बार्सिलोना घरेलू मैदान पर फिर हारा, ला लीगा मुकाबले में रायो वालेकानो से मिली हार

बार्सिलोना को रायो वालेकानो ने 1-0 से हराया। यह पहला अवसर है जब बार्सिलोना ने किसी एक सत्र में सभी प्रतियोगिताओं में अपने घरेलू मैदान पर लगातार तीन मैच गंवाए हैं। बार्सिलोना की हार से रीयल मैड्रिड अब अपने दूसरे खिताब से केवल एक अंक दूर रह गया है।

Sanjay SavernPublish: Mon, 25 Apr 2022 07:51 PM (IST)Updated: Mon, 25 Apr 2022 07:51 PM (IST)
बार्सिलोना घरेलू मैदान पर फिर हारा, ला लीगा मुकाबले में रायो वालेकानो से मिली हार

मैड्रिड, एपी। बार्सिलोना की घरेलू मैदान पर तीसरी हार के कारण रीयल मैड्रिड का स्पेनिश लीग ला लीगा का खिताब जीतने का रास्ता भी साफ हो गया।

बार्सिलोना को रायो वालेकानो ने 1-0 से हराया। यह पहला अवसर है जब बार्सिलोना ने किसी एक सत्र में सभी प्रतियोगिताओं में अपने घरेलू मैदान पर लगातार तीन मैच गंवाए हैं। बार्सिलोना की हार से रीयल मैड्रिड अब पिछले तीन सत्र में अपने दूसरे खिताब से केवल एक अंक दूर रह गया है। रीयल मैड्रिड के पास शनिवार को खिताब जीतने का मौका रहेगा जब वह एस्पेनयोल की मेजबानी करेगा। वह अभी दूसरे नंबर पर काबिज बार्सिलोना से 15 अंक आगे है। लीग में अभी पांच दौर के मैच खेले जाने बाकी हैं।

बार्सिलोना ने इससे पहले रायो वालेकानो के खिलाफ अपने घरेलू मैदान पर लगातार सात मैच जीते थे लेकिन वालेकानो के अलवारो गर्सिया के सातवें मिनट में किए गोल से उसका यह विजय अभियान थम गया। इस हार के बाद बार्सिलोना के तीसरे नंबर पर काबिज सेविया के बराबर अंक रह गए हैं। वह चौथे स्थान की टीम एटलेटिको मैड्रिड से केवल दो अंक आगे है। लीग में चोटी पर रहने वाली चार टीम चैंपियंस लीग में जगह बनाएगी। ला लीगा में दूसरे स्थान पर रहने वाली टीम स्पेनिश सुपर कप में भी जगह बनाएगी जो सऊदी अरब में खेला जाएगा।

बजाज ने लगाए कुशल पर कर्मचारियों से छेड़छाड़ के आरोप

नई दिल्ली, प्रेट्र। आई-लीग क्लब मिनर्वा पंजाब एफसी के पूर्व मालिक और उद्यमी रंजीत बजाज ने सोमवार को आरोप लगाया कि अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआइएफएफ) के महासचिव कुशल दास ने कार्यस्थल पर कर्मचारियों से छेड़छाड़ की है। एआइएफएफ और उसके शीर्ष अधिकारी ने हालांकि इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। बजाज के पास मिनर्वा पंजाब का सात साल तक स्वामित्व था। उन्होंने आरोप लगाया कि दास के खिलाफ कार्यस्थल पर कर्मचारियों के साथ छेड़छाड़ के दो मामले थे और यौन उत्पीड़न की शिकायतों से निपटने वाली समिति ने एआइएफएफ अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल के दबाव के कारण इस मामले को रफा-दफा कर दिया था।

बजाज ने ट्वीट किया, 'कुशल दास इस्तीफा दे दो नहीं तो मैं आपकी उन गतिविधियों का खुलासा करूंगा जिन्हें प्रफुल्ल पटेल ने रफा-दफा करवा दिया था।कार्यस्थल पर अपने कर्मचारियों के साथ छेड़छाड़ के दो मामले थे। एआइएफएफ के यौन उत्पीड़न शिकायत अधिकारी के प्रमुख को प्रफुल्ल पटेल ने इस रिपोर्ट को दबाने के लिए मजबूर किया था।'

Edited By Sanjay Savern

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept