सेना दिवस मनाया, शहीदों को सलाम किया

एसडी पीजी कालेज में सेना दिवस मनाया गया। कालेज प्राचार्य डा. अनुपम अरोड़ा एएनओ लेफ्टिनेंट डा. बलजिदर सिंह और कालेज के एनसीसी कैडेट्स ने आनलाइन वेबिनार में हिस्सा लिया। इसका आयोजन 12 एनसीसी बटालियन सोनीपत ने किया।

JagranPublish: Sat, 15 Jan 2022 06:25 PM (IST)Updated: Sat, 15 Jan 2022 06:25 PM (IST)
सेना दिवस मनाया, शहीदों को सलाम किया

पानीपत (विज्ञप्ति) : एसडी पीजी कालेज में सेना दिवस मनाया गया। कालेज प्राचार्य डा. अनुपम अरोड़ा, एएनओ लेफ्टिनेंट डा. बलजिदर सिंह और कालेज के एनसीसी कैडेट्स ने आनलाइन वेबिनार में हिस्सा लिया। इसका आयोजन 12 एनसीसी बटालियन सोनीपत ने किया। कमांडिग आफिसर कर्नल एसके सूद और एडम आफिसर लेफ्टिनेंट कर्नल अनुज मान ने सेना दिवस के महत्व और एनसीसी के उत्तरदायित्वों को बताया।

प्राचार्य डा. अनुपम अरोड़ा ने कहा कि सेना दिवस भारत में हर वर्ष 15 जनवरी को लेफ्टिनेंट जनरल केएम करियप्पा के भारतीय थल सेना के शीर्ष कमांडर का पदभार ग्रहण करने के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। लेफ्टिनेंट जनरल करियप्पा ने 15 जनवरी 1949 को ब्रिटिश राज के समय के भारतीय सेना के अंतिम अंग्रेज शीर्ष कमांडर जनरल राय फ्रांसिस बुचर से यह पदभार ग्रहण किया था। आज के दिन उन सभी बहादुर सेनानियों को सलामी दी जाती है, जिन्होंने कभी न कभी अपने देश और लोगों की सलामती के लिए अपना सर्वोच्च न्योछावर कर अपने प्राणों की आहुति दी।

कमांडिग ऑफिसर कर्नल एसके सूद ने कहा कि केएम करिअप्पा पहले ऐसे अधिकारी थे जिन्हें फील्ड मार्शल की उपाधि दी गई थी। 1986 में केएम करिअप्पा को बेहतरीन सैन्य सेवाओं के लिए पंच-सितारा रैंक फील्ड मार्शल से सम्मानित किया गया। खास बात यह कि आज तक ये पंच-सितारा रैंक भारतीय सेनाओं में केवल तीन सैन्य अधिकारियों को मिली है - करियप्पा, फील्ड मार्शल सैम मानेकशा और मार्शल आफ इंडियन एयर फोर्स अर्जन सिंह। भारतीय सेना की वीरगाथा पूरे विश्व में गूंजती है

पानीपत : आर्य कालेज में एनसीसी व रेडक्रास यूनिट के संयुक्त तत्वावधान में आनलाइन सेना दिवस व सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया गया। मुख्य वक्ता के तौर पर जिला ट्रैफिक पुलिस करनाल से सब इंस्पेक्टर अशोक भारद्वाज ने शिरकत की। प्राचार्य डा. जगदीश गुप्ता ने कहा कि हर वर्ष लापरवाही के कारण कई सड़क दुर्घटनाएं होती हैं। ट्रैफिक नियमों के बारे में जागरूक होने की अत्यंत आवश्यक है। भारतीय सेना की वीरता की गाथा पूरे विश्व में गूंजती है। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी का दिन भारत के लिए अहम दिन होता है आज के दिन को भारतीय सेना दिवस के तौर पर मनाया जाता है। अशोक भारद्वाज ने बताया कि इस साल भारत का 74 वां सेना दिवस मनाया जा रहा है। डा.विजय सिंह ने बताया कि भारत में प्रत्येक वर्ष जनवरी माह में राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाता है, राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन प्रत्येक वर्ष 11 जनवरी से लेकर 17 जनवरी तक किया जाता है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept