Viral Fever: कमजोर हुआ डेंगू का डंग, अब परेशान करने लगा वायरल बुखार, इन बातों का रखें ध्यान

Viral Fever रोहतक में डेंगू के मामले घटे है। डेंगू से तो राहत मिल गई है लेकिन वायरल बुखार ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। ओपीडी में बुखार से परेशान होकर पहुंच रहे हर किसी मरीज को खांसी-जुकाम की समस्या है।

Rajesh KumarPublish: Mon, 22 Nov 2021 08:16 PM (IST)Updated: Mon, 22 Nov 2021 08:16 PM (IST)
Viral Fever: कमजोर हुआ डेंगू का डंग, अब परेशान करने लगा वायरल बुखार, इन बातों का रखें ध्यान

जागरण संवाददाता, रोहतक।  Viral Fever: डेंगू का डंक अब कमजोर होने लगा है। लेकिन चिंता की बात यह है कि अब वायरल के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। सामान्य अस्पताल की ओपीडी में ऐसे मरीजों की संख्या अब पहले से डेढ गुना हो गई है। ओपीडी में बुखार से परेशान होकर पहुंच रहे हर किसी मरीज को खांसी-जुकाम की समस्या है। चिकित्सकों के अनुसार वायरल बुखार में मरीजों को सिर में दर्द के साथ ही जोड़ों के दर्द और गले में दर्द की समस्या दिखाई देती है। इसके साथ ही वायरल फीवर में शरीर का तापमान समय समय पर तेजी से उतरता और चढ़ता रहता है। वहीं बीमार व्यक्ति को खांसी की समस्या के साथ ही उल्टी, दस्त और आंख से पानी निकलने की समस्या से दो-चार होना पड़ सकता है।

ठंड से बच्चों में बढ़ रहे निमोनिया के केस

बाल रोग विशेषज्ञ डा. जसबीर परमार के अनुसार इन दिनों में बच्चों में निमोनिया के केस बढ़ रहे हैं। ठंड की शुरुआत होने के कारण बच्चों में सर्दी, खांसी बुखार, गले में खराश, एलर्जी, सांस की बीमारियों के मामलों में भी बढ़ोतरी देखी जा रही है। बच्चों में बैक्टिरियल और वायरल दोनों तरह के निमोनिया के मामले देखे जा रहे हैं। सामान्य अस्पताल की पीडियाट्रिक ओपीडी में इन दिनों में 15 से 20 बच्चे निमोनिया से ग्रस्त होकर पहुंच रहे हैं। वहीं हर रोज दो से तीन बच्चों को भर्ती करना पड़ रहा है।

ठंड में बच्चों के लिए रखें ये सावधानी

ठंड से बचाने के लिए बच्चों को अच्छे से कवर करके रखें और उनके खान-पान में गर्म और इम्यूनिटी बढ़ाने वाली डाइट को महत्व दें। इसके अलावा भी कुछ सावधानियां बेहद जरूरी हैं जैसे- हाइजीन का खास ध्यान रखा जाए, दिन में कई बार बच्चों को हाथ धुलने की आदत डलवाएं, अधिक से अधिक पेय और गर्म पेय का सेवन कराएं। वहीं बच्चों को घर से बाहर गर्म कपड़े पहनाकर नहीं निकलने दें व बच्चों के लिए ज्यादातर इंडोर गेम्स पर ही फोकस रखें।

डेंगू के आए केवल सात केस

रोहतक में डेंगू का आंकड़ा अब काफी कम होने लगा है। सोमवार को डेंगू के केवल सात केस आए, वहीं रविवार को भी पांच ही केस आए थे। जिले में अब 418 केस दर्ज किए गए हैं। जिले में सोमवार को 26 घरों में डोंगू लारवा मिले हैं। रविवार को लाखन माजरा, मूंगान, घरोठी, शोरा कोठी, मेडिकल कैंपस, पटेल नगर में एक-एक केस आया है।

Edited By Rajesh Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept