अश्लील वीडियो वायरल करने का डर दिखाकर युवतियों से वसूली करने वाला गिरफ्तार

शादी का झांसा देकर वीडियो काल पर युवतियों की अश्लील वीडियो बनाने और उनको ब्लैकमेल करके रुपये ऐंठने वाले युवक को शाहदरा जिले की साइबर थाना पुलिस ने दबोचा लिया है। आरोपित की पहचान उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में शास्त्र नगर निवासी साहिल सचदेवा के रूप में हुई है।

Ashish GuptaPublish: Sat, 22 Jan 2022 08:46 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 08:46 PM (IST)
अश्लील वीडियो वायरल करने का डर दिखाकर युवतियों से वसूली करने वाला गिरफ्तार

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। शादी का झांसा देकर वीडियो काल पर युवतियों की अश्लील वीडियो बनाने और उनको ब्लैकमेल करके रुपये ऐंठने वाले युवक को शाहदरा जिले की साइबर थाना पुलिस ने दबोचा लिया है। आरोपित की पहचान उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में शास्त्र नगर निवासी साहिल सचदेवा के रूप में हुई है। इसके कब्जे से एक आइफोन बरामद हुआ है, जिसमें युवतियों की अश्लील तस्वीरें व वीडियो हैं। आरोपित बीटेक और एमबीए डिग्री धारक है, लेकिन कोई रोजगार नहीं करता। वह दिल्ली, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों की युवतियों से इस तरह से वसूली कर चुका है। पुलिस उससे गहन पूछताछ कर रही है।

शाहदरा जिला पुलिस उपायुक्त आर सत्यसुंदरम ने बताया कि पिछले साल अक्टूबर में साइबर थाने में एक युवती ने ब्लैकमेल कर ठगी की शिकायत दर्ज करवाई थी। पीड़िता ने बताया था कि बेटर हाफ डाट काम मैट्रिमोनियल वेबसाइट के जरिये उनकी पहचान साहिल सचदेवा नामक युवक से हुई थी। युवक ने खुद को बीटेक व एमबीए डिग्री धाकर बताया था। धीरे-धीरे दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई। फिर वीडियो काल पर बात होने लगी। वीडियो काल के दौरान शादी का झांसा देकर युवक ने उनका अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसने दो लाख रुपये ऐंठ लिए। इसके बाद भी उसकी रुपयों की मांग जारी है। युवती की शिकायत दर्ज करने के बाद शाहदरा साइबर थाना पुलिस ने जांच शुरू की। पुलिस ने पाया कि युवती ने यूपीआइ के माध्यम से आरोपित युवक को भुगतान किया है। इस पर पुलिस ने तकनीकी सर्विलांस और यूपीआइ से जुड़े आरोपित के खातों की जांच की।

जांच के दौरान आरोपित अपनी लोकेशन बदल रहा था। लंबे वक्त तक नजर रखने के बाद पुलिस ने शुक्रवार को आरोपित साहिल सचदेवा को दिल्ली के नेब सराय इलाके से दबोच लिया। छानबीन के दौरान को आरोपित एक आइफोन-11 मोबाइल मिला, जिससे वह वीडियो बनाता था। पूछताछ के दौरान आरोपित ने बताया कि वह बेरोजगार था। उसकी अभी शादी भी नहीं हुई थी। उसने भी खुद को मैट्रिमोनियल वेबसाइट पर पंजीकृत कराया हुआ था। उसका प्रोफाइल अच्छा होने के कारण युवतियां आसानी से उसके जाल में फंस जाती थीं। साथ ही यह भी बताया कि उसने उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद, दिल्ली के जनकपुरी और मध्य प्रदेश के भोपाल समेत कई शहरों की युवतियों से इसी तरह से रुपये वसूले हैं।

Edited By: Mangal Yadav

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept