालखा अनाज मंडी पहुंचने पर पुलिस ने बैरिकेड्स लगाकर रैली को रोक दिया। सचिन कुंडू और समालखा विधायक धर्म सिंह छौक्कर, इसराना विधायक बलबीर वाल्मीकि के साथ अन्य नेताओं-कार्यकर्ताओं ने दिल्ली की ओर बढ़ने का प्रयास किया तो डीएसपी सतीश वत्स ने दमकल कर्मियों को पानी की बौछार के आदेश दिए। बौछार होते ही सभी नेता जमीन पर लेट गए।

यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जितेंद्र कुंडू ने बैरिकेड्स लांघने का प्रयास किया। विरोध बढ़ता देख पुलिस ने कांग्रेस के प्रमुख नेताओं सहित 20 से ज्यादा को हिरासत में लेकर बस में बैठा लिया। हंगामा करीब 20 मिनट तक चला। सभी को पुलिस लाइन ले जाया गया। वहां उनके नाम-पता लिखने के बाद सभी को छोड़ दिया गया। पुलिस ने इन्हें लिया हिरासत में

श्रीनिवास बीवी, कृष्णा अल्लावारू, प्रतिभा रघुवंशी, विधायक धर्म सिंह छौक्कर, विधायक बलबीर वाल्मीकि, एनएसयूआइ के प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु बुद्धिराजा, शौर्यवीर सिंह, जितेंद्र कुंडू, इंटेक के प्रदेश अध्यक्ष अमित यादव व दीपक भाटी आदि। चप्पे-चप्पे पर रही पुलिस

नई अनाज मंडी, पानीपत में सहित जीटी रोड पर जगह-जगह पुलिस बल तैनात रहा। डीएसपी मुख्यालय ने रैली के आयोजकों से बात भी की ताकि लोग दिल्ली की ओर कूच न करें। कांग्रेस के नेता जिद पर अड़े रहे तो पुलिस ने समालखा में रैली को रोकने का प्लान बना लिया। पुलिस आंसू गोलों के साथ मुस्तैद थी। हालांकि, इन्हें छोड़ने की जरूरत नहीं पड़ी। जीटी रोड पर लगा जाम

युवा कांग्रेस की आक्रोश रैली के कारण जीटी रोड पर दोनों साइड जाम जैसी स्थिति बनी रही। हालांकि, रैली में शामिल ट्रैक्टरों को एक लाइन में चलने के निर्देश पुलिस देती रही। इसके बावजूद अन्य वाहन बहुत धीमी गति से चलने के कारण जाम जैसे हालात बने रहे। नेताओं के कथन

केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों विधेयक किसान विरोधी हैं। तीनों कानून किसान को उद्योगपतियों का गुलाम बनाने की साजिश है। किसान विरोधी इन विधेयकों का वे विरोध करते हैं और करते रहेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को ठगने का काम किया है।

श्रीनिवास बीवी, राष्ट्रीय अध्यक्ष-यूथ कांग्रेस केंद्र सरकार पूंजीपतियों के हाथों में खेल रही है। किसानों को गिरवी रखने की साजिश हो रही है। किसान प्रदर्शन करता है तो उसका सामना सुरक्षा में लगे जवानों से कराया जाता है। सरकार ने विधेयकों में न्यूनतम फसल मूल्य का जिक्र न कर, किसानों के साथ धोखा किया है।

कृष्णा अल्लावरू, राष्ट्रीय प्रभारी-यूथ कांग्रेस केंद्र और प्रदेश सरकार ने षड्यंत्र के तहत खेती और फसल खरीद की मंडी व्यवस्था को खत्म करने का काम किया है। किसान-आढ़ती-मजदूर के गठजोड़ को तोड़ने का प्रयास है। युवा कांग्रेस तीनों विधेयकों को काला कानून मानकर, विरोध करती रहेगी।

सचिन कुंडू, प्रदेशाध्यक्ष-युवा कांग्रेस हरियाणा रैली के आयोजक नेताओं को नई अनाज मंडी पानीपत से ही समझाने का प्रयास किया गया था कि वे जीटी रोड पर न उतरें। नहीं मानने पर उन्हें समालखा में बैरिकेड्स लगाकर रोका गया। रैली में शामिल लोगों ने बैरिकेड्स हटाने का प्रयास तो पानी की बौछार करनी पड़ी। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर, बाद में छोड़ दिया गया। आगे की कार्रवाई उच्चाधिकारियों के निर्देशानुसार होगी।

सतीश वत्स, डीएसपी मुख्यालय

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept