Gujarat: गांधीनगर महानगर पालिका में चुनाव 18 अप्रैल को, 20 को नतीजे

Gujarat गांधीनगर महानगर पालिका में 18 अप्रैल को चुनाव होगा तथा 20 अप्रैल को परिणाम घोषित होंगे। उधर मोरवा हड़फ विधानसभा का उपचुनाव 17 अप्रैल को कराया जाएगा। गांधीनगर महानगर पालिका के चुनाव की अधिसूचना 27 मार्च को जारी होगी नामांकन की अंतिम तिथि एक अप्रैल रखी गई है।

Sachin Kumar MishraPublish: Fri, 19 Mar 2021 05:51 PM (IST)Updated: Fri, 19 Mar 2021 05:51 PM (IST)
Gujarat: गांधीनगर महानगर पालिका में चुनाव 18 अप्रैल को, 20 को नतीजे

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। Gujarat: गुजरात में चुनाव आयोग ने गांधीनगर महानगर पालिका के चुनाव की घोषणा कर दी है। 18 अप्रैल को गांधीनगर में चुनाव होगा तथा 20 अप्रैल को परिणाम घोषित होंगे। उधर, मोरवा हड़फ विधानसभा का उपचुनाव 17 अप्रैल को कराया जाएगा। राज्य चुनाव आयोग के सचिव महेश जोशी के अनुसार, गांधीनगर महानगर पालिका के चुनाव की अधिसूचना 27 मार्च को जारी होगी नामांकन की अंतिम तिथि एक अप्रैल रखी गई है। 18 अप्रैल को गांधीनगर महानगरपालिका के लिए चुनाव होगा तथा 20 अप्रैल को इसका परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। गुजरात में हाल ही संपन्न स्थानीय निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने प्रचंड जीत हासिल की ती। भाजपा जहां सभी छह महानगरपालिका तथा सभी 33 जिला पंचायतों में सत्ता पर काबिज हुई, वही 81 नगर पालिकाओं में से 80 फीसदी में भी भाजपा ने सफलता हासिल की थी। उधर, मोरवा हड़फ विधानसभा से निर्वाचित हुए भूपेंद्र सिंह खांट के निधन के चलते उप चुनाव की घोषणा की गई है। इस सीट पर 17 अप्रैल को उपचुनाव होगा। विधानसभा क्षेत्र के 218793 मतदाता 254 मतदान केंद्रों पर मतदान कर सकेंगे। 

गुजरात में पंचमहाल जिले की मोरवा हड़प विधानसभा सीट पर 17 अप्रैल को उपचुनाव के लिए मतदान होगा। दो मई को मतगणना होगी। मंगलवार को चुनाव आयोग ने यह जानकारी दी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) स्थानीय निकाय चुनाव के साथ ही आगामी 2022 तक के विधानसभा चुनाव की भी तैयारी कर चुकी है। वहीं, आम आदमी पार्टी (आप) विधानसभा उपचुनाव लड़ने के लिए तैयार नहीं लगती है। वह अपना पूरा ध्यान आगामी विधानसभा पर लगाए हुए हैं। जबकि कांग्रेस अंदरूनी खींचतान में गुटबाजी में उलझी हुई है। विधानसभा उपचुनाव से अधिक वह अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए खुद को तैयार करने की कोशिश कर रही है। गुजरात में पंचमहाल जिले की मोरवा हड़प विधानसभा सीट से भूपेंद्र खांट ने 2017 में बतौर निर्दलीय चुनाव जीता था, लेकिन उनके अनुसूचित जनजाति के प्रमाण पत्र को लेकर विवाद के चलते विधानसभा अध्यक्ष ने उनकी सदस्यता को रद कर दिया था।

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept