पेगां गांव के अनुसूचित जाति के लोगों ने रामदासिया चौपाल के निर्माण की मांग

पेगां गांव के अनुसूचित जाति के लोगों ने खंडहर चौपाल के निर्माण करने की मांग की है। साथ ही प्रदर्शन की चेतावनी दी।

JagranPublish: Wed, 27 Oct 2021 10:40 PM (IST)Updated: Wed, 27 Oct 2021 10:40 PM (IST)
पेगां गांव के अनुसूचित जाति के लोगों ने रामदासिया चौपाल के निर्माण की मांग

संवाद सहयोगी, अलेवा: पेगां गांव के अनुसूचित जाति के लोगों ने खंडहर चौपाल के निर्माण करने की मांग की है। लोगों ने कहा कि अगर उनकी समस्या का 15 से 20 दिन में समाधान नहीं हुआ तो अनुसूचित जाति के लोग डीसी कार्यालय पर धरना देने पर मजबूर होगे। पेगां गांव के अनुसूचित जाति के संपत, रोशन, अशोक, सुनील, सतबीर, बबलू तथा ग्रामीण विकास मंच के प्रधान सतपाल ने कहा कि बताया कि गांव के सरपंच ने गांव स्थित रामदासिया चौपाल की छत को लगवाने की बात कही थी। इसके लिए छत को उखाड़ दिया था, लेकिन उखाड़ने के कई वर्ष बीत जाने के बाद भी आज तक छत का निर्माण नहीं हो सका। इसके लिए गांव के अनुसूचित जाति के लोग बीडीपीओ अलेवा, एसडीएम उचाना तथा डीसी जींद को मिल चुके हैं, लेकिन उनकी समस्या का आज तक भी समाधान नहीं हुआ है। चौपाल का निर्माण न होने के कारण बाबा भीमराव अंबेडकर जयंती जैसे कार्यक्रम करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अनुसूचित जाति के लोगों ने जल्द से जल्द खंडहर बन चुकी चौपाल का निर्माण करने की मांग की है। बीडीपीओ अलेवा ओमप्रकाश ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है। कर्मचारियों से मामले को लेकर जानकारी लेकर ही कुछ बताया जा सकता है।

नारा लेखन प्रतियोगिता में महक रही प्रथम

नरवाना : आरजी एसडी महिला कालेज में नारा लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। युवा कल्याण एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार एवं चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय जींद के दिशा-निर्देशानुसार क्लीन इंडिया कार्यक्रम के तहत नारा लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। इसका विषय सिगल यूज आफ प्लास्टिक रहा। नारा लेखन में महक ने प्रथम, पूजा नैन ने द्वितीय व प्रीति ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता में मधु, नितेश व शीतल का प्रदर्शन भी सराहनीय रहा। प्राचार्या डा. बबीता गर्ग ने सभी विजेता छात्राओं को बधाई दी। इस अवसर पर सुदेश चौपड़ा, सवेर कौर, रचना श्योकंद, रितु नैन, दीपिका गोयल व कुसुम मौजूद रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept