कांग्रेस सरकार पर शिवराज ने ली चुटकी, बोले - विभाग तो सीएम को बांटने दो

विदिशा के छीरखेड़ा स्थित अपने फार्म हाउस का जायजा लेने आए थे पूर्व मुख्यमंत्री।

Hemant UpadhyayPublish: Thu, 27 Dec 2018 07:45 PM (IST)Updated: Thu, 27 Dec 2018 07:45 PM (IST)
कांग्रेस सरकार पर शिवराज ने ली चुटकी, बोले - विभाग तो सीएम को बांटने दो

विदिशा। प्रदेश में कांग्रेस मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर चल रही खींचातान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुटकी लेते हुए कहा कि गुटबाजी के बीच मंत्रिमंडल का गठन तो हो गया। किस गुट के कितने मंत्री बने, यह भी तय हो गया, लेकिन अब विभागों का बंटवारा तो सीएम की इच्छा के अनुरूप करने देना चाहिए, क्योंकि यह सीएम का विशेषाधिकार होता है।

गुरुवार की दोपहर ग्राम छीरखेड़ा स्थित अपने फार्म हाउस पर आए पूर्व सीएम चौहान प्रेस से चर्चा कर रहे थे। विभागों के बंटवारे के सवाल पर पहले उन्होंने हंसते हुए कहा कि मैं दूसरों के काम मे टांग क्यों अड़ाऊं। फिर उन्होंने कहा कि मेरी चिंता प्रदेश को लेकर है। कांग्रेस ने मंत्रिमंडल का गठन कर लिया।

अब विभागों का बंटवारा भी समय पर हो जाना चाहिए। गुटबाजी के आधार पर सबके लोग मंत्री बन गए, लेकिन अब विभागों के लिए मारामारी ठीक नहीं है। कांग्रेस नेता अपने मंत्रियों के लिए मनपसंद विभाग क्यों चाह रहे हैं। काम करना है तो किसी भी विभाग में बेहतर काम किया जा सकता है, लेकिन पसंद के विभाग के लिए दबाव बनाना शुभ लक्षण नहीं है।

टाइगर जिंदा है पर दी सफाई

चौहान ने अपने 'टाइगर जिंदा है" वाले बयान पर सफाई देते हुए कहा कि चुनाव परिणाम के बाद वे जब लोगों के बीच पहुंचे तो लोगों का कहना था अब क्या होगा। जिस पर मैंने कहा था मैं हूं ना। कोई गड़बड़ नहीं होने दूंगा। 'टाइगर जिंदा है" कहने के पीछे मेरा भाव था कि प्रदेश सरकार से मैं सकारात्मक सहयोग की अपेक्षा रखता हूं। यदि गड़बड़ की तो जबरदस्त विरोध किया जाएगा।

बेटे के साथ लिया खेत का जायजा

पूर्व सीएम चौहान दोपहर करीब 3 बजे बड़े बेटे कार्तिकेय के साथ फार्महाउस पहुंचे। करीब एक घंटे तक खेत का जायजा लिया। दूध डेयरी की जानकारी ली। इस दौरान पास के गांव के ग्रामीण भी वहां पहुंच गए। चौहान इन सभी किसानों से गले लगकर मिले। कुछ ग्रामीणों ने उनके साथ सेल्फी भी ली। करीब चार बजे चौहान सड़क मार्ग से भोपाल के लिए रवाना हुए। 

Edited By Hemant Upadhyay

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept