This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Rinku Sharma Murder Case: क्राइम ब्रांच करेगी बजरंग दल के कार्यकर्ता की हत्या की जांच

Rinku Sharma Murder Case पुलिस अधिकारियों का कहना था कि मामले में ताजुद्दीन की भूमिका की जांच की जा रही है। वह पुलिस का मुखबिर भी था। वह स्थानीय पुलिस कर्मियों की मदद से इलाके में चल रहे अवैध गतिविधियों को भी संरक्षण देता है।

Jp YadavSat, 13 Feb 2021 03:14 PM (IST)
Rinku Sharma Murder Case: क्राइम ब्रांच करेगी बजरंग दल के कार्यकर्ता की हत्या की जांच

नई दिल्ली [राकेश कुमार सिंह]।  Rinku Sharma Murder Case: मंगोलपुरी इलाके में बजरंग दल के कार्यकर्ता रिंकू की हत्या मामले  की जांच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने शुरू भी कर दी है। शनिवार दोपहर में क्राइम ब्रांच FSL की टीम के साथ रिंकू शर्मा के घर पहुंची है।

वहीं, इससे पहले शुक्रवार को पुलिस ने पांचवें आरोपित ताजुद्दीन को भी गिरफ्तार कर लिया। ताजुद्दीन होमगार्ड है और मंगोलपुरी थाने में ही उसकी तैनाती थी। इस मामले में पुलिस गुरुवार को जाहिद, मेहताब, दानिश और इस्लाम को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।ताजुद्दीन का नाम पीड़ित स्वजन व प्रत्यक्षदर्शी शुरू से ही ले रहे थे और उसे ही अन्य आरोपितों का संरक्षक बता रहे थे। वारदात के समय वह मौके पर भी मौजूद था और आरोपित जब अस्पताल में पहुंचकर  रिंकू के स्वजन के साथ मारपीट कर रहे थे तो वह वहां भी मौजूद था। हालांकि पुलिस ने उसे गुरुवार को ही हिरासत में ले लिया था, लेकिन पहले पकडे़ गए चार आरोपितों के साथ उसकी गिरफ्तारी नहीं दिखा रही थी।

पुलिस अधिकारियों का कहना था कि मामले में ताजुद्दीन की भूमिका की जांच की जा रही है। वह पुलिस का मुखबिर भी था। वह स्थानीय पुलिस कर्मियों की मदद से इलाके में चल रहे अवैध गतिविधियों को भी संरक्षण देता है। इसलिए पुलिस उसे बचाने में लगी है। ऐसे में गुरुवार को उसकी गिरफ्तारी नहीं होने पर  रिंकू के स्वजन से लेकर  हिंदूवादी संगठनों ने सवाल उठाने शुरू कर दिए थे। ऐसे में यह माना जा रहा है कि इसी दबाव में पुलिस को आखिरकार उसे गिरफ्तार करना पड़ा है। हालांकि पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जांच में उसकी भूमिका पाए जाने पर उसे गिरफ्तार किया गया है।

वहीं, रिंकू हत्याकांड की जांच में जिस तरह के तथ्य पुलिस ने उजागर किए थे, उससे रिंकू के स्वजन संतुष्ट नहीं थी। पुलिस की ओर से इस हत्याकांड को जन्मदिन पार्टी में विवाद होना बताया जा रहा है। इसके साथ ही पुलिस ने मामले में कुल पांच आरोपितों के शामिल होने की बात कह रही है, वहीं स्वजन का कहना है कि आरोपित पांच नहीं बल्कि 15 से अधिक थे। इनमें महिलाएं भी शामिल थीं। सभी आरोपित एक ही परिवार से जुड़े हैं और पास ही अलग-अलग मकान में रह रहे हैं। 

Edited By: Jp Yadav

नई दिल्ली में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!