This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

अजीत सिंह ने अंग्रेजों को झुकाया था, अब हम केंद्र को झुकाएंगे

संवाद सूत्र नरवाना बद्दोवाल टोल प्लाजा पर 69वें दिन धरने की अध्यक्षता राममेहर बद्दोवाल ने की।

JagranWed, 24 Feb 2021 05:32 AM (IST)
अजीत सिंह ने अंग्रेजों को झुकाया था, अब हम केंद्र को झुकाएंगे

संवाद सूत्र, नरवाना: बद्दोवाल टोल प्लाजा पर 69वें दिन धरने की अध्यक्षता राममेहर बद्दोवाल ने की। क्रमिक अनशन पर गांव दबलैन से निबो, अंगूरी, राजबाला, नरायण देवी, राजबाला बैठी। धरने में सुंदरपुरा, दबलैन, बडनपुर, उझाना, नेपेवाला, कोयल, लोन, धमतान, कालवन व आस-पास के किसान शामिल हुए। अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य कार्यकारिणी सदस्य मास्टर बलबीर सिंह ने कहा कि वर्तमान कृषि कानूनों की तरह ही तीन काले कृषि कानून अंग्रेजों ने बनाये थे, उनके विरोध में भगत सिंह के चाचा सरदार अजीत सिंह की अगुआई में पगड़ी संभाल किसान आंदोलन शुरू किया था। वह आंदोलन नौ महीने तक चला था। उस आंदोलन के कारण ही अंग्रेज उस दौरान तीनों कृषि कानून वापस लेने पर मजबूर हो गये थे। अब भी आंदोलन कितना ही लंबा चलाना पड़े, सभी किसान पूरी ताकत लगाकर सरकार को झुकने के लिए मजबूर करेंगे। जिला सचिव चांद बहादुर ने कहा कि आज किसान, मजदूर बर्बादी के कगार पर पहुंच गये हैं। लेकिन केंद्र सरकार कोई हितकारी कदम नहीं उठा रही है। इस मौके पर डॉ. प्रीतम सिंह, शमशेर खरल, सतबीर सिंह, बलराज पंघाल, लीलू बडनपुर, लीलावती मौैजूद रहे। देसी घी की जलेबी और हलवा का प्रसाद बांटा

धरने को दो महीने पूरा होने व पगड़ी दिवस मनाने को लेकर गांव हमीरगढ़ के किसानों ने ट्राली भरकर देशी घी की जलेबियों को प्रसाद बांटा। वहीं महिलाओं व पुरुषों को हलवा भी बांटा गया। किसानों ने कहा कि देशी घी की जलेबियां इसलिए बांटी गई हैं, ताकि किसान इनको खाकर तंदुरस्त रह सके और लंबे चलने वाले आंदोलन में अपनी भागीदारी दे सके।

जींद में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!