जांगिड़ समाज अपने अधिकारों के प्रति जागरूकता की ले रहा है नई अंगड़ाई : डा. शेरसिंह

-मातनहेल खंड के 43 गांवों के 293 राज मिस्त्रियों को किया सम्मानित

JagranPublish: Sat, 04 Dec 2021 09:05 PM (IST)Updated: Sat, 04 Dec 2021 09:05 PM (IST)
जांगिड़ समाज अपने अधिकारों के प्रति जागरूकता की ले रहा है नई अंगड़ाई : डा. शेरसिंह

जागरण संवाददाता,झज्जर :

जांगिड़ समाज अपने अधिकारों के प्रति जागरूक है और महासभा ने समाज संगठन की जो मुहिम शुरू की है वह निरंतर जारी रखेगी। यह बात गांव मातनहेल में अखिल भारतीय जांगिड़ ब्राह्मण महासभा की मातनहेल खंड इकाई द्वारा राज मिस्त्रियों व लकड़ी का काम करने वाले जांगिड बंधुओं के सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए महासभा प्रदेश अध्यक्ष डा. शेरसिंह जांगिड़ ने कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला प्रधान मनमोहन खंडेलवाल ने की। समारोह में मातनहेल खंड के 43 गांवों के 293 मिस्त्रियों को सम्मानित किया। डा. शेर सिंह ने कहा कि जांगिड़ समाज को शासन में उचित हिस्सेदारी मिलनी चाहिए और अनदेखी व अन्याय अब जांगिड़ समाज किसी भी स्तर पर सहन नहीं करेगा। समाज की अनदेखी का दौर अब बीत चुका है और समाज जागरूकता की नई अंगड़ाई ले रहा है। जांगिड़ समाज अब संगठित हो रहा है। ऐसे में हमारे समाज को जो राजनैतिक, सामाजिक व राजनीतिक ²ष्टि से पिछड़ा समझेगा, ये उनकी बड़ी भूल होगी।

मनमोहन खंडेलवाल ने कहा कि देश-दुनिया की भौतिक प्रगति में जांगिड़ समाज का अतुलनीय योगदान है। विशिष्ट अतिथि सेवानिवृत्त एसडीओ आरपी शर्मा ने समाज संगठन पर बल दिया और कहा कि यह वही समाज है जिसने पूरी दुनिया को प्रगति की नई राह दिखाई। विशिष्ट अतिथि प्राचार्य रमेश कुमार ने कहा कि समाज संगठन पुण्य का कार्य है और इस महान पुण्य कार्य को समाज का नेतृत्व करने वाले बंधुओं को निरंतर जारी रखना चाहिए। विशिष्ट अतिथि समाजसेवी सुंदरलाल, समाजसेवी सोमवीर सिंह व सरपंच महीपाल मालियावास ने भी आपसी एकता पर बल दिया। खंड प्रधान सत्यनारायण जांगड़ा ने सम्मान समारोह को सफल बनाने पर सभी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम को प्रदेश महामंत्री राजपाल एडवोकेट, होशियार सिंह कोयलपुर, जोरा सिंह बेरी, राम अवतार जांगड़ा, प्रवीण जांगड़ा, सुरेश शास्त्री, जोरासिंह बेरी, जयभगवान आदि ने भी संबोधित किया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept