पीएम मोदी 35 बार असम आए, 10 साल में 10 बार भी नहीं आए मनमोहन- जेपी नड्डा का कांग्रेस पर हमला

असम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 35 बार असम का दौरा किया जबकि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह 10 वर्षों में 10 बार भी यहां नहीं आ सके।

TaniskPublish: Sat, 03 Apr 2021 12:46 PM (IST)Updated: Sat, 03 Apr 2021 12:46 PM (IST)
पीएम मोदी 35 बार असम आए, 10 साल में 10 बार भी नहीं आए मनमोहन-  जेपी नड्डा का कांग्रेस पर हमला

गुवाहाटी, एएनआइ। असम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 35 बार असम का दौरा किया, जबकि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह 10 वर्षों में 10 बार भी यहां नहीं आ सके। समाचार एजेंसी एएनआइ से बात करते हुए, नड्डा ने यह भी कहा कि पीएम मोदी के शासन में असम के पहचान भूपेन हजारिका को प्रतिष्ठित भारत रत्न से सम्मानित किया गया। असम के विकास के बारे में नड्डा ने कहा कि विकास के लिए हमने बोगीबिल ब्रिज को पूरा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 35 बार असम आए, जबकि मनमोहन सिंह जी 10 साल में 10 बार भी राज्य में नहीं आए।

नड्डा ने आगे कहा कि गैस पर 8,000 करोड़ रुपये की रॉयल्टी पीएम मोदी ने दी। मनमोहन सिंह जी ऐसा क्यों नहीं कर पाए? मोदीजी के नेतृत्व में सड़क, राजमार्ग और पुल जैसे बुनियादी ढांचे का काम चल रहा है। यहां एम्स की स्थापना की जा रही है और इसके लिए 1100 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए जा रहे हैं। पिछले पांच वर्षों में असम को छह मेडिकल कॉलेज दिए गए हैं। पिछले पांच वर्षों में असम को छह सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक दिए गए हैं। यह इस राज्य के विकास का एक नया तरीका है। अन्य विकास कार्यों के बारे में आगे बात करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत राज्य में लगभग 59 लाख शौचालय बनाए गए हैं। हम किसी का धर्म नहीं पूछते हैं। हम सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास में विश्वास रखते हैं। आयुष्मान भारत में  रैगपिकर्स, नौकरानी, नौकर, रिक्शा चालक और गरीब लोगों को फायदा हुआ है।

जेपी नड्डा ने आगे कहा कि हमने असम में तीन बिंदुओं- सुरक्षा, विकास और संस्कृति के संरक्षण पर चुनाव लड़ा है। अगर हम संस्कृति की बात करें तो गोपीनाथ बोरदोलोई को अटल बिहारी वाजपेयी जी ने भारत रत्न दिया था और इसने असम का गौरव बढ़ाया है। भूपेन हजारिका को भारत रत्न  कांग्रेस ने नहीं बल्कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी ने दिया था। बता दें कि 27 मार्च और 1 अप्रैल को हुए विधानसभा चुनाव के पहले दो चरणों में 76 और 75 फीसदी मतदान हुआ। तीसरे और अंतिम चरण का मतदान 6 अप्रैल को होगा। नतीजे दो मई को आएंगे।

 

Edited By Tanisk

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept