This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

प्रियंका चोपड़ा, शाहरुख़, शिल्पा समेत ये बॉलीवुड स्टार्स भी हुए हैं नस्लभेद के शिकार, लंबी है लिस्ट

Bollywood Celebs Faced Racism अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉइड के साथ अमेरिकी पुलिस द्वारा हुई बर्बरता के बाद कई देशों में नस्लभेद और रंगभेद का मुद्दा फिर गरमा गया है।

Nazneen AhmedWed, 03 Jun 2020 01:44 PM (IST)
प्रियंका चोपड़ा, शाहरुख़, शिल्पा समेत ये बॉलीवुड स्टार्स भी हुए हैं नस्लभेद के शिकार, लंबी है लिस्ट

नई दिल्ली, जेएनएन। अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉइड के साथ अमेरिकी पुलिस द्वारा की गई बर्बरता के बाद कई देशों में नस्लभेद और रंगभेद का मुद्दा फिर गरमा गया है। अमेरिका के कई शहरों में तो इसके खिलाफ जोरदार प्रदर्शन चल रहा है। नस्लभेद के मुद्दे पर अब भारत में भी जोरदार चर्चा शुरू गई है।

कई भारतीय सेलेब्स ने जॉर्ज फ्लाइड की मौत को निंदनीय घटना बताया है। सेलेब्स के रिएक्शन के साथ ही इससे मुद्दे पर लोगों की राय दो फाड़ हो गई है। कुछ सेलेब्स को ट्रोल कर रहे हैं तो कुछ उनकी सराहना कर रहे हैं। वैसे, रंगभेद-नस्लभेद का बॉलीवुड से पुराना नाता रहा है। ऐसे कई सेलेब्स हैं जिन्हें समय-समय पर रंगभेद और नस्लभेद का शिकार होना पड़ा है। कभी किसी को रंग की वजह से तो कभी किसी को उनके नाम की वजह से परेशानी और ज़िल्लत उठानी पड़ी है। हम आपको बताते हैं उन सेलेब्स के नाम जो इसका शिकार हुए हैं।

शिल्पा शेट्टी : बॉलीवुड की जानी मानी एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी भी रंगभेद का शिकार हो चुकी हैं। शिल्पा ने यूके में एक रियलिटी शो Big Brother में भाग लिया था। इस दौरान उन्हें रंगभेद टिप्पणी का शिकार होना पड़ा था। शो की एक कंटेस्टेंट जेड गुडी ने शिल्पा पर रंगभेद टिप्पणी की थी। इस घटना का काफी विरोध भी हुआ था। हालंकि इस शो ने शिल्पा को अंतर्रायष्ट्रीय पहचान भी दिला दी थी। शिल्पा शो की विनर रही थीं।

प्रियंका चोपड़ा : प्रियंका चोपड़ा आज इंटरनेशनल स्टार बन चुकी हैं। लेकिन अमेरिका के ही स्कूल में उन्हें रंगभेद का शिकार होना पड़ा था। एक इंटरव्यू में प्रियंका ये खुलासा कर चुकी हैं कि अमेरिका में उन्हें स्कूल के दिनों में उनके सांवले रंग की वजह से लोग ब्राउनी कहकर चिढ़ाते थे। प्रियंका ने ये भी बताया था कि रंगभेद के चलते उन्हें एक हॉलीवुड फिल्म भी गंवानी पड़ी थी। आपको बता दें कि प्रियंका ने अमेरिका से ही पढ़ाई की है।

ये भी पढ़ें : George Floyd Death से जुड़ी पोस्ट करने पर ईशान ख़ट्टर से उलझा फॉलोअर तो सुना दी खरी-खरी

जॉन अब्राहम और बिपाशा बसु : जॉन अब्राहम, बिपाशा बसु और अरशद वारसी भी नस्लभेदी टिप्पणी का शिकार हो चुके हैं। ये बात फिल्म 'दे दना दन गोल' की शूटिंग के दौरान की है। एक इंटरव्यू में जॉन ने बताया था कि फिल्म की शूटिंग लंदन के एक ट्रैफिक सिग्नल पर हो रही थी। तभी उनके पास एक कार आकर रुकी जिसमें दो गोरे लड़के बैठे हुए थे। इन दोनों ने एक गाना शुरू कर दिया जिसमें वे भारत का मजाक बना रहे थे।

शाहरुख़ खान : अमेरिका के एयरपोर्ट पर शाहरुख खान की घंटे चेंकिंग किए जाने का मुद्दा खूब गरमाया था। शाहरुख खान को एक बार नहीं कई बार अमेरिका में नस्लीय भेदभाव का शिकार होना पड़ा है। पहली बार शाहरुख को साल 2009 में अमेरिका के एयरपोर्ट पर रोक लिया गया। एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों के कान 'शाहरुख' नाम सुनकर ही खड़े हो गए थे। शाहरुख को एयरपोर्ट पर लगभग 2 घंटे रोक कर रखा गया था। इसके बाद शाहरुख को साल 2012 में भी कुछ ऐसी ही परिस्थिति का सामना करना पड़ा जब वह नीता अंबानी के साथ न्यूयॉर्क एक यूनिवर्सिटी में लेक्चर देने पहुंचे थे।

नील नितिन मुकेश: नील नितिन मुकेश भी नस्लभेद का शिकार हो चुके हैं। जब नील का गोरा रंग उनके आड़े आया था। नील को अमेरिका में नस्लीय भेदभाव का शिकार होना पड़ा था। नील और कटरीना कैफ अमेरिका में फिल्म 'न्यूयॉर्क' की शूटिंग के लिए गए थे। इस दौरान उन्हें यहां एयरपोर्ट पर रोक लिया गया। इस दौरान नील को लेकर को कहा गया था कि यह भारतीय नहीं लगते क्योंकि वह देखने के काफी गोरे लग रहे थे। इसके बाद नील का नाम गूगल पर सर्च किया गया तब कहीं जाकर पुलिस कर्मियों को यकीन हुआ कि वह बॉलीवुड अभिनेता और उन्हें एंट्री करने दी।

नवाजुद्दीन सिद्दकी : करियर की शुरुआती दौर में नवाज़ को अपने लुक्स और कलर के चलते रोल्स मिलने में काफी परेशानी होती थी। नवाजुद्दीन ये बता भी चुके हैं कि कि एक्टिंग इंस्टीट्यूट से ट्रेनिंग और प्रोफेशनल एक्टर होने के बाद भी उन्हें अपने रंग के चलते कई रोल्स से हाथ धोना पड़ा था।

इमरान ख़ान :  अमेरिका के एक एयरपोर्ट पर उनसे कई घंटो तक पूछताछ की गई थी, क्योंकि उनके नाम में खान लगा हुआ था