राज्य निर्वाचन आयोग ने भेजी पंचायती चुनावों के लिए चुनावी चिन्हों की सूची

फरवरी-2020 में छठे पंचायती चुनावों को लेकर अब तैयारियां शुरू हो गई हैं। राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ से जिला विकास एवं पंचायती विभाग कार्यालय को जिला परिषद ब्लॉक समिति और सरपंच तथा पंचों के चुनावचिन्हों की सूची भेज दी है।

JagranPublish: Fri, 25 Dec 2020 06:40 AM (IST)Updated: Fri, 25 Dec 2020 06:40 AM (IST)
राज्य निर्वाचन आयोग ने भेजी पंचायती चुनावों के लिए चुनावी चिन्हों की सूची

प्रदीप घोघड़ियां, जींद : फरवरी-2020 में छठे पंचायती चुनावों को लेकर अब तैयारियां शुरू हो गई हैं। राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ से जिला विकास एवं पंचायती विभाग कार्यालय को जिला परिषद, ब्लॉक समिति और सरपंच तथा पंचों के चुनावचिन्हों की सूची भेज दी है। जिला परिषद के 42, ब्लॉक समिति के 30, सरपंच के 30 और पंच के 18 चुनाव चिन्ह निर्धारित किए गए हैं। कौन सा गांव महिला के लिए आरक्षित होगा, कौन सा गांव पुरुषों के लिए होगा, यह अभी तक भी फाइनल नहीं हो पाया है।

वर्तमान पंचायतों का कार्यकाल डेढ़ महीने बाद फरवरी-2021 में समाप्त हो रहा है। पंचायती राज चुनावों को लेकर विभाग ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। अगर बात करें सरंपच पद की तो सरपंची का चुनाव लड़ने के लिए कम से कम 21 साल की उम्र होनी चाहिए। 10 वीं पास की योग्यता रखी गई है तो उम्मीदवार को बिजली बिल का नो ड्यूज भी देना होगा।

------------

जिला परिषद के होंगे यह 42 चुनाव चिन्ह

जिला परिषद के आजाद उम्मीदवारों के लिए 30 चुनाव चिन्ह निर्धारित किए गए हैं। इनमें गाड़ी, उगता सूरज, पतंग, रेडियो, जीप, केतली, फावड़ा व बेलचा, जग, वायुयान, रोड रोलर, टेबल पंखा, टैलीफोन, स्कूटर, पोत, हॉकी और गेंद, दो तलवार एक ढाल, मटका, अंगूठी, बल्ला, फ्रॉक, मोमबत्तियां, सीटी, ब्रूश, सेब, नाव, लेडी पर्स, गैस-सिलेंडर, ईंट, गैस स्टोव, स्लेट कैमरा, गुब्बारा, मेज, गैस बत्ती, मोरपंख, कड़ाही, हारमोनियम, पीपल का पत्ता, रिक्शा, चकला बेलन, तोप, शंख शामिल हैं। इनमें से ही उम्मीदवारों को चिन्ह बांटे जाएंगे।

------------

ब्लॉक समिति में होंगे यह 30 चुनाव चिन्ह

ब्लॉक समिति का चुनाव लड़ने वाले आजाद उम्मीदवारों के लिए 30 चुनाव चिन्ह निर्धारित किए हैं। इनमें ब्लैक बोर्ड, दीवार घड़ी, बरगद का पेड़, झोंपड़ी, तराजू, फसल काटता किसान, ड्रम, गले की टाई, अलमारी, टेलीविजन, रेल का इंजन, लेटर बाक्स, प्रेशर कुकर, टार्च, बंदूक, करनी, ढोलक, हाथ चक्की, हाथ घड़ी, बैंगन, संडासी, कमीज, तीरकमान, कार, क्रेन, बिजली का स्विच, कंघी, छत का पंखा, सूरजमुखी के चिन्ह शामिल हैं।

------------

इन 30 चुनाव चिन्हों पर लड़ सकेंगे सरपंच चुनाव

सरपंच पद के चुनाव के लिए जो चिन्ह निर्धारित किए गए हैं, उनमें साइकिल, कांच का गिलास, फलों सहित नारियल का पेड़, हस्तचालित पंप, सिलाई मशीन, ताला और चाबी, अनाज बरसाता किसान, सब्जियों की टोकरी, घंटी, टेबल लैंप, स्टूल, डमरू, लट्टू, वायलिन, नल, बस, कलम दवात, त्रिशूल, कुआं, मूली, छड़ी, गेहूं की बैल, पुल, केला, कैरमबोर्ड, पैंसिल, तलवार, ईमली, अनार, तरकश शामिल हैं।

------------

पंच पद के लिए यह 18 होंगे चुनाव चिन्ह

पंच पद के लिए जो चुनाव चिन्ह निर्धारित किए गए हैं, इनमें सीढ़ी, फावड़ा, बाल्टी, हल, कुल्हाड़ी, कैंची, कुर्सी, छाता, दो पत्तियां, बिजली का बल्ब, आम, चारपाई, दरवाजा, गमला, सुराही, गुल्ली डंडा, रथ, अंगूर का गुच्छा शामिल हैं।

------------

पार्टी चिन्ह पर लड़ा जा सकता है जिला परिषद और ब्लॉक समिति का चुनाव

किसी भी राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पार्टी के चुनाव चिन्ह पर जिला परिषद और ब्लॉक समिति का चुनाव लड़ा जा सकता है लेकिन इसके लिए संबंधित पार्टी द्वारा नाम निर्देशित किया जाना जरूरी है।

-------------

जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी आरके चांदना ने कहा कि चुनावों के समय हर बार ही चुनाव चिन्ह निर्वाचन आयोग द्वारा भेजे जाते हैं। किस गांव में महिला सरपंच होगी और किस गांव में पुरुष, इस मामले में नंबरिग को लेकर अभी तक कोई दिशा-निर्देश मुख्यालय से नहीं मिले हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept