पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया- 20 जनवरी से 15 फरवरी तक दिल्ली के आसमान में क्या-क्या रहेगा प्रतिबंधित

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली में 20 जनवरी से 15 फरवरी तक पैरा-ग्लाइडर पैरा-मोटर मानव रहित हवाई वाहन मानव रहित विमान प्रणाली सूक्ष्म-प्रकाश विमान दूर से चलने वाले विमान छोटे आकार के विमान क्वाडकॉप्टर पैरा-जंपिंग आदि का उपयोग प्रतिबंधित है।

Vinay Kumar TiwariPublish: Tue, 18 Jan 2022 03:50 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 03:50 PM (IST)
पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया- 20 जनवरी से 15 फरवरी तक दिल्ली के आसमान में क्या-क्या रहेगा प्रतिबंधित

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया कि आगामी 26 जनवरी को लेकर तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। पुलिस की सभी टीमें 26 जनवरी को ध्यान में रखते हुए हर तरह से तैयार हैं और सुरक्षा पर विशेष जोर दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गणतंत्र दिवस की परेड को सकुशल संपन्न कराने के लिए कुछ प्रतिबंध भी लागू किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली में 20 जनवरी से 15 फरवरी तक पैरा-ग्लाइडर (para-gliders,), पैरा-मोटर (para-motors), मानव रहित हवाई वाहन (unmanned aerial vehicles), मानव रहित विमान प्रणाली (unmanned aircraft systems), सूक्ष्म-प्रकाश विमान (micro-light aircraft), दूर से चलने वाले विमान (remotely piloted aircraft), छोटे आकार के विमान (small size powered aircraft), क्वाडकॉप्टर (quadcopters), पैरा-जंपिंग (para-jumping) आदि का उपयोग प्रतिबंधित है।

दरअसल कुछ दिन पहले गाजीपुर फूलमंडी के गेट पर मिले विस्फोटक से दिल्ली पुलिस के अधिकारी और भी सतर्क हो गए हैं। इससे पहले सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकी हमले का इनपुट दिया था, उसके बाद आरडीएक्स मिलने से पुलिस सकते में है। दरअसल कुछ दिन पहले गाजीपुर फूलमंडी के गेट पर मिले विस्फोटक से दिल्ली पुलिस के अधिकारी और भी सतर्क हो गए हैं। इससे पहले सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकी हमले का इनपुट दिया था, उसके बाद आरडीएक्स मिलने से पुलिस सकते में है।

एक जानकारी ये भी है कि इस साल कोविड-19 के कारण गणतंत्र दिवस पर मध्य एशियाई देशों से कोई विदेशी मुख्य अतिथि नहीं होगा। सरकार ने पांच मध्य एशियाई देशों के राष्ट्राध्यक्षों को निमंत्रण भेजा था लेकिन अब योजनाओं को रद कर दिया गया है।

रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस साल कोविड-19 के प्रतिबंधों के कारण मेहमानों की संख्या में काफी कमी की जाएगी। अधिक से अधिक 5000 से 8000 लोगों की रेंज रखी जा रही है मगर अभी तक इसे अंतिम रूप नहीं दिया गया है। जबकि पिछले साल 25,000 दर्शकों को इसमें बुलाया गया था।

Edited By Vinay Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम