किराए के भवन में चल रहा बिजली निगम कार्यालय, मुख्यालय में अटकी फाइल

पवन शर्मा बाढड़ा कस्बे के जुई रोड स्थित उपमंडल बिजली कार्यालय के 50 वर्ष पुराने जर्जर

JagranPublish: Mon, 15 Jul 2019 12:04 AM (IST)Updated: Mon, 15 Jul 2019 12:04 AM (IST)
किराए के भवन में चल रहा बिजली निगम कार्यालय, मुख्यालय में अटकी फाइल

पवन शर्मा, बाढड़ा :

कस्बे के जुई रोड स्थित उपमंडल बिजली कार्यालय के 50 वर्ष पुराने जर्जर भवन व टपकती छतों के कारण बढ़ रही दिक्कतों को देखते हुए यहां से प्रशासनिक कार्य किसान भवन के समीप किराए के भवन में शुरू करने का निर्णय लिया गया, जिसे लेकर समस्त रिकार्ड को वहां रखवा तो दिया है लेकिन अब यहां पर नए भवन निर्माण को लेकर कोई कदम नहीं उठाए जा रहे। किराए के भवन में चल रहे कार्य से अभी भी कर्मचारी व आम उपभोक्ता परेशानी से जूझ रहे हैं, वहीं नवीनीकरण के बजट की फाइल राज्य मुख्यालय में अटक गई है। कस्बे के उपमंडल बिजली कार्यालय में मौजूदा समय में 50 गांवों की बिजली आपूर्ति के लिए कार्य किया जाता है। लगभग 50 वर्ष पूर्व बने इस कार्यालय में 1995 की कादमा किसान कांड आंदोलन में हुई आगजनी के बाद मौजूदा समय में दीवारों में बड़ी-बड़ी दरारें व छतें पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं। बरसात के सीजन में छत से आने वाले पानी से सारा रिकार्ड खराब होने के साथ ही भवन गिरने का भी भय बना रहता था। कर्मचारियों को अपनी जानमाल की सुरक्षा को लेकर चिता सता रही थी। दो वर्ष पूर्व दैनिक जागरण ने मामले को प्रमुखता से प्रकाशित किया तो प्रदेश सरकार की नींद टूटी और कस्बे के किसान भवन के समीप किराए के भवन में सारे रिकार्ड को रखवाया गया।

-------

उपमंडल बनाया पर विकास नहीं

ग्रामीण बिजली उपभोक्ताओं ने बताया कि सरकार बाढ़ड़ा को उपमंडल का दर्जा देकर विकास कराना भूल गई है। यहां पर बिजली निगम के कार्यालय का नवीनीकरण करवाने के लिए बजट नहीं दिया जा रहा। इस बारे में निगम के एसडीओ दीवान चंद से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि बरसात के कारण महत्वपूर्ण रिकार्ड खराब हो रहा था, इसीलिए कर्मचारियों से सलाह कर निजी भवन में कामकाज करने का निर्णय लिया था। भवन को तोड़ कर नए भवन निर्माण की फाइल चंडीगढ़ है और बजट मिलते ही लोक निर्माण विभाग के सहयोग से काम शुरू किया जाएगा।

--------

जर्जरहाल है भवन

बाढड़ा क्षेत्र को 1970 से पहले झोझूकलां के बड़े बिजली घर से बिजली मिलती थी, लेकिन सत्तर के दशक में तत्कालीन मुख्यमंत्री बंसीलाल के समय में बिजली विभाग द्वारा कस्बे के 132 केवी आपूर्ति व विभागीय उपमंडल बिजली कार्यालय के विशाल भवन का निर्माण हुआ। लगभग 50 वर्ष का समय गुजरने व विभाग द्वारा देखभाल न करने से करोड़ों रुपयों का यह भवन आज जर्जरहाल में है।

-------

जल्द मिलेगा बजट : सुखविद्र

स्थानीय विधायक सुखविद्र मांढी ने कहा कि कस्बे के पुराने बिजली कार्यालय का लोक निर्माण विभाग की टीमें मुआयना कर चुकी हैं। मौजूदा भवन को तोड़ कर उसके स्थान पर नया भवन बनाने की दिशा में तेजी से काम कर रही हैं। वे स्वयं इस मांग को लेकर दो बार सीएम मनोहरलाल व निगम के सीएमडी से मिल चुके हैं। जल्द ही नए भवन के निर्माण के लिए बजट मिलेगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम