This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

आदेश गुप्ता ने केजरीवाल सरकार पर किया बड़ा हमला, कहा- किसी काम के नहीं हैं मोहल्ला क्लीनिक

दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसका खूब प्रचार किया था। आज महामारी के दौर में सभी मोहल्ला क्लीनिक बंद हैं सिर्फ मुख्यमंत्री के पोस्टर लगाने के काम में आ रहे हैं।

Prateek KumarFri, 28 May 2021 08:24 PM (IST)
आदेश गुप्ता ने केजरीवाल सरकार पर किया बड़ा हमला, कहा- किसी काम के नहीं हैं मोहल्ला क्लीनिक

नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। भाजपा ने दिल्ली सरकार के मोहल्ला क्लीनिक पर सवाल खड़े किए हैं। उसका कहना है कि कई सौ करोड़ रुपये खर्च कर तैयार किए गए मोहल्ला क्लीनिक किसी काम के नहीं हैं। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसका खूब प्रचार किया था। आज महामारी के दौर में सभी मोहल्ला क्लीनिक बंद हैं, सिर्फ मुख्यमंत्री के पोस्टर लगाने के काम में आ रहे हैं। केजरीवाल सरकार को बताना चाहिए कि मोहल्ला क्लीनिक के डाक्टरों को होम आइसोलेशन में रहने वालों को फोन पर परामर्श देने के काम में क्यों नहीं लगाया गया?  प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि यदि मोहल्ला क्लीनिक में जांच करके यह बता दिया जाए कि किसे अस्पताल में भेजना है और किसे होम आइसोलेशन में रहना है तो मरीजों की परेशानी कम हो सकती है।

इसके निर्माण व इसे चलाने में हुआ है भ्रष्टाचार, सीबीआइ से जांच की जरूरतः रामवीर सिंह बिधूड़ी

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक के नाम पर कई सौ करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार हुआ है जिसकी सीबीआइ जांच होनी चाहिए। इंद्रपुरी, आजादपुर, निहाल विहार सहित कई स्थानों पर तो एक ही पते पर दो-दो मोहल्ला क्लीनिक चल रहे हैं। इंद्रपुरी में, आजादपुर में, निहाल विहार में। मरीजों की जांच और दवा के नाम पर भी भ्रष्टाचार। आप कार्यकर्ताओं के मकान का ज्यादा किराया देकर उनमें मोहल्ला क्लीनिक खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कहते हैं कि कुल 496 मोहल्ला क्लीनिक हैं जबकि आरटीआइ में इनकी संख्या 504 बताई जाती है। इसके ठीक विपरीत स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन 450 मोहल्ला क्लीनिक चलने की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि पोर्टा केबिन में सिर्फ 359 मोहल्ला क्लीनिक बनाए गए हैं और इनके ऊपर 1600 करोड़ रुपये खर्च कर दिए गए।

कोरोना महामारी में खुल गई दिल्ली सरकार की विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सुविधा की पोल- मनोज तिवारी

पूर्व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष एवं पूर्वी दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि कोरोना महामारी से दिल्ली सरकार की तथाकथित विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधाओं की पोल खुल गई है। इस महामारी में जांच व टीकाकरण सबसे प्रमुख कदम है। केजरीवाल सरकार के विश्व स्तरीय मोहल्ला क्लीनिक में यह काम भी नहीं हो सकता है। सरकार को जांच व टीकाकरण के लिए अलग से केंद्र खोलने पड़े हैं। हाइकोर्ट ने भी इस पर एतराज जताते हुए कहा है कि अगर दिल्ली सरकार ने कोई जगह तैयार की और उसका ऐसी महामारी के दौरान इस्तेमाल तक नहीं हो सकता तो उसका क्या फायदा है?

नई दिल्ली में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!