वोट बनवाने को 1500 अधिवक्ताओं ने दिए हलफनामे

मंगलवार को पहले दिन हलफनामा देने के लिए अधिवक्ताओं का बार एसोसिएशन कार्यालय में तांता लगा रहा। पहला हलफनामा जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अभय सिंह दायमा ने हस्ताक्षर किया।

JagranPublish: Tue, 07 Dec 2021 07:04 PM (IST)Updated: Tue, 07 Dec 2021 07:18 PM (IST)
वोट बनवाने को 1500 अधिवक्ताओं ने दिए हलफनामे

महावीर यादव, गुरुग्राम

जिला बार एसोसिएशन के चुनाव के लिए इस बार कई नई व्यवस्थाएं की गई हैं। नान-प्रैक्टिस अधिवक्ताओं का पत्ता साफ करने के लिए मतदाता सूची तैयार करने को हलफनामे लिए जा रहे हैं। मंगलवार को पहले दिन हलफनामा देने के लिए अधिवक्ताओं का बार एसोसिएशन कार्यालय में तांता लगा रहा। 1500 अधिवक्ताओं ने वोट बनवाने के लिए चुनाव समिति को हलफनामा दिया है। पहला हलफनामा जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अभय सिंह दायमा ने हस्ताक्षर किया। मंगलवार को सबसे आखिरी हलफनामा देने वाले एसोसिएशन के संयुक्त सचिव संदीप यादव रहे।

17 दिसंबर को होने वाले जिला बार एसोसिएशन के चुनाव के लिए गहमा-गहमी शुरू हो गई है। बार काउंसिल ने चुनाव समिति का गठन किया है। इस बार चुनाव में नान-प्रैक्टिस अधिवक्ताओं को मतदान से बाहर रखने के लिए कवायद शुरू की गई है। इसके साथ ही एक से अधिक स्थान पर वोट डालने वाले अधिवक्ताओं पर भी शिकंजा कसने की तैयारी की गई है। इसके लिए मतदाता सूची तैयार करने से पहले अधिवक्ताओं से हलफनामा लेने की पहल की गई है। मंगलवार को हलफनामा लेने की प्रक्रिया शुरू की गई। 10 दिसंबर तक हलफनामा देने वाले अधिवक्ता का ही नाम मतदाता सूची में शामिल किया जाएगा।

संभावित उम्मीदवारों के साथ 12 मुद्दों पर बनी सहमति

निष्पक्ष तथा पारदर्शी चुनाव के लिए चुनाव समिति ने मशक्कत शुरू कर दी है। संभावित उम्मीदवारों और जिला बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ चुनाव समिति के चेयरमैन अनिल यादव ने बैठक की। सर्वसम्मति से 12 मुद्दों पर सहमति बनी। 30 नवंबर से पहले रजिस्टर्ड या अपनी सभी देनदारियां जिला बार एसोसिएशन को अदा करने वाले अधिवक्ता को ही वोट का अधिकार होगा।

किसी दूसरे प्रदेश की बार काउंसिल से अपना नाम हटाकर पंजाब तथा हरियाणा बार काउंसिल में रजिस्टर्ड कराने वाले अधिवक्ता को वोट का अधिकार दिया जाएगा। यह अधिकार केवल उस अधिवक्ता को होगा जिसकी तबादला प्रक्रिया 30 नवंबर से पहले पूरी हो चुकी है। नामांकन के बाद सभी उम्मीदवारों को अदालत परिसर व शहर में लगे अपने होर्डिंग हटाने होंगे। 15 दिसंबर के बाद उम्मीदवारों को कार्ड और इश्तिहार आदि वितरित करने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। 16 दिसंबर को चुनाव प्रचार बंद कर दिया जाएगा।

बैठक में जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अभय सिंह दायमा, महासचिव निकेश राज यादव, विनोद कटारिया नवीन यादव रामवीर सिंह चौहान सुनील कुमार शर्मा किरन आश्री, लोकेश वशिष्ठ, देवेंद्र यादव, अनुज सहरावत, राहुल भारद्वाज, राजेश यादव, योगेश भारद्वाज, संदीप यादव मौजूद रहे।

कई अधिवक्ता दूसरे की पर्ची लेकर कर गए हस्ताक्षर

वोटर लिस्ट में नाम दर्ज कराने के लिए हलफनामा हस्ताक्षर करने की पहल के बाद अधिवक्ताओं में हड़कंप मचा हुआ है। वोटर लिस्ट में नाम दर्ज कराने के लिए कई अधिवक्ता दूसरे के हलफनामे पर भी हस्ताक्षर कर गए। चुनाव समिति ने इस तरह के कई अधिवक्ताओं की पहचान की है। ऐसे मतदाताओं को चुनाव सूची में नाम दर्ज होने के बाद भी वोट का अधिकार नहीं दिया जाएगा।

पहले दिन 1500 अधिवक्ताओं ने हलफनामे पर हस्ताक्षर किए हैं। कई अधिवक्ताओं ने दूसरे अधिवक्ता के नाम पर भी हस्ताक्षर किए हैं। ऐसे अधिवक्ताओं पर पूरी नजर है। गलत तरीके से हलफनामा देकर मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने वालों को वोटिग के समय पकड़ लिया जाएगा। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई के साथ-साथ अधिवक्ता अधिनियम (एडवोकेट्स एक्ट) के तहत भी कार्रवाई की जाएगी।

-अनिल यादव, चेयरमैन, चुनाव समिति, जिला बार एसोसिएशन

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept