Subhash Chandra Bose: कृषि मंत्री जेपी दलाल का एलान, भिवानी में बनेगा नेताजी का भव्य स्मारक

Subhash Chandra Bose नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं जयंती पर कृषि मंत्री का एलान। कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि भिवानी में बनेगा नेताजी का भव्य स्मारक। उन्होंने कहा कि एक परिवार द्वारा उनको आजादी के बाद जो उचित सम्मान मिलना चाहिए था वह नहीं दिया गया।

Rajesh KumarPublish: Sun, 23 Jan 2022 01:48 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 01:48 PM (IST)
Subhash Chandra Bose: कृषि मंत्री जेपी दलाल का एलान, भिवानी में बनेगा नेताजी का भव्य स्मारक

जागरण संवाददाता, भिवानी। भिवानी में नेताजी सुभाष चंद्र बोस का भव्य स्मारक बनाने की तैयारी है। इस दौरान नेताजी की सबसे बड़ी प्रतिमा भी स्थापित की जाएगी। स्मारक स्थल बनाने के लिए कृषि मंत्री जेपी दलाल ने 21 लाख रुपये की घोषणा की थी। इसके साथ ही एक सर्वमान्य कमेटी बनाई है जो हर घर से दो से पांच रुपये एकत्रित करेगी। यह घोषणा कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने बोस की 125वीं जयंती पर एमसी कालोनी स्थित पार्क में आयोजित जयहिन्द बोस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए की। पार्क में ध्वजारोहण किया गया। इस दौरान पूरा सदन जयहिंद बोस और भारत माता के जयकारों से गूंज उठा। 

नेताजी को नहीं मिला उचित सम्मान

जेपी दलाल ने कहा कि देश को आजादी दिलाने में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता, अकेले अपने दम पर एक बहुत विशाल आजाद हिंद फौज खड़ी की। लेकिन, एक परिवार द्वारा उनको आजादी के बाद जो उचित सम्मान मिलना चाहिए था, वह नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि न केवल हिंदूस्तान वासियों ने बल्कि पूरी दुनिया के देशों ने माना है कि भारत को आजादी दिलाने में यदि किसी एकमात्र व्यक्ति का योगदान है तो वे नेताजी सुभाषचंद्र बोस हैं। उन्होंने आजाद हिंद की फौज की स्थापना कर युवाओं में देशभक्ति का संचार किया। 

विलक्षण प्रतिभा के धनी थे नेताजी

जेपी दलाल ने कहा कि देश की आजादी के 90 साल के संघर्ष में तीन लाख 27 हजार वीर सेनानियों ने अपना बलिदान दिया है, जिनको हम नमन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेताजी ने मात्र 23 साल की उम्र में उस समय की आइसीएस परीक्षा पास की। वे विलक्षण प्रतिभा के धनी थे और तत्कालीन कांग्रेस के निर्वाचित अध्यक्ष बने, लेकिन एक परिवार को यह सब गवारा नहीं था। भाजपा जिलाध्यक्ष शंकर धूपड़ से स्मारक के निर्माण के लिए एक सर्वमान्य कमेटी का गठन करने कहा और हर घर से कम से कम दो से पांच रुपए एकत्रित करने को कहा। 

जिलाध्यक्ष एडवोकेट शंकर धूपड़ ने कहा कि अमृत महोत्सव की श्रृंखला व कोरोना एसओपी की पालना के साथ प्रत्येक कार्यक्रम में 75-75 व्यक्तियों को शामिल करने का निर्णय लिया गया है।

उन्होंने कहा कि भिवानी जिला में 396 जगह 30 हजार लोग तथा पूरे प्रदेश में करीब छह लाख लोग एक साथ जयहिंद बोस बोलकर नेताजी अपने श्रद्धासुमन अर्पित कर रहे हैं। इस दौरान जिला महामंत्री हर्ष वर्धन मान, बृजपाल सिंह, संजय गिरधर, पार्षद हर्षदीप डुडेजा,  संजय दुआ, अनिल सोनी, सुंदरपाल तंवर, सुमिता डुडेजा, नवीन गुप्ता, मोक्ष कक्कड़, सतपाल परमार, नंदकिशोर आर्य, सोहन लाल पोपली, कांता बंसल, बिमला, शमशेर गुज्जर, सुमेर सैनी, कृषि मंत्री के निजी सचिव जेपी दुबे आत्म प्रकाश टुटेजा आदि मौजूद थे। 

Edited By Rajesh Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept