Sushant Singh Rajput Case: पीएम नरेंद्र मोदी से 'मन की बात' करेंगे सुशांत के फैंस, बहन श्वेता ने शेयर किया मैसेज

Sushant Singh Rajput Death Case एक्टर के निधन के बाद से ही सोशल मीडिया में इसका सच जानने के लिए परिवार और फैंस की ओर से लगातार मुहिम चलाई जा रही है। अब सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने एक नई मुहिम का एलान किया है।

Manoj VashisthPublish: Tue, 13 Oct 2020 03:20 PM (IST)Updated: Wed, 14 Oct 2020 10:58 AM (IST)
Sushant Singh Rajput Case: पीएम नरेंद्र मोदी से 'मन की बात' करेंगे सुशांत के फैंस, बहन श्वेता ने शेयर किया मैसेज

नई दिल्ली, जेएनएन। आज (14 अक्टूबर) को सुशांत सिंह राजपूत के दुखद निधन को 4 महीने पूरे हो गये। केस की जांच सीबीआई कर रही है। आधिकारिक तौर पर अभी तक यह पुष्टि नहीं हो सकी है कि सुशांत की मौत आत्महत्या थी या हत्या। एक्टर के निधन के बाद से ही सोशल मीडिया में इसका सच जानने के लिए परिवार और फैंस की ओर से लगातार मुहिम चलाई जा रही है। अब सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने एक नई मुहिम का एलान किया है, जो 14 अक्टूबर को दिनभर चलाई जाएगी। इस ख़ास मुहिम के तहत सुशांत के फैंस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने संदेश भेजकर मन की बात कहेंगे।

श्वेता ने ट्विटर पर इसकी जानकारी देते हुए लिखा- Mann Ki Baat 4 SSR न्याय और सच जानने के लिए अपनी आवाज़ उठाने का अच्छा अवसर है। हम इस उपक्रम में लोग संगठित रहकर दिखा सकते हैं कि जनता को न्याय का इंतज़ार है। मैं अपने विस्तारित परिवार का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं जिन्होंने हमेशा मेरा साथ दिया। 

श्वेता ने जानकारी शेयर की है, उसके मुताबिक 14 अक्टूबर को सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक सुशांत के चाहने वाले प्रधानमंत्री के मन की बात पोर्टल पर रिकॉर्डेड संदेश भेजेंगे। इसके अलावा फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर मैसेज लिखकर पीएमओ और पीएम को टैग किया जाएगा। 

14 जून को मिला था सुशांत का मृत शरीर

सुशांत सिंह राजपूत का मृत शरीर 14 जून को उनके बांद्रा स्थित आवास पर मिला था। शुरुआत में इसे सुसाइड का मामला माना गया। हालांकि, कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी सुसाइड की पुष्टि हुई थी। मुंबई पुलिस ने पेशेवर रंजिश के एंगल से भी जांच की। हालांकि, परिवार, दोस्त और फैंस इससे संतुष्ट नहीं थे। कुछ दिन बाद सोशल मीडिया के ज़रिए सुशांत केस की सीबीआई जांच की मांग शुरू कर दी गयी।

पिता ने पटना में दर्ज़ करवाई रिपोर्ट

25 जुलाई को सुशांत के पिता केके सिंह ने पटना के राजीव नगर थाने में रिया चक्रवर्ती, भाई शौविक चक्रवर्ती, पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती और मां संध्या चक्रवर्ती के साथ हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा और मैनेजर श्रुति मोदी के ख़िलाफ़ रिपोर्ट दर्ज़ करवाई। इसके बाद बिहार पुलिस मुंबई जांच करने गयी। कुछ दिन बाद बिहार सरकार ने केस की जांच सीबीआई से करवाने की अनुशंसा केंद्र सरकार से की, जिसे केंद्र ने तुरंत स्वीकार कर लिया। इस बीच रिया ने बिहार पुलिस की रिपोर्ट को मुंबई ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच जारी रखने की अनुमति दे दी। सीबीआई ने बिहार पुलिस द्वारा दर्ज़ एफआईआर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज़ करके जांच शुरू कर दी। 

सीबीआई से पहले प्रवर्तन निदेशालय इस केस में वित्तीय हेराफेरी की जांच शुरू कर चुका था। सुशांत के पिता ने एफआईआर में 15 करोड़ रुपये हड़पने का आरोप रिया और उनके परिवार पर लगाया था। हालांकि, ईडी की जांच में इस दावे की पुष्टि नहीं हुई। बाद में वॉट्सऐप चैट्स के आधार पर ड्रग्स कनेक्शन सामने आया और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की एंट्री हुई। एनसीबी ने 8 सितम्बर को रिया को गिरफ़्तार कर लिया था। लगभग एक महीने जेल में रहने के बाद रिया को 7 अक्टूबर को बॉम्बे हाई कोर्ट से जमानत मिल गयी। 

Edited By Manoj Vashisth

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept