This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

किसने क्या कहा

  • अरुण जेटली(भाजपा)

    प्रधानमंत्री की जाति कैसे प्रासंगिक है? उन्होंने कभी जाति की राजनीति नहीं की। उन्होंने केवल विकासात्मक राजनीति की है। वह राष्ट्रवाद से प्रेरित हैं। जो लोग जाति के नाम पर गरीबों को धोखा दे रहे हैं वे सफल नहीं होंगे। ऐसे लोग जाति की राजनीति के नाम पर केवल दौलत बटोरना चाहते हैं। बीएसपी या आरजेडी के प्रमुख परिवारों की तुलना में प्रधानमंत्री की संपत्ति 0.01 फीसद भी नहीं है।

    अन्य बयान
  • दिग्विजय सिंह(कांग्रेस)

    मैं सदैव देशहित, राष्ट्रीय एकता और अखंडता की बात करने वालों के साथ रहा हूं। मैं धार्मिक उन्माद फैलाने वालों के हमेशा खिलाफ रहा हूं। मुझे गर्व है कि मुख्यमंत्री रहते हुए मुझ में सिमी और बजरंग दल दोनों को बैन करने की सिफारिश करने का साहस था। मेरे लिए देश सर्वोपरि है, ओछी राजनीति नहीं।

    अन्य बयान
  • राहुल गांधी(कांग्रेस)

    हमारे किसान हमारी शक्ति और हमारा गौरव हैं। पिछले पांच साल में मोदी जी और भाजपा ने उन्हें बोझ की तरह समझा और व्यवहार किया। भारत का किसान अब जाग रहा है और वह न्याय चाहता है

    अन्य बयान
  • नरेंद्र मोदी(भाजपा)

    आज भारत दुनिया में तेजी से अपनी जगह बना रहा है, लेकिन कांग्रेस, डीएमके और उनके महामिलावटी दोस्त इसे स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं। इसलिए वे मुझसे नाराज हैं

    अन्य बयान
  • राबड़ी देवी(राजद)

    जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर लालू जी से मिलने उनके और तेजस्वी यादव के आवास पर पांच बार आए थे। नीतीश कुमार ने वापस आने की इच्छा जताई थी और साथ ही कहा था कि तेजस्वी को वो 2020 के विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं और इसके लिए 2019 के लोकसभा चुनाव में लालू उन्हें पीएम पद का उम्मीदवार घोषित कर दें।

    अन्य बयान
  • साक्षी महाराज(भाजपा)

    मैं एक संत हूं और वोट मांगने आए हूं। एक वोट का दान कई कन्यादान के बराबर होता है। संन्यासी लोगों का भला करते हैं। मैं आपसे घर, खेती या अन्य चीज दान में नहीं मांग रहा, सिर्फ आपका वोट मांग रहा हूं। संत की मांग जो पूरी नहीं करता वह उसके किए गए पुण्य ले जाता है।

    अन्य बयान
  • राजनाथ सिंह(भाजपा)

    अगर हमारी सरकार सत्ता में दोबारा आती है, तो हम देशद्रोह कानून को और ज्यादा सख्त करेंगे। अगर जम्मू-कश्मीर के लिए अलग पीएम की मांग की जाती रही तो हमारे पास अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है।

    अन्य बयान
  • राहुल गांधी(कांग्रेस)

    लोकसभा 2019 का चुनाव देश की दो विचारधाराओं की लड़ाई है। कांग्रेस कहती है कि देश की सभी विचारधारा, अवसर, भाषा, इतिहास, संस्कृति सब हंसी-खुशी से साथ रहें। सबको अपनी बात रखने का हक है। लेकिन संघ और बीजेपी चाहती है कि देश में एक ही विचारधारा का राज कायम रहे।

    अन्य बयान
  • डॉ. दिनेश शर्मा(भाजपा)

    सपा-बसपा गठबंधन से भाजपा का कोई नुकसान नहीं होने वाला। मोदी-योगी की आइडियल कॉम्बिनेशन वाली डबल इंजन सरकार की वजह से ही विपक्ष एकजुट होने को मजबूर हुआ। एक शिक्षक की तरह वह महागठबंधन को पारिभाषित भी करते हैं कि 'महा' हुआ नहीं, 'गठ' में गांठ है और 'बंधन' टूट जाएगा।

    अन्य बयान
  • चंद्रबाबू नायडू(टीडीपी)

    के चंद्र शेखर राव गुंडागर्दी की राजनीति कर रहे हैं। वो कांग्रेस और टीडीपी के विधायकों को तोड़ रहे हैं। वहीं, बिहारी डकैत प्रशांत किशोर ने आंध्रप्रदेश के लाखों लोगों के वोट कटवा दिए हैं।

    अन्य बयान
  • प्रशांत किशोर(जद [यू])

    एक तयशुदा हार सबसे अनुभवी राजनेता को भी विचिलत कर सकती है। इसीलिए मैं उनके निराधार बयानों से हैरान नहीं हूं। श्रीमान जी, अपमानजनक भाषा, जो कि बिहार के प्रति आपके पूर्वाग्रह और द्वेष को दिखाती है का प्रयोग करने की बजाए इस बात पर ध्यान दें कि लोग आपको दोबारा वोट क्यों नहीं देंगे?

    अन्य बयान
  • अनिल विज(भाजपा)

    हमने अपने नाम के साथ #चौकीदार लिखा, तुम्हें तकलीफ हो रही है। तुम भी अपने नाम के आगे #पप्‍पू लिख लो, हम बिल्कुल भी एतराज नहीं करेंगे।

    अन्य बयान
  • प्रियंका गांधी वाड्रा(कांग्रेस)

    उन्होंने 70 साल में क्या किया? इस तर्क का अब कोई औचित्य नहीं है। अब उन्हें (भाजपा) बताना चाहिए कि उन्होंने सत्ता में रहते हुए अपने पांच साल में क्या किया है।

    अन्य बयान
  • प्रियंका गांधी वाड्रा(कांग्रेस)

    चौकीदार अमीरों का होता है, गरीबों का नहीं।

    अन्य बयान
  • अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष(भाजपा)

    'जब सपा-बसपा की सरकारें थीं तो यहां निज़ाम चलता था। दोनों ने मिलकर यहां आतंकवाद का कॉरिडोर बनाया। लेकिन योगी की सरकार आते ही हमने इनके इस कॉरिडोर को उखाड़ फेंकने का काम किया'

    अन्य बयान
  • ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री(टीएमसी)

    'केंद्र सरकार सभी एजेंसियों को अपने नियंत्रण में रखना चाहती है। राज्य की एजेंसियों पर न केवल नियंत्रण स्थापित करने की कोशिश की जा रही है, बल्कि उन्हें डराया भी जा रहा है। पीएम मोदी अपने पद से आप इस्तीफा दीजिए और गुजरात जाइए'

    अन्य बयान
  • तेजस्वी यादव, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता(राजद)

    'मुजफ्फरपुर शेल्टर केस में तबादले पर सुप्रीम कोर्ट ने भी सीबीआई अधिकारियों को फटकार लगाई है। इससे लगता है कि नीतीश कुमार ने पूरे मामले को तोड़ने-मरोड़ने की कोशिश की'

    अन्य बयान
  • निर्मला सीतारमण, रक्षा मंत्री(भाजपा)

    'राफेल मुद्दा गड़े मुर्दे उखाड़ने जैसा है, इस रिपोर्ट को छापने वाले अखबार को उस समय के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर का जवाब भी छापना चाहिए'

    अन्य बयान
  • योगी आदित्यनाथ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री(भाजपा)

    'राममंदिर बिल्कुल उसी जगह बनेगा, जहां भगवान का जन्म होना माना जाता है। आने वाले समय में उत्तर प्रदेश में काफी कुछ होने वाला है'

    अन्य बयान
  • गिरिराज सिंह, बीजेपी वरिष्ठ नेता(अन्य)

    'ममता ने पूरे बंगाल को तबाह करके रख दिया है। जो उनके खिलाफ बोलता है, उनकी हत्या कर दी जाती है। जो रोहिंग्या और बांग्लादेशी घुसपैठियों को समर्थन दे, वह झांसी की रानी और पद्मावती नहीं हो सकती है। ममता देश को तोड़ने का काम कर रही हैं'

    अन्य बयान
  • अरुण जेटली, वित्त मंत्री(अन्य)

    'दुर्भाग्य की बात है कि कांग्रेस और राहुल गांधी ट्रिपल तलाक के लंबित बिल को सरकार बनने पर वापस लाने की बात कर रही है। इतिहास खुद को दोहरा रहा है'

    अन्य बयान
  • नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री(भाजपा)

    'महामिलावट में एंट्री का एक ही क्राइटीरिया है, मोदी को ज्यादा गाली दे पाते हो तो एंट्री हो सकती है। आपस में होड़ लगी है कि कौन मोदी को ज्यादा से ज्यादा गाली देकर अपने नंबर बढ़ा ले'

    अन्य बयान
  • अखिलेश यादव, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री(अन्य)

    'उत्तर प्रदेश में जहरीली मौतों की जिम्मेदार योगी सरकार है। सरकार ने शराब पर गो कल्याण टैक्स लगाया है। लोगों को लगता है कि शराब ज्यादा पिएंगे तो गायों की सेवा अच्छी होगी। उन्हें यह नहीं पता कि शराब कौन सी पीनी है'

    अन्य बयान
  • मायावती, बीएसपी प्रमुख(बसपा)

    'केवल संगम स्नान से सरकारों के पाप नहीं धुल सकते। जनता बहुत होशियार है और सब जानती-समझती है'

    अन्य बयान
राज्य चुनें
  • उत्तर प्रदेश
  • पंजाब
  • दिल्ली
  • बिहार
  • उत्तराखंड
  • हरियाणा
  • मध्य प्रदेश
  • झारखण्ड
  • राजस्थान
  • जम्मू-कश्मीर
  • हिमाचल प्रदेश
  • छत्तीसगढ़
  • पश्चिम बंगाल
  • ओडिशा
  • महाराष्ट्र
  • गुजरात
आपका राज्य