उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह ने फहराया तिरंगा, ली सलामी

जागरण संवाददाता नूंह 73वें गणतंत्र दिवस पर जिले में उत्साह और उमंग के बीच प्रतिभागिओं ने

JagranPublish: Thu, 27 Jan 2022 04:40 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 04:40 PM (IST)
उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह ने फहराया तिरंगा, ली सलामी

जागरण संवाददाता, नूंह : 73वें गणतंत्र दिवस पर जिले में उत्साह और उमंग के बीच प्रतिभागिओं ने कार्यक्रमों में मोहक प्रस्तुतियां दी। नूंह अनाजमंडी में हुए जिलास्तरीय कार्यक्रम में मुख्य अतिथि उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह ने तिरंगा फहराया एवं परेड की सलामी ली। जिले में सभी उपमंडल स्तर पर भी गणतंत्र दिवस बड़ी ही धूमधाम से मनाया गया।

मुख्य अतिथि उपायुक्त शक्ति सिंह ने कहा कि 26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू हुआ था। इसी कारण ही हम सबको समान न्याय, स्वतंत्रता एवं समानता का अधिकार मिला। गणतंत्र दिवस हमारे देशभक्तों के त्याग और बलिदान की एक लंबी गौरव गाथा से जुड़ा दिन है। इससे पहले उपायुक्त ने शहीदी स्मारक पर जाकर बलिदानियों को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उन्होंने कहा कि आजादी दिलाने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, चंद्रशेखर आजाद आदि अनेकों क्रांतिकारियों ने संघर्ष किया। आजादी के लिए हमारे देश भक्तों ने अपने प्राणों को न्योछावर कर दिया। देश की आजादी की लड़ाई में हरियाणा प्रदेश के वीरों का भी अहम योगदान रहा। जिला नूंह के अनेकों सैनिकों ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया। देश की सेना में हर दसवां जवान हरियाणा प्रदेश से है। महान स्वतंत्रता सेनानियों के कठोर संघर्ष से आजादी मिली तो दिन रात मुस्तैदी से सीमाओं की रक्षा करने वाले वीर सैनिकों के कारण ही आज हमारी आजादी सुरक्षित है। आज पूरा देश उन बलिदानियों और वीर सैनिकों का ऋणी है। प्रदेश सरकार ने सैनिकों के परिवारों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करते हुए हरियाणा के सैनिकों और अर्धसैनिक बलों के जवानों की अनुग्रह राशि 20 लाख से बढ़ाकर 50 लाख कर दी है। सैनिकों के कल्याण के लिए 8 जिलों में एकीकृत सैनिक सदन बनाने का निर्णय लिया है इन सभी सैनिक सदनों पर लगभग 100 करोड़ रुपए का खर्च सरकार द्वारा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने पिछले लगभग 8 साल के कार्यकाल में कई ऐसे निर्णय लिए हैं, जिसे न केवल भारत के प्रति दुनिया का नजरिया बदला, बल्कि भारत शक्तिशाली देश के रूप में उभर कर सामने आया है। प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में सबका साथ सबका विकास के मूल मंत्र पर प्रदेश के हर क्षेत्र का समान विकास करवाने के लिए प्रयासरत है। राज्य सरकार ने व्यवस्था परिवर्तन एवं शासन के पथ पर चलते हुए एक अनूठी पहल की है। इसमें युवाओं को योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरी, कर्मचारियों का आनलाइन तबादला, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, वजीफा आदि की सब्सिडी में चल रहे फर्जीवाड़े को बंद करना आदि शामिल है। आज हरियाणा प्रदेश की गिनती देश के सर्वाधिक विकसित राज्य में होती है। हरियाणा देश का पहला ऐसा राज्य है जहां पढ़ी-लिखी पंचायतें हैं व देश का पहला ऐसा राज्य भी है, जिस राज्य में पंचायती राज संस्थाओं की अधिक से अधिक भागीदारी के लिए अंतर जिला परिषद का गठन किया है। प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्रों को डिजिटल बनाने के लिए ग्राम दर्शन पोर्टल पर 6197 ग्राम पंचायतों का डिजिटल डाटा उपलब्ध है। ग्रामीणों को उनकी संपत्ति का मालिक का हक देने के लिए गांव को लालडोरा मुक्त किया जा रहा है। इसमें 6309 गांव को कवर किया जा चुका है। हरियाणा देश का ऐसा पहला राज्य है, जहां हेपिटाइटिस सी व डी की दवाइयां मुफ्त उपलब्ध करवाई जा रही हैं। एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम में हरियाणा को देश में प्रथम स्थान मिला है। हरियाणा का पहला प्रमुख राज्य बन गया है जहां प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के माध्यम से शत-प्रतिशत लाभार्थियों के खाते में सामाजिक सुरक्षा पेंशन भेजी जा रही है। देश में हर व्यक्ति को उसके घर द्वार पर ही सरकार की योजनाओं व सेवाओं का लाभ मिले, इसके लिए विभिन्न विभागों व सेवाओं को आनलाइन किया जा रहा है। मेरा परिवार मेरी पहचान कार्यक्रम के तहत सभी परिवारों के परिवार पहचान पत्र बनाए जा रहे हैं। पीपीपी पोर्टल पर अब तक लगभग 72 लाख परिवारों का पंजीयन हो चुका है। इनमें से अब तक 58 लाख से अधिक परिवारों का डाटा सत्यापित हो चुका है। राज्य सरकार द्वारा लगभग 27 लाख लाभ पात्रों की सामाजिक सुरक्षा पेंशन को परिवार पहचान पत्र से जोड़ा गया है। प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र लघु और सीमांत किसानों को 6000 रुपये की वार्षिक सहायता दी जा रही है। प्राकृतिक आपदा से फसल खराब होने पर मुआवजा राशि को बढ़ाकर 15000 रुपये प्रति एकड़ करने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश में बाजरे के लिए भी भावांतर भरपाई योजना शुरू की गई है। इसके तहत 600 रुपये प्रति क्विटल भावांतर दिया गया है। भावांतर भरपाई योजना में 21 बागवानी फसलों को भी शामिल किया गया है। इस योजना में शामिल सभी बागवानी फसलों को मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना में कवर किया गया है। घर से 2 किलोमीटर से अधिक दूरी वाले स्कूलों की नौवीं से 12वीं तक की छात्राओं के लिए छात्रा परिवहन सुरक्षा योजना आरंभ की गई है। महिलाओं को पंचायती राज संस्थाओं में 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व दिया गया है। राज्य सरकार हरियाणा पुलिस में महिला पुलिस कर्मियों की संख्या 15 प्रतिशत करने के लिए कृत संकल्प है। यह सरकार की खेल नीति का ही परिणाम है कि आज हरियाणा के खिलाड़ी ओलंपिक में अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीतकर प्रदेश व देश का नाम रोशन कर रहे हैं।

