फतेहाबाद में सौर ऊर्जा सबमर्सिबल कनेक्शन के रुपये जमा करवाने के लिए लगी लंबी भीड़, पुलिस ने किया कंट्रोल

सबमर्सिबल कनेक्शन के रुपये जमा करवाने के लिए मंगलवार सुबह आइडीबीआइ बैंक के बाहर किसानों की भीड़ लग गई। इस भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। वहीं किसानों ने रोष जताया कि सरकार किसानों को परेशान कर रही है।

Manoj KumarPublish: Tue, 28 Dec 2021 12:08 PM (IST)Updated: Tue, 28 Dec 2021 12:08 PM (IST)
फतेहाबाद में सौर ऊर्जा सबमर्सिबल कनेक्शन के रुपये जमा करवाने के लिए लगी लंबी भीड़, पुलिस ने किया कंट्रोल

जागरण संवाददाता, फतेहबाद : खेतों में सौर ऊर्जा सबमर्सिबल कनेक्शन के रुपये जमा करवाने के लिए मंगलवार सुबह आइडीबीआइ बैंक के बाहर किसानों की भीड़ लग गई। इस भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। वहीं किसानों ने रोष जताया कि सरकार किसानों को परेशान कर रही है। जिले में अनेक बैंक है लेकिन केवल एक ही बैंक का चुनाव किया है। जिससे उन्हें परेशानी हो रही है। किसानों ने कहा कि सुबह से लाइनों में लगे हुए है। उन्हें पता तक नहीं है कि उसे कनेक्शन मिलेगा या नहीं।

पहले आओ पहले पाओ स्कीम के आधार पर सोलर कनेक्शन के लिए आनलाइन आवेदन शुरू हो गए है। तीन हार्स पावर से 10 हार्स पावर तक के सबमर्सिबल कनेक्शन पर 75 प्रतिशत अनुदान मिलेगा। किसान को जितने हार्स पावर का सोलर कनेक्शन चाहिए है, उसका आवेदन करने के बाद कुल राशि में से अनुदान काटने के बाद शेष देय राशि ही जमा करवानी है। सरल सेवा केंद्र या कामन सर्विस सेंटरों पर जाकर रसीद जमा करवानी है।

एक साथ 800 किसान पहुंच गए

जिला प्रशासन ने एक दिन पहले ही साइट खोली थी। ऐसे में 800 से अधिक किसानों ने आवेदन कर दिया। मंगलवार को आइडीबीआइ बैंक में राशि भी जमा करवानी है। इसी को लेकर सुबह 7 बजे से ही लाइन लग गई। लेकिन किसान अधिक होने के कारण बैंक प्रबंधन को पुलिस बुलानी पड़ी। करीब 10 से अधिक पुलिस कर्मचारी पहुंचे और किसानों को लाइनों में लगवाया। किसान सुरजीत सिंह, भूप सिंह, महेश कुमार व दिलजीत सिंह ने बताया कि केवल किसानों को परेशान किया जा रहा है। पहले राशि जमा नहीं करवानी पड़ती थी। जब कनेक्शन निकल जाता था तो राशि भरनी पड़ती थी।

लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। केवल उन्हे कनेक्शन दिया जाएगा तो पहले भरेगा। किसानों का आरोप है कि अगर उनका कनेक्शन नहीं निकला तो फिर तीन से चार महीने बाद उनकी राशि वापस होगी। ऐसे में जिन किसानों को कनेक्शन देना है उनके ही रुपये भरवाने चाहिए। किसानों का आरोप है कि जिले में अनेक बैंक है। ऐसे में अलग अलग बैंक में यह सुविधा देनी थी। लेकिन ऐसा नहीं किया गया।

इतने हार्स पावर तक के लिए जमा करवाएं राशि

पंप क्षमता नार्मल कंट्रोलर के साथ देय राशि यूनिवर्सल कंट्रोलर के साथ देय राशि

3 एचपी मोनो ब्लाक (डीसी) 45075 रुपये 66477 रुपये

5 एचपी मोनो ब्लाक (डीसी) 64581 रुपये 80099 रुपये

7.5 एचपी मोनो ब्लाक (डीसी) 91894 रुपये 127600 रुपये

10 एचपी मोनो ब्लाक (डीसी) 115507 रुपये 170218 रुपये

3 एचपी (डीसी) 46658 रुपये 68634 रुपये

3 एचपी (एसी) 45378 रुपये 65817 रुपये

5 एचपी (डीसी) 64724 रुपये 86760 रुपये

5 एचपी (एसी) 64581 रुपये 84740 रुपये

7.5 एचपी (डीसी) 92007 रुपये 138433 रुपये

7.5 एचपी (एसी) 92462 रुपये 127372 रुपये

10 एचपी (एसी) 113515 रुपये 176875 रुपये

10 एचपी (एसी) 113515 रुपये 176329 रुपये

------पहले आओ पहले पाओ के आधार पर ही कनेक्शन मिलेंगे। फार्म भरने के बाद सब्सिडी छोड़कर अन्य राशि जमा करवानी होगी। इसके लिए आइडीबीआई बैंक का ही चयन किया गया है। केवल एक किसान एक ही आवेदन कर सकता है।

अजय चोपड़ा, अतिरिक्त उपायुक्त फतेहाबाद।

Edited By Manoj Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept