रंग लाई मेहनत, उच्च शिक्षा के लिए खुले रास्ते

नूंह जिले में तीन और स्कूलों को सरकार ने 12वीं तक अपग्रेड किया है। इससे क्षेत्र में खुशी का माहौल है। अबसे पहले 10 स्कूलों को विभाग 12वीं तक अपग्रेड कर चुका है। पिछड़े जिलों में शुमार नूंह जिले की चिता अब सरकार को भी सताने लगी है। इसलिए अब यहां के विकास को लेकर सरकार ने अपना पिटारा खोलना शुरू कर दिया है।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 06:43 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 06:43 PM (IST)
रंग लाई मेहनत, उच्च शिक्षा के लिए खुले रास्ते

शेरसिंह चांदोलिया, नगीना

नूंह जिले में तीन और स्कूलों को सरकार ने 12वीं तक अपग्रेड किया है। इससे क्षेत्र में खुशी का माहौल है। अबसे पहले 10 स्कूलों को विभाग 12वीं तक अपग्रेड कर चुका है। पिछड़े जिलों में शुमार नूंह जिले की चिता अब सरकार को भी सताने लगी है। इसलिए अब यहां के विकास को लेकर सरकार ने अपना पिटारा खोलना शुरू कर दिया है।

बता दें कि नांगल मुबारिकपुर, खेड़ली नूंह और घागस के आठवीं तक के स्कूलों को 12वीं में अपग्रेड किया गया है। एक अप्रैल से कक्षाओं की शुरू होने की संभावना है। तीनों गांवों के जुम्माराम, मांगेराम, असलम, सत्तार, आमीन सहित सैकड़ों गणमान्य लोगों ने स्कूलों को अपग्रेड करने के लिए आभार प्रकट किया है। इस सामाजिक आंदोलन का बीड़ा मेवात आरटीआइ मंच एवं गालिब मौजी खान फाउंडेशन ने उठाया था। ग्रामीणों का कहना है कि लगातार 2018-19 से हमारे स्कूलों को राजकीय माध्यमिक विद्यालय से 12वीं में अपग्रेड कराने के लिए ये प्रयास कर रहे थे। उन्होंने कई बार धरने, प्रदर्शन भी किए। दोनों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को पत्राचार भी किया।

खंड शिक्षा अधिकारी से लेकर जिला शिक्षा अधिकारी, महानिदेशक सेकेंडरी शिक्षा सदन पंचकूला, मुख्य सचिव, वित्त आयुक्त एवं प्रधान सचिव शिक्षा विभाग समेत प्रदेश के शिक्षा मंत्री को चिट्ठी भी भेजी गई। नांगल मुबारिकपुर गांव के सरपंच बिलाल अहमद उर्फ बिल्ला, पूर्व मुख्य अध्यापक प्रीतम सिंह, शिक्षक इरशाद खान, मंसूर अली, गांव घागस के सरपंच शाकिर हुसैन, सोहराब नंबरदार, खेड़ली नूंह के सरपंच रविदर ने बताया कि इनके संघर्ष से हमारे स्कूल 12वीं कक्षा तक अपग्रेड होने में काफी मदद मिली है। ये स्कूल हो चुके हैं अपग्रेड: जिले के गांव भादस, नीमखेडा, महूं, बसई खां जादा, उमरा, मरोडा, रनियाला पटाकपुर, बुबलहेडी, दोहा सहित 10 स्कूल 12वीं में अपग्रेड हो चुके हैं। इसके अलावा अब घागस, नांगल मुबारिकपुर और खेडली नूंह में जल्द ही उच्च शिक्षा तक पढ़ाई की जाएगी। - इन स्कूलों को अपग्रेड कराने के लिए काफी प्रयास किए हैं। सभी मापदंड पूरे किए तब जाकर सरकार और विभाग ने इन स्कूलों को अपग्रेड किया है। अब यहां की बेटियां भी उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेंगी। इसके लिए हम सरकार का आभार प्रकट करते हैं।

- सबीला जंग, सामाजिक कार्यकर्ता - अबसे पहले 10 स्कूल अपग्रेड हुए थे। इसके अलावा घागस, नांगल मुबारिकपुर और खेडली नूंह को विभाग ने अपग्रेड करा दिया है। यहां पर इन स्कूलों से उच्च शिक्षा का रास्ता खुलेगा। अब जिले के शिक्षा के क्षेत्र में और बेहतर परिणाम आएंगे। सरकार ने ये बेहतर काम किया है।

हयात खान, खंड शिक्षा अधिकारी नगीना

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept