This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

अंबाला में कोरोना संक्रमण से छह की मौत

कोरोना की दूसरी लहर में सोमवार को अस्पताल में ऑक्सीजन सपोर्ट पर इलाज करा रहे छह मरीजों की मौत हो गई जबकि 110 नए मामले सामने आए। जबकि 24 घंटे के भीतर अस्पतालों में उपचाराधीन और होम आइसोलेट 319 मरीजों ने कोरोना को मात देकर जंग जीती।

JagranTue, 25 May 2021 07:05 AM (IST)
अंबाला में कोरोना संक्रमण से छह की मौत

जागरण संवाददाता, अंबाला : कोरोना की दूसरी लहर में सोमवार को अस्पताल में ऑक्सीजन सपोर्ट पर इलाज करा रहे छह मरीजों की मौत हो गई, जबकि 110 नए मामले सामने आए। जबकि 24 घंटे के भीतर अस्पतालों में उपचाराधीन और होम आइसोलेट 319 मरीजों ने कोरोना को मात देकर जंग जीती। कोरोना को मात देने वाले मरीजों की संख्या 26985 को देखते हुए रिकवरी रेट 93.56 प्रतिशत हो गया। जिले में होम आइसोलेट कोरोना के मरीजों के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है। सोमवार को एक ही दिन में 319 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके है। इस समय जिले में महज 1405 मरीज ही एक्टिव हैं।

कोरोना से 24 घंटे में 6 मरीजों की मौत के साथ जिले में अब तक मरने वालों की संख्या 453 हो गई है। जबकि सिर्फ मई 2021 में ही कोरोना संक्रमण की वजह से 212 लोग जान गवां चुके हैं। वहीं अब तक जिले में कोरोना से संक्रमित होने वालों का आंकड़ा 28843 तक पहुंच गया है। सोमवार को कोरोना संक्रमण से 576 मरीज सरकारी और निजी अस्पतालों में उपचाराधीन हैं, जिसमें 29 मरीज बाईपेप और वेंटिलेटर सपोर्ट हैं, जबकि 181 लोगों का ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखकर डाक्टर इलाज कर रहें हैं।

-------------

मेक्रो कंटेनमेंट जोन में एक्टिव हैं मरीज

शहर अथवा गांवों के जिस गली से अधिक कोरोना संक्रमित मिल रहे थे, उसे प्रशासन ने मेक्रो कंटेनमेंट जोन बनाते हुए बैरिकेड्स लगा रखा है। मेक्रो कंटेनमेंट जोन में सोमवार तक 208 मरीज एक्टिव बताए जा रहें हैं। एक्टिव मरीजों के घर पर नियमित स्क्रीनिग और दवाएं पहुंचाने का कार्य स्वास्थ्य विभाग की आयुष और आशा वर्कर के साथ एएनएम कर रही हैं।

----------------- पालम विहार और सेक्टर-9 मेक्रो कंटेनमेंट जोन से बाहर

जासं, अंबाला शहर: प्रशासन ने छावनी के पालम विहार और शहर में सेक्टर-9 को मेक्रो कंटेनमेंट जोन से बाहर कर दिया है। इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर लोगों की थर्मल स्क्रीनिग करेगी और फ्लू के लक्षण मिलने वालों के नमूने लेने का काम जारी रहेगा।

मालूम हो कि अप्रैल और मई में कोरोना संक्रमित मरीजों का ग्राफ तेजी से बढ़ा था। कैंट के पालम विहार और शहर के सेक्टर-9 में हर रोज कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे थे। इसलिए प्रशासन ने 26 अप्रैल को मेक्रा कंटेनमेंट जोन बना दिया, ताकि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके। अब यहां पर काफी दिन से कोरोना संक्रमण के नए मरीज नहीं मिल रहे हैं। इसलिए प्रशासन ने दोनों मेक्रो कंटेनमेंट जोन को खत्म कर दिया है। हालांकि यहां पर लोगों के जाने पर प्रतिबंध नहीं होगा, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर लोगों की थर्मल स्क्रीनिग करने का काम जारी रखेगी।

अंबाला में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!