समारोह में विभिन्न स्थान प्राप्त करने वाली झांकियां : प्रथम स्थान डीआरडी, दूसरा स्थान जन स्वास्थ्य स्वास्थ्य अभियांत्रिकी तथा तीसरा स्थान आरटी की झांकी को दिया गया। इसके अतिरिक्त वन विभाग, मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेला, जिला ग्रामीण बैंक, डीआरडीए नूंह, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, आयुष विभाग, उद्यान विभाग की झांकियां निकाली गई।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों में विभिन्न स्थान प्राप्त करने वाली टीमें : सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रथम स्थान राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अडबर द्वारा बेटी पढ़ाओ व दूसरा स्थान राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नूंह हरियाणवी नृत्य तथा तीसरा स्थान राजकीय कन्या महाविद्यालय पुन्हाना की टीम रही। राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल घासेड़ा जल शक्ति अभियान, मेवात मॉडल स्कूल नूंह की टीम द्वारा समूह नृत्य पंजाबी, की शानदार प्रस्तुति दी।

मार्च पास्ट व परेड में ये टुकड़ियां हुईं शामिल : परेड इंचार्ज सतीश कुमार डीएसपी फिरोजपुर-झिरका के नेतृत्व में मार्च पास्ट का आयोजन हुआ। इस मार्च पास्ट में पीएसआइ संजीव के नेतृत्व में हरियाणा पुलिस, एएसआइ मंजू हरियाणा महिला पुलिस, सब इंस्पेक्टर बीर सिंह के नेतृत्व में होम गार्ड की टुकड़ी शामिल रही। इसी प्रकार रिहान के नेतृत्व में मेवात माडल स्कूल नूंह, सोनम के नेतृत्व में एसपीसी राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नूंह, नावेद अली के नेतृत्व में एसपीसी राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय फिरोजपुर-नमक, मुस्तफा के नेतृत्व में एनसीसी यासीन मेव डिग्री कालेज नूंह, नेहा के नेतृत्व में एनसीसी ग‌र्ल्स यासीन मेव डिग्री कालेज, बैंड राकेश की टीम ने भाग लिया। इस अवसर पर भाजपा जिला अध्यक्ष नरेंद्र पटेल, एडीसी सुभिता ढाका, पुलिस अधीक्षक वरुण सिगला, सहायक आयुक्त हर्षित कुमार, एसडीएम सलोनी शर्मा, डीएसपी सुधीर तनेजा, जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक अनिल कालरा, जिला नगर योजनाकार वेद प्रकाश, गो सेवा आयोग के पूर्व चेयरमैन भानी राम मंगला, जाहिद बाई, मंच संचालक अशरफ मेवाती आदि मौजूद रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम