लॉकडाउन में सब्जी, करियाना, दूध और कृषि संबंधित दुकानें छोड़कर अन्य बंद रहेंगी

नगरपालिका सचिव मोहन लाल तंवर ने कहा कि कोरोना पर काबू पाने के लिए सरकार इस लॉकडाउन को कड़ाई से लागू करवाने के प्रति गंभीर दिख रही है।

JagranPublish: Tue, 18 May 2021 06:40 AM (IST)Updated: Tue, 18 May 2021 06:40 AM (IST)
लॉकडाउन में सब्जी, करियाना, दूध और कृषि  संबंधित दुकानें छोड़कर अन्य बंद रहेंगी

संवाद सहयोगी, कलायत: नगरपालिका सचिव मोहन लाल तंवर ने कहा कि कोरोना पर काबू पाने के लिए सरकार इस लॉकडाउन को कड़ाई से लागू करवाने के प्रति गंभीर दिख रही है।

सब्जी, करियाणा, दूध और कृषि संबंधित दुकानों को छोड़कर अन्य सभी दुकानें आगामी आदेशों तक बंद रहेंगी। सब्जी और करियाना की दुकानें अब दोपहर 12 बजे तक खुला करेंगी। कृषि संबंधित दुकानों के खुलने का समय शाम छह बजे तक निर्धारित किया गया है। मेडिकल सेवाएं पहले की भांति निर्बाध रूप से जारी रहेंगी। परिणामस्वरूप लॉकडाउन नियमों को कड़ाई से लागू करने के लिए प्रशासन गंभीर है।

निर्धारित नियमों की अवहेलना करने वालों के लिए आपदा प्रबंधन के तहत ठोस कानूनी कार्रवाई होगी। सचिव ने नागरिकों से लॉकडाउन को सफल बनाते हुए मानवीय जीवन को सुरक्षा का कवच प्रदान करने की अपील की है।

गांव में संक्रमण रोकने के लिए चलाया जा रहा जागरूकता अभियान : कौशिक

संवाद सहयोगी, पूंडरी : कोरोना महामारी अपना विकराल रूप धारण किए है। ऐसे में डीसी सुजान सिंह के आदेशानुसार जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला रेडक्रॉस सोसायटी के संयुक्त तत्वावधान में जागरूकता अभियान चल रहा है। काउंसलर कोमल कौशिक अपनी टीम के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण एवं जागरूकता फैलाने के लिए मुहिम चला रही है। उन्होंने बताया कि शहरों की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण और मृत्यु दर बढ़ रही है। ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है। ग्रामीणों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क, साबुन, सैनिटाइजर दिए जा रहे हैं। टीम ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीन को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैली हुई हैं। जो लोग पहली डोज ले चुके हैं वे दूसरी डोज लेने के बारे में भी विचार कर रहे हैं। वालंटियर दीपक कौशिक ने लोगों को दो गज दूरी बनाए रखने बारे जानकारी दी। प्रशासन की तरफ से जगह-जगह कोविड केयर सेंटर बनाए जा रहे हैं। काउंसलर सुशील कुमार और अनिल कुमार ने गांव डीग में लोगों को जानकारी दी।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept